रिंग रोड जबलपुर का उद्घाटन करते नितिन गडकरी और शिवराज सिंह चौहान
रिंग रोड जबलपुर का उद्घाटन करते नितिन गडकरी और शिवराज सिंह चौहानSocial Media

मध्यप्रदेश में छह लाख करोड़ रुपये से अधिक की सड़कें बनाई जाएंगी : नितिन गडकरी

केन्द्रीय मंत्री श्री नितिन गड़करी और मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने जबलपुर में 4054 करोड़ रुपये लागत से 214 किलोमीटर लंबाई की 8 सड़क परियोजना का शिलान्यास और लोकार्पण किया।

जबलपुर, मध्यप्रदेश। केन्द्रीय सड़क परिवहन मंत्री नितिन गड़करी ने कहा है कि मध्यप्रदेश में 6 लाख करोड़ रुपये से अधिक लागत की सड़कें बनाई जाएंगी।

केन्द्रीय मंत्री श्री गडकरी और मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने जबलपुर में 4054 करोड़ रुपये लागत से 214 किलोमीटर लंबाई की 8 सड़क परियोजना का शिलान्यास और लोकार्पण किया। उन्होंने विकास कार्यों के लिये आधा दर्जन मार्गों को मंजूरी देते हुए सौगात दी। जिसका लाभ दमोह, सागर, सिवनी, बालाघाट, कटनी, डिण्डौरी सहित पूरे मध्य भारत को मिलेगा।

श्री गडकरी ने कहा कि मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के भागीरथ प्रयासों से मध्यप्रदेश बीमारू राज्य से विकसित राज्य बन गया है। उन्होंने मुख्यमंत्री के आग्रह पर जबलपुर में लॉजिस्टिक पार्क स्वीकृत करने की घोषणा की। श्री गडकरी ने कहा कि जबलपुर में विकास की अपार संभावनाओं को मूर्त रूप देने के लिये केन्द्र सरकार से हमेशा सहयोग मिलेगा। यहाँ शिक्षा, चिकित्सा, उद्योग, रोजगार सहित अन्य सभी सेक्टर्स में विकास को गति मिलेगी। जबलपुर नगर में एम्पायर टॉकीज से कटंगा, साउथ एवेन्यू मॉल से ग्वारी घाट-गुरूद्वारा तक रोप-वे को मंजूरी दी जा रही है। साथ ही सिविक सेंटर से मालवीय लार्डगंज, बड़ा फुहारा, बल्देव बाग तक फिजिबिलिटी रिपोर्ट तैयार होते ही फ्लाई ओवर निर्माण की स्वीकृति दी जाएगी।

केन्द्रीय मंत्री श्री गड़करी ने कहा कि मुख्यमंत्री श्री चौहान प्रदेश में जहाँ कहीं भी लॉजिस्टिक पार्क की स्थापना का प्रस्ताव देंगे उन सबको मंजूरी दे दी जाएगी। उन्होंने कहा कि शहपुरा-भिटोनी मार्ग को उन्नत करने और उमरिया-डुंगरिया मार्ग को रिंग रोड से जोडऩे के कार्य को स्वीकृति दी जाएगी। उन्होंने कहा कि केन्द्रीय राज्य मंत्री प्रहलाद सिंह पटेल द्वारा शहपुरा-नरसिंहपुर और दमोह की सभी सड़क परियोजनाओं को जल्द ही मूर्त रूप दिया जायेगा। जबलपुर में रिंग रोड पर तैयार होने वाले आईकॉनिक ब्रिज को पर्यटन के लिये विकसित करने के लिये केन्द्र सरकार द्वारा सभी संभव मदद दी जाएगी।

श्री गड़करी ने कहा कि जबलपुर से दमोह तक 800 करोड़ रुपये की लागत से 100 किलोमीटर 2 लेन सड़क निर्माण की मंजूरी दी गई है। इस मार्ग के लिये डीपीआर का कार्य पूरा हो गया है। शीघ्र ही निर्माण कार्य शुरू होगा। जबलपुर के आईएसबीटी से पाटन तक 2 लेन सड़क, नरसिंहपुर से सिंहपुर तक 10 किलोमीटर लंबी 4 लेन सड़क को मंजूरी दी गई है। नरसिंहपुर से श्योपुर मार्ग का डीपीआर बहुत जल्द तैयार हो जायेगा। सिवनी से बालाघाट तक 88 किलोमीटर लंबा मार्ग नया एनएच होगा। बालाघाट से राजेगाँव तक 4 लेन मार्ग के लिये टेंडर प्रक्रिया वर्ष 2023 तक पूर्ण हो जाएगी। राजेगाँव से रायपुर तक 3 हजार 500 करोड़ रूपये लागत से नया सड़क मार्ग तैयार किया जायेगा।

उन्होंने कहा कि जबलपुर में बनने वाले रिंग रोड के आसपास की जमीन राज्य सरकार अधिग्रहित करे। डेव्हलपमेंट अथॉरिटी बनाये। इस जमीन पर लॉजिस्टिक पार्क, इण्डस्ट्रियल क्लस्टर और स्मार्ट सिटी का निर्माण किया जा सकता है1 उन्होंने कहा कि भेड़ाघाट में म्यूजिकल फाउंटेन बनाने में केन्द्र सरकार मदद करेगी।

श्री गडकरी ने कहा कि जबलपुर और नागपुर के मध्य मेट्रो ट्रेन जल्दी ही शुरू की जाएगी। इसमें 8 बोगी होंगी। दो बोगी फल-सब्जियों के लिये रहेंगी। शेष छह बोगी में एक बिजनेस क्लास बोगी होगी, जिसमें हवाई जहाज की तरह सुविधाएँ होंगी।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा है कि सड़क परियोजनाओं-रिंग रोड का निर्माण जबलपुर के सर्वांगीण विकास की गारंटी है। यह केवल रिंग रोड ही नहीं है, बल्कि युवाओं के रोजगार, उद्योग, व्यापार, शिक्षा और स्वास्थ्य सहित विकास के लिये अनेक द्वार खोलने वाली परियोजना है। इससे महाकौशल क्षेत्र में पर्यटन की संभावनाएँ बढ़ेंगी। उन्होंने कहा कि आने वाले दिनों में जबलपुर प्रदेश के सर्वाधिक विकसित शहरों में होगा। श्री चौहान ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के सक्षम नेतृत्तव में तेजी से आगे बढ़ रहा है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि केन्द्रीय मंत्री श्री गड़करी ने देश में विकास की नई परंपरा शुरू की है। उनकी कल्पनाशीलता का लाभ सभी को मिल रहा है। उन्होंने असंभव को भी संभव बनाया है। मुख्यमंत्री ने कहा कि अमृत फेज-दो में जबलपुर के लिये 720 करोड़ रुपये के कार्य स्वीकृत किये जा रहे हैं। डुमना एयरपोर्ट 421 करोड़ रुपये की लागत से बन रहा है। उन्होंने आईकॉनिक ब्रिज बनाने और मॉस रेपिड ट्रांसपोर्ट सिस्टम को आधुनिकतम बनाने का भी आग्रह किया। मुख्यमंत्री ने कहा कि जन-प्रतिनिधियों के विकास एवं जन-कल्याण संबंधी कार्यों के प्रस्ताव स्वीकृति के लिये भेजे जाएंगे।

केन्द्रीय जल शक्ति एवं खाद्य प्र-संस्करण एवं उद्योग राज्य मंत्री प्रहलाद सिंह पटेल ने कहा है कि हर क्षेत्र में विकास कार्य हो रहे हैं, जिसका लाभ सभी को मिल रहा है। दमोह जिले में भी जल्द राष्ट्रीय राजमार्ग रफ्तार भरेगा। विकास की जो नींव आज रखी जा रही है, उसका लाभ आने वाले 50 वर्ष तक मिलेगा।

प्रदेश के लोक निर्माण और जबलपुर जिले के प्रभारी मंत्री गोपाल भार्गव ने कहा कि देश ने वर्ष 2014 के बाद विकास की रफ्तार पकड़ी है। सड़कों के बिना विकास की कल्पना ही नहीं की जा सकती। उच्च गुणवत्ता की सड़कें क्षेत्र को और लोगों को समृद्ध बनाती हैं। उन्होंने कहा कि केन्द्रीय मंत्री श्री गड़करी कामधेनु और कल्पवृक्ष की तरह विकास और जन-कल्याण की सभी माँगों को पूरी करते हैं।

सांसद राकेश सिंह ने कहा कि महाकौशल अंचल को आज मिली 13 सड़क परियोजनाओं की सौगात से इस क्षेत्र में आर्थिक गतिविधियाँ बढ़ेंगी, संपन्नता आयेगी और युवाओं के लिये रोजगार के अवसर बढ़ेंगे। उन्होंने इन परियोजनाओं की सौगात देने के लिये केन्द्रीय मंत्री श्री गड़करी का आभार माना।

होशंगाबाद के सांसद उदय प्रताप सिंह, राज्य सभा सांसद कैलाश सोनी, राज्य सभा सांसद विवेक तन्खा, राज्य सभा सांसद सुमित्रा वाल्मीकि, महापौर जगत बहादुर सिंह, पाटन विधायक अजय विश्नोई, पनागर विधायक सुशील कुमार तिवारी, केंट विधायक अशोक रोहाणी, सिहोरा विधायक नंदिनी मरावी, तेंदूखेड़ा विधायक संजय शर्मा, जबलपुर उत्तर विधायक विनय सक्सेना, बरगी विधायक संजय यादव मंच पर उपस्थित थे।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.
| Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co