Raj Express
www.rajexpress.co
दो दिन पहले हुई हत्या का खुलासा
दो दिन पहले हुई हत्या का खुलासा|Amit Raikwar
मध्य प्रदेश

लटेरी: दो दिन पहले हुई हत्या का खुलासा, जानें क्या थी वजह

दो दिन पहले लटेरी के शमशाबाद रोड़ पर एक अज्ञात शव मिलने से अफरा-तफरी मच गई। 23 नवम्बर को लटेरी थाना अंतर्गत अगरापठार के जंगल में एक शव मिलने की सूचना पुलिस को मिली थी।

Amit Raikwar

राज एक्सप्रेस। दो दिन पहले लटेरी के शमशाबाद रोड पर एक अज्ञात शव मिलने से समूचे क्षेत्र मे अफरा-तफरी का माहौल निर्मित हो गया था। गौरतलब है कि, 23 नवम्बर को लटेरी थाना अंतर्गत अगरापठार के जंगल मे एक शव मिलने की सूचना पुलिस को मिली थी। लटेरी थाना प्रभारी काशीराम कुशवाह द्वारा तुरंत घटना स्थल पर पहुंचकर पड़ताल शुरू की और महज दो दिनो में ही इस जघन्य हत्याकाण्ड़ का खुलासा करने में पुलिस सफल भी हो गई।

मृतक की पत्नि के अवैध सम्बध बने हत्या का कारण :

मृतक भूरा उर्फ हरिचरण की पत्नी रेखा के अवैध संबध प्रदीप माली निवासी जामनेर के साथ हो गए थे। भूरा की पत्नी रेखा प्रदीप के साथ मजदूरी करने जाने लगी इसी दौरान प्रदीप और रेखा के नजदीकीयां बढ़ने लगीं थीं और धीरे-धीरे जिसकी भनक रेखा के पति भूरा को लगना शुरू हो चुकी थी। लिहाजा भूरा अपनी पत्नि को मजदूरी पर जाने से रोकने लगा था, जिस कारण दोनो पति और पत्नि मे विवाद होने लगे।

पति से परेशान रेखा ने अपने आशिक के साथ मिलकर बनाई थी हत्या की योजना :

पति द्वारा काम पर जाने से रोकने पर रेखा और प्रदीप की आशिकी पर पहरेदारी का ग्रहण लगने लगा था। रेखा के विवाह को कई वर्ष होने के बाद भी कोई संतान नही थी। लिहाजा उसकी काम वासना अपने प्रेमी संग दिन व दिन बढ़ने लगी थी। रेखा और प्रदीप की आशिकी में रोड़ा उसका पति बन रहा था, लिहाजा उसे रास्ते से हटाना रेखा और प्रदीप की मजबूरी बन गई थी।

दो दिन पहले हुई हत्या का खुलासा
दो दिन पहले हुई हत्या का खुलासा
Amit Raikwar

पत्नि, दोस्त और प्रेमी के संग मछली की योजना बनी मौत का कारण :

पति भूरा की सख्ती से परेशान रेखा ने अपने प्रेमी प्रदीप के साथ मिलकर अपने ही पति की हत्या की योजना बना डाली और इस हत्या काण्ड मे प्रदीप का दोस्त रामरेश अहिरवार व छोटू अहिरवार से मिलकर भूरा को लटेरी के जंगल मे चाकू से वार करके मौत के घाट उतार दिया। इस घटनाक्रम के दौरान मृतक को मोटर साईकिल से मछली पकड़ने का बहाना बनाकर जामनेर से लटेरी लाया गया था। फिर लटेरी से पन्द्रह किलो मीटर दूर ले जाकर भूरा को शराब पिलाई गई भूरा को नशा ज्यादा होने पर गला रेत कर मौत के घाट उतार दिया गया।

दो दिनों मे खुलासा, टीम को अहम जिम्मेदारी निभाने पर कप्तान करेगें पुरूस्कृत :

पुलिस कप्तान विनायक वर्मा तथा अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक केएल बंजारा, एसडीओपी भंवरसिंह सिसोदिया के मार्ग दर्शन में बनी टीम के हिस्सेदार थाना प्रभारी काशीराम कुशवाह, सउनि एसएन सोलंकी, सउनि सुरेश जाटव, लालाराम प्रजापति, हिन्दूसिंह, आरक्षक विजय नावरिया, दीपक रघुवंशी, जयदीप, नरेन्द्र, रामू, धुर्व, राहुल, नन्दकिशोर सहित पुलिस विभाग की अहम भूमिका रही। इस कार्यवाही के दौरान उक्त जघन्य हत्या काण्ड के आरोपी प्रदीप पिता काशीराम माली, रामरेश पिता हेमराज अहिरवार, छोटू पिता हेमराज तथा मृतक भूरा केवट की पत्नि रेखा को गिरफ्तार कर साक्ष्य बरामद किये गये हैं।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर ।