मध्यप्रदेश में कोरोना वायरस को लेकर सियासत
मध्यप्रदेश में कोरोना वायरस को लेकर सियासत |Social Media
मध्य प्रदेश

मध्यप्रदेश में कोरोना वायरस को लेकर सियासत

मध्यप्रदेश में कोरोना वायरस को लेकर मंत्री तरुण भनोट ने भाजपा पर तंज कसते हुए कहा कि, भाजपा को कोरोना वायरस से ज्यादा सत्ता महत्वपूर्ण है। भाजपा ने कहा, कोरोना से ज्यादा डर सरकार को संख्या बल का है।

Aditya Shrivastava

राज एक्सप्रेस। मध्यप्रदेश में जारी राजतीनिक घटना क्रम के बीच कोरोना वायरस भी सियासी जंग में आ गया है। कोरोना वायरस के बढ़ते प्रकोप और प्रदेश में चल रही सियासत के बीच कमलनाथ सरकार में मंत्री तरुण भनोट ने मीडिया से चर्चा करते हुए कहा है कि कोरोना को लेकर WHO के सारी एडवाइजरी फॉलो करेंगे। भाजपा को कोरोना वायरस से ज्यादा सत्ता महत्वपूर्ण है।

उन्होंने कहा कि, भाजपा फ्लोर टेस्ट को लेकर बयानबाजी छोड़े और कोरोना वायरस की चिंता पहले करे। भाजपा को कोरोना वायरस से ज्यादा सत्ता महत्वपूर्ण है, उनको सत्ता की भूख ज्यादा है। वहीं ज्योतिरादित्य सिंधिया पर निशाना साधते हुए मंत्री भनोट ने कहा कि, सिंधिया जी हज़ारों लोगों के साथ नामांकन दाखिल करने गये, लेकिन कोरोना को लेकर एक शब्द भी नहीं कहा। उन्होंने कहा, हमारे लिए जनता पहले है, राजनीति के लिए जीवन पड़ा है। बेंगलुरू से आने वाले विधायकों की जाँच होगी।

संसदीय कार्य मंत्री गोविंद सिंह ने कोरोना वायरस के खतरे को देखते हुए विधानसभा अध्यक्ष से बजट सत्र स्थगित करने की मांग का पत्र सौंपा है। मीडिया से चर्चा कर कहा है कि कोरोना वायरस के कारण विधानसभा सत्र को स्थगित करने पर विचार हो रहा है। कई राज्यों में विधानसभा की कार्यवाही को स्थगित किया गया है। एहतियात के तौर पर मध्यप्रदेश में भी कोरोना से बचाव के लिए बजट सत्र स्थगित करने पर विचार किया जा रहा है।

शुक्रवार को मीडिया से चर्चा कर पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह ने मांग की है कि, बेंगलुरू से लौट रहे विधायकों की कोरोना वायरस की जांच होनी चाहिए। उन्होंने कहा कि, बेंगलुरू में कोरोना वायरस फैला हुआ है।

वहीं भाजपा के वरिष्ठ नेता और विधायक नरोत्तम मिश्रा का कहना है कि कोरोना वायरस से ज्यादा डर सरकार को अपनी संख्या बल को लेकर है इसलिए सरकार सत्र को आगे बढ़ाने की बात कर रही है। उन्होंने ज्योतिरादित्य सिंधिया के काफिले पर हुए हमले को लेकर कहा कि, सत्ता बुद्धिबल से चलती है ना कि बाहुबल से। कांग्रेस कार्यकर्ता ने जिस तरह से मारपीट की वो निंदनीय है।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Raj Express
www.rajexpress.co