CM ने PM मोदी पर सीएए के लेकर साधा निशाना
CM ने PM मोदी पर सीएए के लेकर साधा निशाना |Social Media
मध्य प्रदेश

मोदी सरकार की नीतियों पर CM कमलनाथ ने लगाए प्रश्नचिन्ह

मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ ने PM मोदी पर नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) को लेकर निशाना साधा है।

Priyanka Yadav

Priyanka Yadav

राज एक्सप्रेस। मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ ने PM मोदी पर नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) के लेकर निशाना साधा है। सागर में आयोजित सभा में प्रधानमंत्री की कार्यशैली को लेकर सवाल उठाए। CM कमलनाथ ने कहा है कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) की बात करके किसानों और नौजवानों का ध्यान मोड़ने का प्रयास कर रहे हैं।

CM कमलनाथ ने सागर के पीटीसी मैदान पर संत रविदास जयंती के उपलक्ष्य में आयोजित जाग्रति सम्मेलन को संबोधित करते हुए कहा कि मोदी ने दो करोड़ लोगों को रोजगार दिलाने और खेती के लिए लाभ का धंधा बनाने की बात कही थी, लेकिन अब वे सीएए की बात करके किसानों और नौजवानों का ध्यान मोड़ने की बात कर रहे हैं।

देश में किसानों द्वारा आत्महत्या करने के प्रकरण तथा बेरोजगारी बढ़ी है। देश उनकी कलाकारी को पहचान चुका है। बात कहने और देश चलाने में बड़ा अंतर होता है।

मुख्यमंत्री कमलनाथ ने कहा-

इस अवसर पर CM कमलनाथ ने कहा-

नीति और नीयत का परिचय देकर कांग्रेस ने शुरूआत की है। उन्होंने कहा कि चौदह माह पहले प्रदेश में कांग्रेस की सरकार बनी। सरकार की तिजोरी खाली थी। किसानों की आत्महत्या, बेरोजगारी और महिला अत्याचार के मामले में प्रदेश नंबर वन पर था। कांग्रेस सरकार को काम करने के लिए 11 माह मिले। उन्होंने कहा कि विपक्ष के लोग कहते थे कि कांग्रेस सरकार कैसे चलायेगी। कांग्रेस सरकार जनता से किए गए अपने सभी वादों को पूरा करेगी।

उन्होंने कहा कि सागर प्रेम, संस्कृति, मूल्यों की नगरी है। हम आपको निराश नहीं होने देंगे। कांग्रेस सरकार काम में विश्वास करती है। सरकार हर साल प्रदेश का हिसाब जनता को देगी, जिसमें खेती किसानी, रोजगार, पट्टामाफ का हिसाब रहेगा। कृषि क्षेत्र में पहले खेती में कम उपज चुनौती थी, अब अधिक उत्पादन चुनौती है। किसान को उपज का सही दाम मिलेगा। नौजवानों के भविष्य का निर्माण करेंगे। नौजवानों का भविष्य सुरक्षित रहेगा, तो आर्थिक गतिविधि बनेगी और निवेश भी आयेगा।

उन्होंने कहा कि- प्रदेश में विकास का नया इतिहास बनायेंगे

सम्मेलन की अध्यक्षता करते हुए प्रदेश के मंत्री लखन घनघोरिया ने कहा कि संत रविदास ने धार्मिक आध्यात्मिक सामाजिकता का संदेश दिया है। केंद्र सरकार द्वारा बनाए जा रहे माहौल से सतर्क रहने की जरूरत है। आरक्षण पर भी चोट पहुंचाने की कोशिश की जा सकती है। उन्होंने सागर में रविदास भवन निर्माण के लिए एक करोड़ रूपये देने की बात कही।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Raj Express
www.rajexpress.co