1 जून से ट्रेने प्रारंभ होने की घोषणा के बाद आरक्षण कार्यालय खुला
1 जून से ट्रेने प्रारंभ होने की घोषणा के बाद आरक्षण कार्यालय खुला|Social Media
मध्य प्रदेश

1 जून से ट्रेने प्रारंभ होने की घोषणा के बाद आरक्षण कार्यालय खुला

रेलवे की गाडलाईन का शुरू के दिन ही नहीं किया गया पालन, पहले दिन ही हाल यह तो कोरोना जैसी महामारी से यात्रियों को रेलवे प्रशासन कैसे बचा सकेगा।

Gopal Mavar

Gopal Mavar

राजएक्सप्रेस। लॉकडाऊन एक जून को समाप्त होने पर ट्रेने चालू करने की घोषणा के बाद अन्य स्टेशनों के साथ शहर के स्टेशन पर भी यात्रा करने के लिए आरक्षण की टिकट बुकिंग शुक्रवार को प्रारंभ हो गई। रेलवे के निर्देशानुसार कोरोना महामारी बचाव की कोई व्यवस्था आरक्षण कार्यालय पर दिखाई नहीं दी। पहले ही दिन यह हाल है तो कोरोना जैसी महामारी से यात्रियों को रेलवे प्रशासन कैसे बचा सकेगा।

चौथे चरण का लॉकडाऊन 31 मई को समाप्त हो जाएगा। इसको लेकर केंद्र सरकार ने 1 जून से कुछ रेलवे की ट्रेने प्रारंभ करने की घोषणा की है। यात्रा करने के लिए शुक्रवार से आरक्षण कार्यालय पर टिकट बुकिंग प्रारंभ कर दी गई है। शुक्रवार की सुबह इसको लेकर रेलवे कर्मचारी तैयारियों में जुट गए। अभी से ही रेलवे प्लेटफार्मो की साफ-सफाई व सेनेटाईजर करना प्रारंभ कर दिया। आरक्षण कार्यालय में भी साफ-सफाई करने के बाद कार्यालय प्रारंभ कर दिया।

पहले ही दिन रेलवे की व्यवस्था की पोल खुल गई। आरक्षण कार्यालय की साफ-सफाई तो कराई पर आरक्षण कार्यालय में जाने वाले लोगों के न तो हाथ धुलवाए जा रहे थे और ना ही सेनेटाईजर की कोई व्यवस्था दिखी। वहां आरपीएफ के थाना प्रभारी व स्टेशन प्रबंधक जरूर उपस्थित थे। जब उनसे पूछा गया कि सेनेटाईजर व हाथ धुलाने की व्यवस्था दिखाई नहीं दे रही तो थाना प्रभारी सफाई देने लगे और स्टेशन मास्टर वहां से चले गए। इतने संघर्ष के बाद कोरोना महामारी को रोकने मे कुछ हद तक सफलता हासिल हुई है, यदि रेलवे स्टेशनों पर कोरोना महामारी को लेकर सतर्कता नहीं रखी गई तो इतने दिन की मेहनत पर पानी फिरने की संभावना से इंकार नहीं किया जा सकता।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Raj Express
www.rajexpress.co