मंदसौर में आयोजित कार्यक्रम: सीएम ने रानी पद्मावती बाईसा छात्रावास का किया भूमिपूजन
मंदसौर में आयोजित कार्यक्रमSocial Media

मंदसौर में आयोजित कार्यक्रम: सीएम ने रानी पद्मावती बाईसा छात्रावास का किया भूमिपूजन

मंदसौर, मध्यप्रदेश : मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज ने मंदसौर में महाराणा प्रताप राजपूत बोर्डिंग परिसर में रानी पद्मावती बाईसा छात्रावास का गणमान्य जनप्रतिनिधियों के साथ भूमि पूजन किया है।

मंदसौर, मध्यप्रदेश। एमपी के मुख्‍यमंत्री शिवराज सिंह चौहान आज भोपाल से हेलीकॉप्‍टर से मंदसौर पहुंचे हैं। मंदसौर में आयोजित कार्यक्रम में पहुंचने पर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान का बेटियों ने परंपरागत विधि-विधान से स्वागत किया।

CM ने रानी पद्मावती बाईसा छात्रावास का किया भूमि पूजन

मंदसौर में महाराणा प्रताप राजपूत बोर्डिंग परिसर में मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने रानी पद्मावती बाईसा छात्रावास का गणमान्य जनप्रतिनिधियों के साथ भूमि पूजन किया।

मंदसौर का शिलान्यास कार्यक्रम :

एमपी के मुख्यमंत्री ने मंदसौर में चिकित्सा महाविद्यालय के शिलान्यास कार्यक्रम का शुभारंभ पूजन एवं दीप प्रज्ज्वलित कर किया। इस कार्यक्रम में सीएम शिवराज ने कहा कि, मंदसौर का गौरव दिवस हम सब मिलकर मनायेंगे और उस विकास में सहयोग का संकल्प लेंगे। सरकार और समाज मिलकर क्षेत्र के विकास के लिए कार्य करेंगे, तभी लक्ष्य की प्राप्ति होगी।

मेरी बहनें साबुन, सैनिटाइजर, शैम्पू बना रही हैं। मेरी बहनें पोषण आहार तैयार कर रही हैं। मेरी ये बहनें ई-रिक्शा चला रही हैं, मध्यप्रदेश की धरती पर नारी सशक्तिकरण का अभियान चल रहा हैं।

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान

कांग्रेस पर तंज कसते हुए सीएम शिवराज ने कहा कि, कमलनाथ जी ने वादा किया था कि कांग्रेस की सरकार किसानों का कर्ज माफ करेगी, लेकिन यह वादा झूठा निकला। किसान भाइयों का कर्ज भी नहीं चुका और ब्याज भी बढ़ता गया। हमने तय किया है कि किसानों के ब्याज का बोझ सरकार उठाएगी। हमारी सरकार ने गरीब परिवारों को पक्के मकान देने के लिए 10 हजार करोड़ रुपए रखे हैं। 3 साल के अंदर सभी उन सभी गरीब परिवारों को पक्के मकान दिए जाएंगे, जो कच्ची झोपड़ी या टपरों में रहते है।

  • मेरा संकल्प है कि मेरी बहनों की मासिक आमदनी कम से कम 10000 होनी चाहिए। हमने तय किया कि पोषण आहार ठेकेदार नहीं स्वयं सहायता समूह की बहनें बनाएंगी।

  • मंदसौर में मेडिकल कॉलेज बनकर तैयार होगा, तो प्रतिभाशाली बच्चे यहीं से पढ़कर डॉक्टर बन सकेंगे, लेकिन डॉक्टर बनकर बाहर मत जाना बच्चों, यहीं लोगों की सेवा करना।

  • हम गेहूं को एक्सपोर्ट करने की कोशिश कर रहे हैं। ताकि पूरी दुनिया मध्य प्रदेश का गेहूं खाए और किसानों को भी ठीक दाम मिल जाए।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.