ट्रिपल मर्डर केस की सुलझी गुत्थी
ट्रिपल मर्डर केस की सुलझी गुत्थी|Deepika Pal - RE
मध्य प्रदेश

ट्रिपल मर्डर केस- सुलझी गुत्थी, पैसों की चाह में बेटा बना हत्यारा

सागर, मध्यप्रदेश : जिले के दिल दहलाने वाले घटनाक्रम का हुआ खुलासा, महज कुछ पैसों के लिए परिवार को उतारा मौत के घाट ।

Deepika Pal

Deepika Pal

राज एक्सप्रेस। पैसों की चाह के आगे लोग इतने अंधे हो जाते हैं कि अपने परिवार की जान को भी नहीं बख्शतें इसी से जुड़ा प्रदेश के सागर जिले में बीते दिनों सामने आया था जहां एक आर्मी के पूर्व सैनिक, पत्नी और बेटे की बेरहमी से हत्या हुई थी जिसमें पुलिस को मृतक पूर्व सैनिक के बड़े बेटे पर संदेह था। इस मामले पर पुलिस ने कार्रवाई करते हुए हत्या की गुत्थी को सुलझा लिया है जिसमें आरोपी बेटे को पकड़कर गिरफ्त में लिया गया है। मामले में खुलासा हुआ है कि सिर्फ 1500 रूपए के लिए आरोपी बेटे ने अपने ही परिवार को मौत के घाट उतार दिया।

क्या था पूरा मामला :

जानकारी के मुताबिक, यह हत्या का मामला जिले के मकरोनिया थाना क्षेत्र के आनंद नगर से सामने आया है जिसमें मृतक परिवार के मुखिया आर्मी रिटायर्ड हैं। जिनके परिवार में पत्नी के अलावा दो बेटे हैं। हत्या के बाद आर्मी रिटायर्ड दंपती और एक नाबालिग बेटे की लाश कमरे में पड़ी हुई थी, पड़ोसियों ने घर से बदबू आने पर इसकी सूचना पुलिस को दी। जिसके बाद पुलिस मौके पर पहुंची तो देखा तीनों के मुंह व नाक से निकला खून फर्श पर पड़ा हुआ था। वहीं हत्या के बाद से ही परिवार का बड़ा बेटा फरार है, पुलिस को बड़े बेटे पर हत्या का संदेह है। मामले में मृतक रामगोपाल के सहकर्मी ने बताया कि, मृतक 23 जनवरी से ड्यूटी पर नहीं आया था और उसका फोन भी बंद था इसकी जानकारी लेने घर पहुंचा तो बड़े बेटे ने देवरी जाने की बात कही थी।

पुलिस ने किया खुलासा :

मामले में जिला एसपी अमित सांघी ने खुलासा करते हुए बताया कि, आरोपी की तलाश संदेह के आधार पर की जा रही थी, जिसकी सूचना मुखबिर से उस दौरान मिली जब आरोपी एक दुकान से मोबाइल सिम लेने का प्रयास कर रहा था। सूचना के आधार आरोपी को पकड़कर गिरफ्त में लिया गया है। आरोपी ने खुलासा करते हुए हत्या करने का जुर्म कबूल किया और बताया कि, वारदात के दिन वह घर पहुंचा था और मां से 1500 रूपए की मांग की थी उस दौरान मां टीवी देख रही थी और पिता किसी काम से बाहर गए हुए थे। उसी दौरान मां ने पैसे देने से मना किया तो आरोपी ने दुपट्टे से गला दबाकर हत्या कर दी वही मां की हत्या के बाद जैसे ही पिता मौके पर पहुंचे, मां की हत्या का शक ना हो इसके चलते पिता की लाइसेंसी बंदूक से दो गोलियां चलाकर जान ले ली। इसके बाद आरोपी अपने छोटे भाई को ट्यूशन लेने के लिए गया था माता- पिता की हत्या का खुलासा ना हो इसके चलते अपने भाई की भी गला घोंटकर हत्या कर दी। हत्या करने के बाद आरोपी घर में ताला डालकर दोस्त के घर चला गया था।

चार दिन तक लाशों के साथ रहा आरोपी :

आरोपी से की पूछताछ में सामने आया कि, वारदात के दिन आरोपी ने कुछ खरीददारी भी की थी और अगले दिन अपने स्कूल में होने वाली फेयरवेल पार्टी में 5000 हजार का सूट पहनकर पहुंचा था। हत्या के बाद आरोपी चार दिनों तक लाशों के साथ रहा था। आरोपी को पूछताछ के बाद आगे की कार्रवाई कर नाबालिग होने के चलते जुवेनाइल कोर्ट भेजा गया है ।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Raj Express
www.rajexpress.co