गंजबासौदा हादसे में देर रात तक बचाव कार्य जारी, कई लोग मलबे में दबे
गंजबासौदा हादसे में देर रात तक बचाव कार्य जारी, कई लोग मलबे में दबेSocial Media

गंजबासौदा हादसे में देर रात तक बचाव कार्य जारी, कई लोग मलबे में दबे

मध्यप्रदेश के विदिशा जिले के गंजबासौदा में आज रात कुए में गिरे एक बच्चे को बचाने के लिए एकत्रित हुए कम से कम दो दर्जन व्यक्तियों के भी कुए में गिरने की सूचना के बाद देर रात तक बचाव कार्य जारी।

विदिशा, मध्यप्रदेश। मध्यप्रदेश के विदिशा जिले के गंजबासौदा में आज रात कुए में गिरे एक बच्चे को बचाने के लिए एकत्रित हुए कम से कम दो दर्जन व्यक्तियों के भी कुए में गिरने की सूचना के बाद देर रात तक बचाव कार्य जारी था और कई लोगों के मलबे में दबे होने की आशंका है। हालांकि एक दर्जन से अधिक लोगों को कुए से निकालकर अस्पताल पहुंचाया गया है।

राहत एवं बचाव कार्य के दौरान ही इस कार्य में लगे कुछ लोगों और मशीनरी के भी कुए में गिरने की सूचना के बाद बचाव कार्य प्रभावित हुआ। हालांकि रात्रि 11 बजे तक यह स्पष्ट नहीं हो पाया कि कितने व्यक्ति कुए में गिरे हैं और कितने दबे हुए हैं। जिन एक दर्जन से अधिक व्यक्तियों को कुए से निकाला गया है, उन सबको तत्काल गंजबासौदा के अस्पताल में पहुंचाया गया।

पुलिस और प्रशासन का कहना है कि उनकी पहली प्राथमिकता राहत और बचाव कार्य को तेज गति से पूर्ण करना है, ताकि वहां फसे हुए लोगों को निकाला जा सके। घटना के संबंध में बताया गया है कि देर शाम गंजबासौदा तहसील मुख्यालय के बाहरी क्षेत्र में स्थित एक कुए में एक लड़का गिर गया। इसकी सूचना पर वहां दर्जनों लोग एकत्रित हो गए। बताया गया है कि कुए के ऊपर एक जाली लगी हुयी थी और उस पर भी लोग चढ़ गए थे। अचानक हादसा हुआ और जाली तथा मिट्टी समेत दर्जनों लोग कुए में जा गिरे।

कुआ लगभग 30 फीट गहरा बताया गया है और उसमें लगभग 20 फीट की ऊंचाई तक पानी भरा हुआ था। इसकी सूचना मिलने पर पुलिस और प्रशासन का अमला पहुंचा और लोगों को बाहर निकालने का कार्य प्रारंभ किया। इस बीच एक दर्जन से अधिक लोगों को निकालकर अस्पताल पहुंचाया गया। वहीं रात्रि में नौ बजे के बाद जब जेसीबी मशीन और ट्रेक्टर आदि की मदद से बचाव कार्य जारी था, तभी राहत कार्य में लगे कुछ लोगों के भी मिट्टी धसकने के कारण कुए में गिरने की सूचना आयी।

इस बीच अपनी तीन दत्तक पुत्रियों के विवाह के कारण विदिशा में ही मौजूद मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने भी मोर्चा संभाल लिया और उन्होंने मुख्य सचिव और अन्य संबंधित अधिकारियों से बातचीत के बाद एनडीआरएफ और एसडीआरएफ की टीम को मौके पर भेजने के निर्देश दिए। उन्होंने घटना की जांच के आदेश दिए हैं। विदिशा जिले के प्रभारी मंत्री विश्वास सारंग को भी गंजबासौदा भेजा गया।

रात्रि 11 बजे तक सभी मौके पर पहुुंच गए और राहत एवं बचाव कार्य जारी था। अपुष्ट सूत्रों का कहना है कि कुए में गिरे लोगों की संख्या कम से कम 40 है, हालांकि आधिकारिक तौर पर कोई आंकड़ा सामने नहीं आया। माना जा रहा है कि राहत एवं बचाव कार्य पूरी रात चलेगा। राहत एवं बचाव कार्य के दौरान एक ट्रेक्टर के भी कुए में गिरने की सूचना प्रत्यक्षदर्शियों से हवाले से आयी है। इसके बाद पुलिस कर्मचारी सक्रिय हुए और पूरे इलाके से भीड़ को खदेड़ दिया गया।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

No stories found.
Top Hindi News Bhopal,Trending, Latest viral news,Breaking News - Raj Express
www.rajexpress.co