लॉक डाउन पर भारी हुआ मारपीट केस, एसडीएम को किया निलंबित
एसडीएम निलंबित Social Media

लॉक डाउन पर भारी हुआ मारपीट केस, एसडीएम को किया निलंबित

मध्यप्रदेश में जहाँ कोरोना के खतरे को लेकर सख्त व्यवस्था बनी हुई है, वहीं विक्रेता के साथ मारपीट मामले में उपरांत एसडीएम को हटाया।

राज एक्सप्रेस। मध्यप्रदेश में जहां कोरोना के खतरे को लेकर सख्त व्यवस्था बनी है वहीं सरकार द्वारा कार्यवाहियों का दौर भी शुरू है, बता दें कि बड़वानी जिले के राजपुर में छूट की अवधि के दौरान सब्जी बेच रहे किसान का हाथ तोड़ देने के चलते जिला कलेक्टर को शिकायत के उपरांत राजपुर के एसडीएम को हटा दिया गया है।

राजपुर का एसडीएम पदस्थ अभयसिंह ओहरिया :

अधिकृत जानकारी के अनुसार-बता दे कि राजपुर के वीर सिंह चौहान को हटाते हुए अभयसिंह ओहरिया को राजपुर का एसडीएम पदस्थ किया गया है। यह कार्रवाई भारतीय किसान संघ के जिलाध्यक्ष मंशाराम पंचोले तथा अन्य किसानों द्वारा जिला कलेक्टर को ज्ञापन सौंपने के उपरांत हु

क्या है पूरा मामला

एसडीएम को जिला कलेक्टर के नाम दिए गए ज्ञापन में बताया गया कि आज किसान गेंदालाल को सब्जी बेचने के दौरान राजपुर के वीर सिंह चौहान द्वारा मारपीट की गई, जिसके चलते उसका हाथ फैक्चर हो गया। इसी तरह राजपुर नगर पंचायत के नगर पंचायत अधिकारी अखिलेश डोंगरे द्वारा भी एक अन्य सब्जी विक्रेता सचिन के साथ मारपीट की गई। ज्ञापन में 20 अप्रैल को 3 किसानों के साथ नगर पंचायत राजपुर के कर्मचारियों द्वारा मारपीट की शिकायत भी की गई। संघ द्वारा संबंधित अधिकारियों के खिलाफ प्रकरण दर्ज करने की भी मांग की गई थी।

एसडीएम वीर सिंह चौहान द्वारा की गई मारपीट के चलते उनके पिता का हाथ दो स्थानों से फैक्चर हुआ है।उधर भारतीय जनता पार्टी के जिला अध्यक्ष ओमप्रकाश सोनी ने कहा कि आज राजपुर में प्रशासन द्वारा सब्जी विक्रेताओं को निर्धारित समय अवधि के लिए छूट दी गई थी और इस दौरान बर्बरता पूर्वक मारपीट दुर्भाग्य पूर्ण है।

छूट की अवधि के दौरान इस तरह की घटना दुर्भाग्यपूर्ण है और शिकायत मिलने के उपरांत उन्होंने प्रशासनिक दृष्टि से वीर सिंह चौहान को राजपुर से हटा दिया है।

कलेक्टर अमित तोमर ने बताया

फ्रैक्चर हाथ का समुचित उपचार कराने के दिए निर्देश :

इसी दौरान उन्होंने किसान से मुलाकात की है और उसके फ्रैक्चर हुए हाथ का समुचित उपचार कराने के निर्देश दिए हैं। हालांकि उन्होंने कहा कि एसडीएम का आशय कोरोना वायरस संक्रमण की रोकथाम हेतु भीड़ को हटाने का था। उधर बड़वानी के पुलिस अधीक्षक डी. आर. ने बताया कि फरियादी की शिकायत प्राप्त होने के उपरांत विधि सम्मत कार्रवाई की जाएगी।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.
Top Hindi News Bhopal,Trending, Latest viral news,Breaking News - Raj Express
www.rajexpress.co