मध्यप्रदेश मौसम अपडेट
मध्यप्रदेश मौसम अपडेट|Syed Dabeer-RE
मध्य प्रदेश

MP के लिए 21-22 अगस्त का दिन बना यादगार,इंदौर-भोपाल में रिकॉर्डतोड़ बारिश

मौसम अपडेट: मध्यप्रदेश में तेज बारिश से भोपाल, इंदौर समेत प्रदेश के कई जिले तरबतर हो गए हैं। मूसलाधार बारिश से भोपाल, इंदौर हुआ पानी-पानी।

Priyanka Yadav

Priyanka Yadav

मध्यप्रदेश। प्रदेश में एक तरफ कोरोना का संकट थमने का नाम नहीं ले रहा है वहीं दूसरी तरफ प्रदेश हुई मूसलाधार बारिश ने तोड़े रिकॉर्ड। बता दें कि कोरोना संकटकाल के बीच हुई झमाझम बारिश ने और बढ़ाई मुश्किलें वहीं कल मध्यप्रदेश में जोरदार बारिश से भोपाल, इंदौर समेत प्रदेश के कई जिले तरबतर हो गए हैं।

भोपाल में 14 साल बाद अगस्त में एक दिन में हुई सर्वाधिक बारिश :

प्रदेश में 21 और 22 अगस्त को हुई झमाझम बारिश ने दिन को यादगार बना दिया। वहीं गणेश चतुर्थी के दिन भी राजधानी में जोरदार बारिश जारी रही। बता दें भोपाल में 24 घंटे में साढ़े 8 इंच बारिश हुई, जाे 14 साल बाद अगस्त में एक दिन में सबसे ज्यादा बारिश दर्ज है। वर्ष 2006 में 14 अगस्त काे 24 घंटे में 11.66 इंच बारिश हुई थी। राजधानी में हुई तेज बारिश के कारण निचले इलाकों में रातभर पानी भरा रहा और लोगों को मुश्किलों का सामना करना पड़ा। तेज बारिश ने मध्य प्रदेश की राजधानी को पानी-पानी कर दिया है इससे तालाब का जलस्तर 1663.30 से बढ़कर 1666.50 हाे गया।

भाेपाल में 36.90 इंच बारिश हाे गई। यह अब तक की सामान्य बारिश से 5.49 इंच ज्यादा है। भाेपाल में सीजन की बारिश का काेटा 43.64 पूरा हाेने के लिए अब सिर्फ 6.74 इंच बारिश की ही जरूरत है।
माैसम वैज्ञानिक ने बताया-

इंदौर में 100 साल में पहली बार एक दिन में 12.5 इंच पानी गिरा :

वहीं बता दें कि मध्यप्रदेश के इंदौर में भारी बारिश से लोग परेशान, ज्यादा कर लोगों के घरों में भरा पानी। बता दें कि इंदौर में 100 साल में पहली बार एक दिन में 12.5 इंच पानी बरसा। मध्यप्रदेश में सीजन में पहला मौका है जब प्रदेश के सभी 52 जिलों में बारिश हुई है। तेज बारिश के कारण लोग घरों की छतों पर डेरा डालने को मजबूर हैं। वहीं प्रदेश के कई शहरों में ऐसे हाल दिखे हैं। इंदौर शहर और आस-पास के इलाकों में भारी बारिश ने कई साल का रिकॉर्ड तोड़ दिया है।

प्रदेश के 20 जिलों में तीन दिन से भारी बारिश

वहीं आपको बताते चलें कि प्रदेश में मानसून की बेरुखी से परेशान मध्य प्रदेश के चार संभागों पर शुक्रवार-शनिवार मेघ मेहरबान रहे हैं। भोपाल, इंदौर, होशंगाबाद, सागर संभाग में भारी बरसात हुई। इससे कई स्थानों पर बाढ़ के हालात बन गए। वर्तमान में अरब सागर पर एक ऊपरी हवा का चक्रवात बना हुआ है। प्रदेश के 20 जिलों में तीन दिन से भारी बारिश हो रही है। इसका जनजीवन पर असर देखा जा रहा है। वही खरगाेन, आलीराजपुर, झाबुआ रतलाम रेड अलर्ट किया गया है और इंंदौर, उज्जैन, देवास, शाजापुर, नीमच, मंदसौर, बड़वानी ऑरेंज अलर्ट किया गया है। यलो अलर्ट में होशंगाबाद, खंडवा, भोपाल, रायसेन हैं।

मौसम अपडेट
मौसम अपडेटSocial Media

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Raj Express
www.rajexpress.co