Raj Express
www.rajexpress.co
नहीं मिल पा रहा सरकार की योजनाओं का लाभ
नहीं मिल पा रहा सरकार की योजनाओं का लाभ|Arvind Tiwari
मध्य प्रदेश

सागरः चोरी की मजबूरी ने खोली शासकीय योजनाओं की पोल

सागर, मध्यप्रदेश: सरकार गरीब और जरूरत मंद लोगों के लिए कई योजनाएं चलाती है लेकिन योजनाओं का लाभ ना मिलने से मजबूर गरीब देते है चोरी जैसी घटनाओं को अंजाम ।

Arvind Tiwari

राज एक्सप्रेस। मध्यप्रदेश के सागर जिले के रहली और आसपास के ग्रामीण क्षेत्रों में नवरात्र पर्व से ही चोरी की घटनाएं खास तौर पर मंदिरों में बढ़ रही थी जिससे पुलिस चोरों को पकड़ने में नाकाम रही और आम नागरिक भी परेशान हो रहे थे।

पुलिस ने मामूली सी चोरी में नाबालिग बालिका को पकड़ाः

नगर में एक सप्ताह के भीतर अलग-अलग स्थानों से पलक झपकते ही दो मोटरसाइकिल चोरी हो गई, साथ ही विगत माह में पंढरपुर मंदिर के गर्भ गृह में तीन ताले तोड़कर चांदी के मुकुट छत्र और मूर्तियों सहित कीमती सामान चोरी होने का सुराग एक माह में भी नहीं लग पाने का दंश झेल रही पुलिस ने टिकीटोरिया मंदिर मे मामूली 250 रुपए की चोरी की आरोपी 12 वर्षीय बालिका को हिरासत में लेकर बाल सुधार गृह तक भेज दिया। जबकि क्षेत्र के लगभग आधा दर्जन चोरियों के शातिर बदमाश आज भी खुलेआम घूम रहे हैं।

सोशल मीडिया पर बालिका के समर्थन में आगे आए लोगः

इस घटना को सोशल मीडिया पर प्रसारित किया गया तो 12 वर्षीय बालिका के साथ हुई। इस घटना से हजारों लोग जन भावनाओं के साथ उस गरीब 12 वर्षीय बालिका के सहयोग के लिए आगे आ गए।

बालिका का झोपड़ीनुमा घर
बालिका का झोपड़ीनुमा घर
Arvind Tiwari

नहीं मिल पाता परिवार को सरकारी योजनाओं का लाभः

इस घटना की सत्यता को जानने के लिए पत्रकार पंकज शर्मा, बृजेश वर्मा , प्रवीण सोनी बालिका के घर पहुंचे जहां बालिका के पिता ने बताया कि, रहने के घर के नाम पर बरसाती ढंकी हुई एक छोटी सी झोपड़ी है जिस पर चारों ओर एक भी ईट नहीं लगी है घर में दरवाजा बंद करने तक की कोई व्यवस्था नहीं है, गरीबी रेखा के नीचे आते है या नहीं यह भी ज्ञात नहीं, लेकिन सफेद रंग का राशन कार्ड अर्थात एपीएल मौजूद है, जिसका लाभ कैसे मिलेगा पता नहीं। वहीं वार्ड में सैंकड़ों की तादाद में आवास मंजूर हुए लेकिन प्रधानमंत्री आवास योजना का लाभ भी इस परिवार को नहीं मिल सका ।

यह है घटनाः

आरोपी बालिका के पिता से इस वारदात के बारे में जानना चाहा तो बताया कि, वारदात के पहले आरोपी लड़की दस किलो गेंहू एक आटा चक्की पर पिसवाने रख गयी थी। जो वापस आने पर नही मिला घर में और अन्य अनाज न होने के चलते आरोपी ने टिकीटोरिया मंदिर जाकर चोरी की वारदात को अंजाम दिया। दस किलो गेंहू खरीदकर बाकी के 70 रूपये स्कूल बैग में मिले।

बालिका और परिवार की मदद के लिए प्रशासन आया सामने
बालिका और परिवार की मदद के लिए प्रशासन आया सामने
Arvind Tiwari

बालिका और उसके परिवार के लिए प्रशासन आया सामनेः

इस घटना की जानकारी जब प्रशासन और मीडिया आला अधिकारी को लगी तो बालिका और उसके परिवार की मदद के लिए आगे आए। मुख्यमंत्री कमलनाथ ने सोशल मीडिया पर नगद एक लाख रूपए प्रदान करने जानकारी दी। नेता प्रतिपक्ष गोपाल भार्गव ने बालिका को तुरंत वापिस बुलाने की व्यवस्था की बात कही और रहली पहुंच कर हर संभव मदद का आश्वासन दिया। एसडीएम सीए वर्मा, बालिका के घर सीएओं नित्यानंद पाण्डेय, सहायक खाद्य अधिकारी भावना तिवारी, और शशि शर्मा विघुत कर्मचारियों के साथ पहुंचे और पीड़ित परिवार को स्थल पर जमीन पट्टा, प्रधान मंत्री योजना से आवास, गरीबी रेखा मे नाम जोड़ कर नीला कार्ड, गेंहू, चावल, रसोई गैस कनेक्शन विद्युत फिटिंग मीटर और पहने के कपड़े और सोने के लिए दरी चादर आदि प्रदान किए।