कांग्रेस प्राइवेट लिमिटेड कंपनी बन काम कर रही है
कांग्रेस प्राइवेट लिमिटेड कंपनी बन काम कर रही है|Deepika Pal-RE
मध्य प्रदेश

कांग्रेस प्राइवेट लिमिटेड कंपनी बन काम कर रही है : मंत्री प्रद्युम्न

कांग्रेस से जो लोग जाकर भाजपा में आ रहे हैं वह अपने क्षेत्र के विकास को ध्यान में रखकर विकास की मुख्यधारा में जुड़ रहे हैं, क्योंकि कांग्रेस में कुछ विधायकों की बात को कोई सुनने वाला ही नहीं है।

राज एक्सप्रेस

राज एक्सप्रेस

ग्वालियर, मध्य प्रदेश। कांग्रेस से जो लोग जाकर भाजपा में आ रहे है वह अपने क्षेत्र के विकास को ध्यान में रखकर विकास की मुख्यधारा में जुड़ रहे हैं, क्योंकि कांग्रेस में कुछ विधायकों की बात को कोई सुनने वाला ही नहीं है। कांग्रेस इस समय प्राइवेट लिमिटेड कंपनी बनकर काम कर रही है तो नुकसान तो होगा ही। यह बात प्रदेश के ऊर्जा मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर ने मीडिया से चर्चा करते हुए कही।

मंत्री प्रद्युम्न सिंह ने कांग्रेस नेताओं पर करारा हमला करते हुए कहा कि करना कुछ है नहीं, काम कुछ है नहीं सिर्फ राजनीति करना है। देश में इस समय कोरोना का संकट है, ऐसे में विपक्ष को सहयोग की भूमिका निभाना चाहिए, लेकिन कांग्रेस इस भूमिका को भूलकर सिर्फ ओर सिर्फ राजनीति करने में लगी है। कांग्रेस विधायकों द्वारा पार्टी छोड़कर भाजपा में शामिल होने के सवाल पर मंत्री प्रद्युम्न सिंह ने कहा कि कोई अपना घर छोड़ना चाहता है क्या? लेकिन जब घर में कोई उसकी बात को सुनने को तैयार ही नहीं है तो मजबूर होकर व्यक्ति को घर छोडऩा पड़ता है, यही हाल कांग्रेस का हो गया है, क्योंकि वहां विधायकों की बात कोई सुनने को तैयार ही नहीं है तो फिर जिस जनता ने उनको चुनकर भेजा था उस क्षेत्र का विकास कैसे होगा इसकी जवाबदेही तो संबंधित विधायक की है। ऐसे में वह क्षेत्र के विकास के लिए अपना रास्ता बदलकर विकास की मुख्यधारा में जुड़ रहा है।

चुनाव बाद में पहला काम कोरोना से लड़ना :

ऊर्जा मंत्री ने बताया कि चुनाव तो लड़ना ही है ओर उसके लिए जब समय आएगा तो बात करेंगे, लेकिन फिलहाल हमारा उद्देश्य कोरोना से लड़ने के साथ ही क्षेत्र का विकास करना है। इस काम के लिए मुख्यमंत्री हमारे क्षेत्र के लिए काफी पैसा भी दे रहे हैं। जो 15 माह के कांग्रेस शासनकाल में विकास का पहिया रुक गया था वह अब तेज गति से दौड़ने लगा है। अब क्षेत्र में सड़कों एवं वाटर लाइन का काम तेज गति से चल रहा है। कांग्रेस शासनकाल में हमन जेएएच में बायपास सर्जरी के लिए डेढ़ करोड़ की राशि मांगी थी, लेकिन तत्कालीन मुख्यमंत्री ने उक्त राशि नहीं दी वहीं छिंदवाड़ा के लिए वह राशि देते रहे। उन्होंने बताया कि ग्वालियर में सरदार बल्लभ भाई पटेल स्कूल के भवन के लिए डेढ़ करोड़ की राशि मिली है जिससे रविवार से काम शुरू हो जाएगा। ऊर्जा मंत्री तोमर ने क मलनाथ पर वार करते हुए कहा कि मुख्यमंत्री होगा तो छिंदवाड़ा से, प्रदेश अध्यक्ष एवं नेता प्रतिपक्ष हो तो वह भी छिंदवाड़ा से तो फिर अन्य क्षेत्र के कांग्रेस नेता क्या करेंगें?

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Raj Express
www.rajexpress.co