भीड़ ने दलित को किया आग के हवाले, कार्रवाई के जगह हो रही खानापूर्ति
भीड़ ने दलित को किया आग के हवालेPriyanka Yadav - RE

भीड़ ने दलित को किया आग के हवाले, कार्रवाई के जगह हो रही खानापूर्ति

दलित समाज के युवक को घेरकर जिंदा जला दिया, दुःखद और अमानवीय घटना के संबंध में कार्रवाई के नाम पर औपचारिकता।

राज एक्सप्रेस। मध्यप्रदेश के सागर में 14 जनवरी को दलित समाज के 24 वर्षीय युवक धनीराम अहिरवार को 15 से 20 लोगों द्वारा घेरकर जिंदा जला दिया जाता है, लेकिन कार्रवाई के नाम पर सिर्फ 2-3 लोगों को ही पकड़ा है। इस तरह की दुःखद और अमानवीय घटना के संबंध में कार्रवाई के नाम पर औपचारिकता इसलिए की जा रही है, क्योंकि कांग्रेस वोट बैंक और तुष्टिकरण की राजनीति कर रही है। भारतीय जनता पार्टी यह चेतावनी देती है कि सरकार का यह रवैया किसी कीमत पर बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। यह बात भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष व सांसद श्री राकेश सिंह ने शनिवार को मीडिया से चर्चा करते हुए कही।

पहले शिकायत की, फिर भी नहीं की कार्रवाई

श्री राकेश सिंह ने कहा कि जिस युवक धनीराम को जिंदा जलाया गया है, वह सागर के मोतीनगर थाने में आरोपियों की शिकायत करके उनसे बचाने की गुहार लगा चुके थे। पुलिस अगर इस शिकायत पर कार्रवाई करती, तो यह हादसा नहीं होता। लेकिन यदि जान से मारने की आशंका जताए जाने पर भी पुलिस कार्रवाई नहीं करती है, तो यह प्रशासनिक अकर्मण्यता और अराजकता है।

पीड़ित युवक अस्पताल में मौत से संघर्ष कर रहा है, लेकिन उसे देखने ना मुख्यमंत्री कमलनाथ पहुंचे, ना सरकार का कोई मंत्री पहुंचा, ना ही कांग्रेस का कोई विधायक। पीड़ित युवक के गरीब परिजनों को कोई सहायता भी नहीं दी गई। उन्होंने कहा कि एक दलित युवक के लिए भी सरकार की मानवीयता ना जागे, इससे अधिक दुर्भाग्यपूर्ण क्या होगा?

प्रदेश अध्यक्ष व सांसद श्री राकेश सिंह

श्री राकेश सिंह ने कहा कि कांग्रेस की सरकार बात-

बात पर भारतीय जनता पार्टी पर यह आरोप लगाती है कि हम विरोध की राजनीति करते हैं, जबकि भारतीय जनता पार्टी सरकार की गड़बड़ियों को जनता के बीच ले जाने का काम करती है। इससे कांग्रेस को तकलीफ होती है। श्री सिंह ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी इस विषय को भी पुरजोर तरीके से उठायेगी। आज नेता प्रतिपक्ष श्री गोपाल भार्गव उनको देखने सागर गए थे। पार्टी की ओर से इस घटना को लेकर एक प्रतिनिधिमंडल सागर जाएगा और धनीराम के परिवार से मिलकर तथ्यों को एकत्रित करेगा। उसके बाद आगे की कार्रवाई करेंगे। श्री सिंह ने कहा कि जिस तरह से मध्यप्रदेश में धर्म और संप्रदाय के आधार यह सरकार काम कर रही है वह दुर्भाग्यपूर्ण है।

नेता प्रतिपक्ष पीड़ित से मिलने पहुंचे

नेता प्रतिपक्ष श्री गोपाल भार्गव पीड़ित से मिलने पहुंचे। उन्होंने कहा कि पांच दिन पहले सागर में अल्पसंख्यक समुदाय के लोगों ने 24 वर्षीय दलित धनीराम को जिंदा जला दिया। पुलिस-प्रशासन सरकार के दबाव में एक वर्ग विशेष के लोगों को संरक्षण देने का काम कर रहा है। यदि सरकार इस मामले के दोषियों के खिलाफ ठोस कार्रवाई नहीं करती है, तो शोषित वर्ग को न्याय दिलाने के लिये हम सागर में धरना देंगे। श्री भार्गव ने गंभीर अवस्था में अस्पताल में भर्ती धनीराम से भेंट की और उसके स्वस्थ होने की कामना की।

पुलिस-प्रशासन का रवैया चिंताजनक

श्री भार्गव ने कहा कि अल्पसंख्यक समुदाय के 15 से 20 लोगों की हिंसक भीड़ ने अकेले युवक धनीराम को घेरकर जिंदा जला दिया। इस मामले को स्थानीय विधायक श्री प्रदीप लारिया ने विधानसभा में भी उठाने की कोशिश की थी। श्री भार्गव ने कहा कि यह घटना तो दुःखद है ही, इतने दिन बीत जाने के बाद भी सभी दोषियों पर कार्रवाई ना किया जाना भी दुर्भाग्यपूर्ण है।

उन्होंने कहा कि

यह अत्यंत गंभीर एवं चिंताजनक विषय है और इस पूरे मामले में सीधे-सीधे पुलिस अधिकारियों की लापरवाही और अनुसूचित जाति के पीड़ित व्यक्ति के प्रति उपेक्षा का भाव सामने आया है। श्री भार्गव ने पीड़ित युवक के उपचार की समुचित व्यवस्था किए जाने की मांग करते हुए कहा कि सागर जिले में इस तरह की अनेक घटनाएं हो रही हैं, लेकिन आरोपी पकड़े नहीं जा रहे हैं।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

No stories found.
Top Hindi News Bhopal,Trending, Latest viral news,Breaking News - Raj Express
www.rajexpress.co