Raj Express
www.rajexpress.co
गंदगी से बना पेठा
गंदगी से बना पेठा|Neha Shrivastava-RE
मध्य प्रदेश

बुरहानपुर: गंदगी से बना पेठा कर रहा आमजन के स्वास्थ्य से खिलवाड़

बुरहानपुर: आगरा के पेठेे से जुड़ी चौंकाने वाली बात सामने आई है कि शहर में बिक रहा पेठा कीड़े पड़े फलों व गंदगी से बनाया जा रहा है, जिससे आमजन के स्वास्थ्य से खिलवाड़ हो रहा हैं और प्रशासन सो रहा हैं।

Ganesh Dunge

Ganesh Dunge

राज एक्‍सप्रेस। बुरहानपुर के शहर में आगरा का पेठा की एक सच्चाई सामने आई, जो हैरान कर देने वाली है और आप ये बात जानने के बाद पेठे को देखना भी पसंद नहीं करेंगे, क्‍योंकि शहर में बिक रहे आगरे के पेठे को लोग जिस चाव से खा रहे हैं। वो ही पेठा बनाने के लिए सड़े हुए व कीड़े पड़े फलों का उपयोग किया जा रहा है।

आमजन के स्वास्थ्य से खिलवाड़ :

जिस जगह पेठा बन रहा है, वो स्थान गंदगी से भरा पड़ा है, फर्श पर भी कीड़े रेंगते हैं, सांस लेना तक मुश्किल हो रहा है और ये ही पेठा खाने से शहर में लाखों लोगों के स्वास्थ्य के साथ खिलवाड़ किया जा रहा है। लोगों के स्वास्थ्य की सुरक्षा का दावा करने वाला खाद्य एवं औषधी प्रशासन विभाग इससे बेखबर है। जो लोग ये पेठा बना रहे हैं, उनकी कंपनी का नाम एबी इंटरप्राइजेस है। कीड़े पड़े फल से पेठा बनाने का काम इंदौर, इच्छापुर हाईवे के किनारे ट्रांसपोर्ट नगर से आगे स्थित मदरसे के सामने चल रहा है। क्विंटलों से फलों का उपयोग किया जा रहा है। एक दिन में 2 से 3 क्विंटल पेठा बनाया जा रहा है। ये पेठा शहर की होटलों, दुकानों तक भिजवाया जा रहा है। पेठा खाने से हजारों लोग फूड पाइजनिंग या अन्य बीमारियों का शिकार हो सकते हैं। समय रहते इस पर रोक नहीं लगाई गई तो ये पेठा लोगों के लिए नासूर हो सकता है। खाद्य सामग्री बनाने के मानकों का पूरा उल्लंघन किया जा रहा है। लगातार यहां पर पेठा बनाने का काम चलता है।