Bhopal : अपराधों की रोकथाम के लिए पुलिस को अपनाने होंगे अधुनिक तौर-तारीके

अपराधियों ने अपराध करने के तौर-तारीके बदल लिए हैं, मौजूदा समय में आधुनिक तारीकों से अपराध किए जा रहे हैं। इस तरह के अपराधों की रोकथाम के लिए पुलिस को भी आधुनिक तौर-तारीके अपनाने होंगे।
Bhopal : अपराधों की रोकथाम के लिए पुलिस को अपनाने होंगे अधुनिक तौर-तारीके
CIIS की दस दिवसीय अंतरराष्ट्रीय समिट का वर्चुअली शुभारंभ कियाSocial Media

भोपाल, मध्यप्रदेश। अपराधियों ने अपराध करने के तौर-तारीके बदल लिए हैं, मौजूदा समय में आधुनिक तारीकों से अपराध किए जा रहे हैं। इस तरह के अपराधों की रोकथाम के लिए पुलिस को भी आधुनिक तौर-तारीके अपनाने होंगे। साइबर क्राइम एन्वेस्टीगेशन एंड इंटेलिजेंस समिट 2021 में पुलिस अधिकारियों की आपसी चर्चा से नई तकनीकों की जानकारी बढ़ेगी। यह बात मंगलवार को पुलिस अकादमी भौरी में आयोजित 10 दिवासीय साइबर क्राइम एन्वेस्टीगेशन एंड इंटेलिजेंस समिट के शुभारंभ कार्यक्रम में गृहमंत्री डॉ.नरोत्तम मिश्रा ने कही। गृहमंत्री डॉ. मिश्रा ने समिट का वर्चुअल शुभांरभ किया।

साइबर क्राइम एन्वेस्टीगेशन एंड इंटेलिजेंस समिट के शुभारंभ सत्र में मध्यप्रदेश के डीजीपी विवेक जोहरी, पूर्व सीबीआई निदेशक ऋषि कुमार शुक्ला, स्पेशल डीजी ट्रेनिंग अरुणा मोहन राव ने समिट में शामिल पुलिस अधिकारियों को संबोधित किया। इसके बाद गृह मंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्रा को एआईजी ट्रेनिंग इरमिन शाह ने और पुलिस अकादमी भौरी में डीआईजी प्रशिक्षण विनीत कपूर ने अन्य अतिथियों को प्रतीक चिन्ह दिए। समिट शुभांरभ कार्यक्रम में निदेशक मध्यप्रदेश पुलिस अकादमी राजेश चावला, यूनिसेफ के लौली चैन, वाइस प्रेसिडेंट एण्ड को-फाउंडर क्लीयर टेल मनोहर कटौच, सॉफ्ट क्लिक्स फाउंडेशन के राकेश जैन शामिल हुए। समिट का आयोजन डीजीपी रिसर्च एंड पॉलिसी सेल द्वारा किया जा रहा है।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.