Raj Express
www.rajexpress.co
छिंदवाड़ा सांसद नकुलनाथ, पूर्व सीएम शिवराज सिंह चौहान
छिंदवाड़ा सांसद नकुलनाथ, पूर्व सीएम शिवराज सिंह चौहान|Social Media
मध्य प्रदेश

छत्रपति शिवाजी की मूर्ति हटाने पर प्रदेश में सियासी बवाल

छिंदवाड़ा जिले के सौंसर में छत्रपति शिवाजी की प्रतिमा हटाने पर मचे बवाल पूर्व सीएम शिवराज बोले- पहले अपमान करना फिर पैसों की पावर दिखाना ये कांग्रेसी प्रवृत्ति है।

Aditya Shrivastava

राज एक्सप्रेस। छिंदवाड़ा जिले के सौंसर में छत्रपति शिवाजी महाराज की मूर्ति हटाने के मामले पर प्रदेश में सियासत गरमा गई है। पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह ने ट्वीट करके कहा है कि मैं 15 फरवरी को सौंसर आ रहा हूँ। उन्होंने लोगों से इस कार्यक्रम में शामिल होने की अपील भी की। इस पर छिंदवाड़ा सांसद नकुलनाथ ने शिवराज सिंह पर छत्रपति शिवाजी के नाम पर राजनैतिक रोटियां सेंकने का आरोप लगाया है।

कांग्रेस से सांसद नकुलनाथ ने ट्वीट कर कहा, शिवराज आएं मेरे घर, भोजन करें और विकास मॉडल देखें। शिवराज जी आपका विकास मॉडल छिंदवाड़ा में स्वागत है, परन्तु आप जिस तरह से छत्रपति शिवाजी महाराज के नाम पर राजनैतिक रोटियां सेंकने आ रहे हैं वह गलत है। छत्रपति शिवाजी महाराज हमारी आस्था के प्रतीक हैं, आपका उनके नाम को राजनीति के लिए प्रयोग करना उचित नहीं। आप छिंदवाड़ा आ रहे हैं तो आप मेरे गृह ग्राम शिकारपुर में दोपहर भोजन के लिए भी आमंत्रित हैं और भोजन के पश्चात मैं चाहूंगा कि आप एक दफा संपूर्ण छिंदवाड़ा के विकास को देखकर अवश्य लौटें।

सांसद नकुलनाथ के इस ट्वीट पर शिवराज सिंह चौहान ने निशाना साधते हुए कहा, अब देखिए नकुलनाथजी कह रहे हैं कि, छत्रपति शिवाजी महाराज का मूर्ति वो अपने पैसों से बनवाएंगे और लगाएंगे। पहले अपमान करना फिर पैसों की पावर दिखाना ये कांग्रेसी प्रवृत्ति है, प्रकृति है, संस्कृति है। नाथ साहब, छत्रपति शिवाजी महाराज के भक्तों में इतनी ताकत है कि वह इस कार्य के लिए अपने दम पर धन जमा कर सकते हैं। अब या तो सरकार अपने खर्चे पर छत्रपति शिवाजी महाराज का मूर्ति ससम्मान लगाए या फिर हम जन भागीदारी से लगाएंगे।

आपको बता दें कि, सीएम कमलनाथ के बेटे और छिंदवाड़ा से सांसद नकुलनाथ ने घोषणा की है कि शिवाजी महाराज की प्रतिमा बनाने और उसकी स्थापना कराने में जो भी खर्चा आएगा उसका वहन वह खुद करेंगे।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।