भोपाल में PM मोदी ने पुनर्विकसित रानी कमलापति रेलवे स्टेशन का किया लोकार्पण
PM मोदी ने पुनर्विकसित रानी कमलापति रेलवे स्टेशन का किया लोकार्पणPriyanka Sahu -RE

भोपाल में PM मोदी ने पुनर्विकसित रानी कमलापति रेलवे स्टेशन का किया लोकार्पण

भोपाल में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पुनर्विकसित रानी कमलापति रेलवे स्टेशन का लोकार्पण किया और कहा- गिन्नौरगढ़ की रानी कमलापति का नाम जुड़ने से इस रेलवे स्टेशन का महत्व और भी बढ़ गया है।

भोपाल, मध्‍य प्रदेश। एमपी की राजधानी भोपाल में आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पुनर्विकसित रानी कमलापति रेलवे स्टेशन का लोकार्पण किया। इस दौरान PM मोदी ने रेलवे स्टेशन के लोकार्पण से पहले एमपी के गवर्नर श्री मंगुभाई पटेल जी, मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान जी, रेल मंत्री श्री अश्विनी वैष्णव व अन्य हस्तियों के साथ भोपाल में नए तरह से बनाए गए 'कमलापति रेलवे स्टेशन' का अवलोकन किया।

इस रेलवे स्टेशन का महत्व और भी बढ़ गया :

भोपाल में पुनर्विकसित रानी कमलापति रेलवे स्टेशन का राष्ट्र को समर्पण के बाद PM मोदी ने अपने संबोधन में कहा- आज का दिन भोपाल ही नहीं, वल्कि मध्य प्रदेश और देश के लिए महत्त्व का दिन है। यह हमारे अतीत और भविष्य के संगम का दिन है। गिन्नौरगढ़ की रानी कमलापति का नाम जुड़ने से इस रेलवे स्टेशन का महत्व और भी बढ़ गया है। आज यहां जिन रेल लाइनों के दोहरीकरण और विद्युतीकरण का लोकार्पण हुआ है, उससे रेल के परिचालन में ज्यादा सुगमता आएगी। महाकाल की नगरी और स्वच्छता में शीर्ष इंदौर शहर के बीच में चलने से लोगों को बड़ी सुविधा मिलेगी।

भारत किस तरह से बदल रहा है और विकास कर रहा है, इसे देखना हो तो रेलवे एक अच्छा उदाहरण है। आप याद कीजिए कुछ वर्षों पूर्व भारत में रेल की यात्रा कैसी होती थी। अब रेलवे आधुनिक युग में प्रवेश कर रहा है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी

देश का पहला पीपीपी मॉडल आधारित रेलवे स्टेशन देश को समर्पित :

PM मोदी ने बताया- स्टेशन और ट्रेनों में गंदगी, यात्रा की सुरक्षा का भरोसा नहीं था, सुविधाएं भी नदारत थीं। लोगों ने मान लिया था कि इसमें कोई सुधार नहीं होगा, लेकिन अब परिवर्तन और सुधार का दौर है, रेलवे नए। युग में प्रवेश कर रहा है। आज रानी कमलापति रेलवे स्टेशन के रूप में देश का पहला ISO सर्टिफाइड, देश का पहला पीपीपी मॉडल आधारित रेलवे स्टेशन देश को समर्पित किया गया है। जो सुविधाएं कभी एयरपोर्ट में मिला करती थीं, वो आज रेलवे स्टेशन में मिल रही हैं।

भोपाल में PM मोदी के भाषण की प्रमुख बातें-

  • आज का भारत, आधुनिक इंफ्रास्ट्रक्चर के निर्माण के लिए रिकॉर्ड Investment तो कर ही रहा है, ये भी सुनिश्चित कर रहा है कि प्रोजेक्ट्स में देरी ना हो। हाल में शुरू हुआ, पीएम गतिशक्ति नेशनल मास्टर प्लान, इसी संकल्प की सिद्धि में देश की मदद करेगा।

  • रेलवे स्टेशन के पूरे ईको सिस्टम को इसी प्रकार ट्रांसफार्म करने के लिए आज देश के 175 से अधिक रेलवे स्टेशनों का कायाकल्प किया जा रहा है। आत्मनिर्भर भारत के संकल्प के साथ आज भारत आने वाले वर्षों के लिए खुद को तैयार कर रहा है, बड़े लक्ष्यों पर काम कर रहा है।

  • जब हम मास्टर प्लान को आधार बनाकर चलेंगे तो देश के संसाधनों का भी सही उपयोग होगा। पीएम गतिशक्ति नेशनल मास्टर प्लान के तहत सरकार अलग अलग मंत्रालयों को एक प्लेटफॉर्म पर ला रही है।

  • बीते 7 वर्षों में हर वर्ष औसतन 2,500 किमी ट्रैक कमीशन किया गया है। जबकि उससे पहले के वर्षों में ये 1,500 किमी के आस-पास ही होता था। पहले की तुलना में इन वर्षों में रेलवे ट्रैक के बिजलीकरण की रफ्तार पांच गुना से अधिक हुई है।

  • पहले रेलवे को टूरिज्म के लिए अगर उपयोग किया भी गया, तो उसको एक प्रीमियम क्लब तक ही सीमित रखा गया। पहली बार सामान्य मानवी को उचित राशि पर पर्यटन और तीर्थाटन का दिव्य अनुभव दिया जा रहा है। रामायण सर्किट ट्रेन ऐसा ही एक अभिनव प्रयास है।

  • रेलवे इंफ्रास्ट्रक्चर का लाभ किसानों को, विद्यार्थियों को, व्यापारियों और उद्यमियों को होता है। आज हम देखते हैं कि किस तरह किसान रेल के माध्यम से देश के कोने-कोने के किसान दूर दराज तक अपनी उपज भेज पा रहे हैं।

  • रेलवे द्वारा किसानों को माल ढुलाई में बहुत छूट भी दी जा रही है। इसका बहुत बड़ा लाभ देश के छोटे किसानों को भी हो रहा है। उन्हें नए बाजार मिले हैं, उन्हें नया सामर्थ्य मिला है।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.
Top Hindi News Bhopal,Trending, Latest viral news,Breaking News - Raj Express
www.rajexpress.co