मप्र विधानसभा के इतिहास में सबसे लंबे समय तक प्रोटेम स्पीकर रहे रामेश्वर शर्मा
मप्र विधानसभा के इतिहास में सबसे लंबे समय तक प्रोटेम स्पीकर रहे रामेश्वर शर्माSocial Media

मप्र विधानसभा के इतिहास में सबसे लंबे समय तक प्रोटेम स्पीकर रहे रामेश्वर शर्मा

भोपाल, मध्य प्रदेश : मप्र विधानसभा के इतिहास में सबसे लंबे वक्त तक प्रोटेम स्पीकर रहने का रिकार्ड भाजपा के विधायक रामेश्वर शर्मा के नाम दर्ज हो गया है। श्री शर्मा कुल आठ माह तक प्रोटेम स्पीकर रहे।

भोपाल, मध्य प्रदेश। मप्र विधानसभा के इतिहास में सबसे लंबे वक्त तक प्रोटेम स्पीकर रहने का रिकार्ड भाजपा के विधायक रामेश्वर शर्मा के नाम दर्ज हो गया है। श्री शर्मा कुल आठ माह तक प्रोटेम स्पीकर रहे। दो जुलाई 2020 को रामेश्वर शर्मा प्रोटेम स्पीकर बने थे। उनके आठ माह के कार्यकाल में विधानसभा सत्र का आयोजन नहीं हुआ है।

विधानसभा का सत्र 22 फरवरी 2021 सोमवार से शुरू हो रहा है। विधानसभा के पहले दिन विधानसभा अध्यक्ष का चुनाव होना है। चुनाव परिणाम की अधिकारिक घोषणा के बाद प्रोटेम स्पीकर रामेश्वर शर्मा अपने पद से मुक्त हो जाएंगे। इस तरह श्री शर्मा 2 जुलाई 2020 से 22 फरवरी 2021 कुल आठ माह प्रोटेम स्पीकर रहे। जबकि अब तक रहे 13 प्रोटेम स्पीकर में इतने लंबे वक्त कोई भी पद पर नहीं रहा है।

शर्मा ने आठ माह तक इसलिए संभाली जिम्मेदारी :

2018 में बनी कांग्रेस सरकार मार्च 2020 में गिर गई। कांग्रेस सरकार के गिरने के बाद भाजपा ने सरकार का बनाई। इसके साथ ही विधानसभा अध्यक्ष एनपी प्रजापति ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया। उस समय 24 मार्च 2020 को पूर्व मंत्री जगदीश देवड़ा को प्रोटेम स्पीकर बनाया गया। श्री देवड़ा 2 जुलाई 2020 तक प्रोटेम स्पीकर रहे, इसी तारीख को उनके स्थान पर रामेश्वर शर्मा को प्रोटेम स्पीकर बनाया गया। श्री शर्मा के कार्यकाल में विधानसभा सत्र का आयोजन नहीं हुआ। जिसकी वजह से विधानसभा अध्यक्ष का चुनाव भी नहीं हुआ। फरवरी माह में बजट सत्र का आयोजन होना अनिवार्य हो गया तो बजट सत्र से पहले विधानसभा अध्यक्ष का चुनाव हो रहा है।

अब तक 13 प्रोटेम स्पीकर बने मप्र विधानसभा :

कौन कब तक रहा प्रोटेम स्पीकर मप्र विधानसभा के इतिहास में काशीप्रसाद पांडे पहली बार 29 नवंबर 1956, दूसरी बार 29 जून 1957 और तीसरी बार 11 मार्च 1962 को प्रोटेम स्पीकर बने थे। उनके बाद रत्नाकर झा 11 मार्च 1967, अर्जुन सिंह 24 मार्च 1972, रघुनाथ सिंह 14 जुलाई 1977, मथुरा प्रसाद दुबे 02 जुलाई 1980, शिवभानु सिंह सोलंकी 14 मार्च 1985 से 22 मार्च 1985 तक, अर्जुन सिंह 19 मार्च 1990, राम किशोर शुक्ल 23 दिसंबर 1993, श्रीनिवास तिवारी 01 फरवरी 1999, कृष्णपाल सिंह 02 फरवरी 1999, जुमना देवी 12 दिसबंर से 16 दिसंबर 2003 तक, दूसरी बार जुमना देवी 04 जनवरी 2009 से 07 जनवरी 2009 तक, ज्ञान सिंह 05 नवबंर से 21 दिसबंर 2013 तक, केडी देशमुख 21 दिसबंर से 2013 से 09 दिसंबर 2013 तक, दीपक सक्सेना 01 जनवरी 2019 से 08 जनवरी 2019 तक, जगदीश देवड़ा 24 मार्च 2020 से 02 जुलाई 2020 तक और रामेश्वर शर्मा 02 जलाई 2020 से 22 फरवरी 2021 तक।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

No stories found.
Raj Express
www.rajexpress.co