जो सड़कें मैंने बताई थी उनकी भी पेंच रिपेयिरिंग नहीं हुई, आखिर चल क्या रहा है
समीक्षा बैठक करते उर्जा मंत्रीSocial Media

जो सड़कें मैंने बताई थी उनकी भी पेंच रिपेयिरिंग नहीं हुई, आखिर चल क्या रहा है

ग्वालियर, मध्यप्रदेश : ऊर्जा मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर ने रविवार को आयोजित समीक्षा बैठक में जताई नाराजगी। वह कन्ट्रोल कमाण्ड सेंटर में अधिकारियों से चर्चा कर रहे थे।

हाइलाइट्स :

  • ऊर्जा मंत्री ने समीक्षा बैठक में जताई नाराजगी, लगाई फटकार

  • पेयजल वितरण व्यवस्था में सुधार की दी हिदायत

ग्वालियर, मध्यप्रदेश। बारिश के चलते शहर की अधिकांश सड़कें खराब पड़ी हैं। पिछली बैठक में मैंने बताया था कि किन सड़कों को प्राथमिकता देते हुए पेंच रिपेयरिंग की जानी है, लेकिन अब तक उन पर भी काम शुरू नहीं हुआ। आखिर चल क्या रहा है। आप लोग कैसे काम कर रहे हैं। यह स्थिति अब बर्दाश्त नहीं होगी। जर्जर सड़कें युद्ध स्तर पर ठीक करें और पेजयल वितरण व्यवस्था को भी ठीक किया जाए। यह नाराजगी ऊर्जा मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर ने रविवार को आयोजित समीक्षा बैठक में जताई। वह कन्ट्रोल कमाण्ड सेंटर में अधिकारियों से चर्चा कर रहे थे।

बैठक के दौरान ऊर्जा मंत्री ने व्यवस्थाओं को लेकर गंभीर नाराजगी व्यक्त की। उन्होंने कहा कि पेजयल व्यवस्था बेहतर करने के लिए शासन से पैसा स्वीकृत कराया गया है लेकिन जर्जर लाईनें बदलना भी शुरू नहीं किया गया। साथ ही अमृत योजना के लिए सीवर एवं पानी की लाईनें डालने के लिए जो सड़कें खोदी गई हैं उनकी पेंचरिपेयरिंग भी शुरू नहीं कराई गई। स्ट्रीट लाईट पर करोड़ों रुपय खर्च किए जा रहे हैं फिर भी अधिक तर लाईटें बंद पड़ी रहती है। यह स्थिति ठीक नहीं है। ऊर्जा मंत्री ने यह भी निर्देश दिए कि अति वर्षा के कारण जो सड़कें खराब हुई हैं। उन्हें ठीक करने का कार्य युद्ध स्तर पर किया जाए। सड़कों की पेच रिपेयरिंग के लिये पृथक-पृथक दल गठित कर कार्य कराया जाए। निगम के वरिष्ठ अधिकारी इसकी मॉनीटरिंग करें। ऊर्जा मंत्री ने यह भी निर्देशित किया है कि जो सड़कें स्वीकृत हैं उसका कार्य भी तेजी से कराया जाए। बैठक में कलेक्टर कौशलेन्द्र विक्रम सिंह, प्रभारी निगमायुक्त आशीष तिवारी, एडीएम रिंकेश वैश्य, स्मार्ट सिटी सीईओ श्रीमती जयति सिंह सहित निगम के अधिकारी और जनप्रतिनिधि अशोक शर्मा भी उपस्थित थे।

बंद नहीं रहनी चाहिए स्ट्रीट लाईट :

ऊर्जा मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर ने स्ट्रीट लाईट की समीक्षा करते हुए निर्देश दिए कि कोई भी लाईट बंद नहीं रहना चाहिए। बरसात के मौसम में किसी भी क्षेत्र में अंधेरा नहीं रहना चाहिए। स्मार्ट सिटी के माध्यम से स्ट्रीट लाईट के क्षेत्र में जो कार्य किया जा रहा है उसमें नगर निगम के अधिकारी समन्वय कर व्यवस्था को ठीक करें। विद्युत समस्या के निराकरण के लिये निगम कंट्रोल रूम संचालित करें। कंट्रोल रूम पर प्राप्त होने वाली शिकायतों का निराकरण तत्परता से किया जाए।

अधिकारियों ने कहा व्यवस्थाएं सुधरेंगी :

कलेक्टर कौशलेन्द्र विक्रम सिंह ने निगम के अधिकारियों को निर्देशित किया है कि पेच रिपेयरिंग का कार्य तेजी के साथ गुणवत्ता से करें। उन्होंने यह भी निर्देशित किया है कि बरसात के मौसम में सभी स्ट्रीट लाईट चालू रहें। किसी भी क्षेत्र में अगर अंधेरा होने की सूचना प्राप्त होगी तो संबंधित अधिकारी के विरूद्ध दण्डात्मक कार्रवाई की जायेगी। उन्होंने पेयजल वितरण व्यवस्था को भी बेहतर बनाने के निर्देश दिए हैं। प्रभारी निगमायुक्त आशीष तिवारी ने भी आश्वस्त किया कि निगम का पूरा अमला पेच रिपेयरिंग, पेयजल वितरण और स्ट्रीट लाईट के संधारण के कार्य को बेहतर ढंग से करेगा।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.
Top Hindi News Bhopal,Trending, Latest viral news,Breaking News - Raj Express
www.rajexpress.co