Raj Express
www.rajexpress.co
किसानों को जल्द मिलेगा यूरिया - पीसी शर्मा
किसानों को जल्द मिलेगा यूरिया - पीसी शर्मा|Deepika Pal - RE
मध्य प्रदेश

किसानों को जल्द मिलेगा यूरिया - पीसी शर्मा

भोपाल, मध्यप्रदेश: कई मुद्दों पर बोले जनसंपर्क मंत्री पीसी शर्मा, साथ ही सरकार के कार्यों के बारे में चर्चा की।

Deepika Pal

राज एक्सप्रेस। प्रदेश के जनसंपर्क मंत्री पीसी शर्मा ने प्रेस वार्ता के दौरान हनी ट्रैप सहित कई मुद्दों पर बयान दिए साथ ही प्रदेश के किसानों और जनता के लिए सरकार की कार्ययोजना के बारे में भी चर्चा की।

जनसंपर्क मंत्री पीसी शर्मा ने कहा :

पत्रकार वार्ता के दौरान पीसी शर्मा ने प्रदेश के कई मुद्दों पर चर्चा करते हुए कहा कि- प्रदेश में हनीट्रैप के मामले सामने आ रहे हैं, जिसमें मामले की जांच की जिम्मेदारी एसआईटी के पास है, वह इस मामले की पूरी जांच में जुट गई है। मामले पर मुख्यमंत्री कमलनाथ ने भी साफ तौर पर कहा है कि, जांच में कोई दोषी पाया जाए चाहे वह कितना बड़ा ही व्यक्ति क्यों ना हो छोड़ा नहीं जाएगा। मामले पर सख्त कार्रवाई की जाएगी ताकि, कोई किसी को ब्लैकमेल ना कर पाए।

हनीट्रैप का एक और मामला आया सामने :

भोपाल में बहुचर्चित हनीट्रैप का मामला सामने आने के बाद इंदौर में भी ऐसा ही मामला सामने आया है जहां एक होटल से कई 67 महिलाओं और लड़कियों को रेस्क्यू किया गया। पुलिस ने मीडिया हाउस और उससे जुड़े संस्थान, निवासों पर छापामार कार्रवाई की जिसमें महिलाओं और लड़कियों को जबरन तरीके से बंधक बना कर रखा गया था। फिलहाल इस मामले पर कार्रवाई जारी है।

किसानों को जल्द मिलेगा यूरिया :

प्रदेश में किसानों को यूरिया ना मिलने और किसानों द्वारा प्रदर्शन करने पर कहा- प्रदेश भर में प्रदेश के किसानों के लिए कृषि विभाग द्वारा 10 दिसंबर तक यूरिया की पूर्ति की जाएगी। जिस संबंध में कृषि मंत्री सचिन यादव पूरी निगरानी रख रहे हैं ताकि, किसानों को मिलने वाले यूरिया और खाद में किसी भी प्रकार की ब्लैक मार्केटिंग ना की जाए। साथ ही किसानों को समय पर यूरिया मिल सके।

चंद्रशेखर आजाद मामले पर बोले :

चंद्रशेखर आजाद की मूर्ति हटाने के मामले पर पोते अमित आजाद द्वारा धरने पर बैठने के मामले पर कहा कि- चंद्रशेखर आजाद की प्रतिमा भाजपा के कार्यकाल के दौरान हटाई गई थी।दरअसल हाल ही में चंद्रशेखर आजाद की प्रतिमा नगर पालिका के द्वारा हटाई गई थी, जिसका कारण यातायात में कठिनाई का आना था, जिस पर चंद्रशेखर आजाद के परिजनों ने कोई आपत्ति नहीं जताई थी, लेकिन उसी स्थान पर अर्जुन सिंह की प्रतिमा लगाने से विवाद खड़ा हो गया था, जिससे चंद्रशेखर आजाद के पोते अमित आजाद धरने पर बैठ गए हैं।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।