किसान महासम्मेलन: CM ने किसानों के खातों में 1600 करोड़ की राशि अंतरित की
किसान महासम्मेलनSocial Media

किसान महासम्मेलन: CM ने किसानों के खातों में 1600 करोड़ की राशि अंतरित की

रायसेन, मध्यप्रदेश : प्रदेश के रायसेन में आयोजित किसान महासम्मेलन में मुख्यमंत्री शिवराज ने राज्य स्तरीय किसान कल्याण कार्यक्रम में वन क्लिक से किसानों के खातों में राहत राशि अंतरित की।

रायसेन, मध्यप्रदेश। आज रायसेन में राज्य स्तरीय किसान कल्याण का कार्यक्रम शुरू हो गया है, मध्यप्रदेश के रायसेन में आयोजित किसान महासम्मेलन में मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने दीप प्रज्जवलित कर किसान कल्याण कार्यक्रम व सम्मेलन की शुरूआत की, बता दें कि इस कार्यक्रम में मध्यप्रदेश के 35 लाख से ज्यादा किसानों को सरकार ने आर्थिक सहायता दी।

किसानों को मिली 16 सौ करोड़ की राहत राशि :

रायसेन में आयोजित किसान महासम्मेलन में मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने राज्य स्तरीय किसान कल्याण कार्यक्रम में प्रदेशाध्यक्ष के साथ रायसेन में कृषि अधोसंरचना विकासकार्यों का लोकार्पण और शिलान्यास किया, 2,000 पशुपालक व मछलीपालकों को केसीसी वितरित किये और वन क्लिक से 35.50 लाख किसानों के खातों में 1600 करोड़ की राहत राशि अंतरित की और रिमोट का बटन दबाकर से 70 करोड़ रुपये से अधिक की लागत के कृषि विकास कार्यों का लोकार्पण व शिलान्यास किया।

किसान सम्मेलन के दौरान सीएम शिवराज ने कहा-

बता दें कि प्रधानमंत्री एवं मुख्यमंत्री रायसेन में आयोजित राज्य स्तरीय किसान कल्याण कार्यक्रम को संबोधित कर रहे हैं। सीएम शिवराज ने किसान सम्मेलन के दौरान कहा कि प्रधानमंत्री किसानों के सबसे बड़े हितैषी हैं। किसानों की आय दोगुना करने का उनका संकल्प है। इसके लिये हमारे प्रधानमंत्री जी ने कई कदम उठाये। पीएम फसल बीमा योजना बनाई है।

अगर कोई व्यापारी किसान से खेत से ही उत्पाद खरीद ले तो किसान को लाभ ही होगा, बोवनी के समय कोई व्यापारी किसान से समझौता कर ले और फसल के अच्छे दाम दे, तो उसे लाभ ही होगा। स्टॉक लिमिट के खत्म होने से किसान तभी फसल बेचे जब मुनाफा अधिक मिले।

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान

सीएम ने कांग्रेस पर साधा निशाना :

सीएम ने कहा कि राहुल गांधी और कमलनाथ बोलते हैं कि हम किसानों के लिए उपवास करेंगे, आप उपवास नहीं पश्चाताप करो! आपने किसानों से झूठे वादे किए, उनको ठगा, उनको छला, उनको धोखा दिया, उसके लिए पश्चाताप करो, आगे कहा कि कमलनाथ जी ने कर्ज़माफी का झूठ तो बोला ही, उसके साथ ही प्रधानमंत्री किसान कल्याण निधि के लिए पात्र किसानों की सूची ही केंद्र को नहीं भेजी, हमने किसानों की सूची भेजी और रु. 6,000 के साथ ही अपनी ओर से रु. 4,000 भी किसानों को दिए।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

Raj Express
www.rajexpress.co