Rishi Panchami 2022
Rishi Panchami 2022Priyanka Yadav-RE

Rishi Panchami 2022: भारत की समृद्ध ऋषि परंपरा को नमन करते हुए CM ने सभी को दी ऋषि पंचमी की बधाई

Rishi Panchami 2022: ऋषि पंचमी के पावन पर्व की बधाई देते हुए सीएम शिवराज ने कहा कि, सप्तऋषियों के आशीर्वाद से विश्व में प्रेम,शांति,सौहार्द और सद्भाव बढ़े, यही कामना करता हूं।

Rishi Panchami 2022: आज ऋषि पंचमी का व्रत है, हिंदू पंचांग के अनुसार, भाद्रपद मास में शुक्ल पक्ष की पंचमी तिथि को ऋषि पंचमी का पर्व मनाया जाता है। यह गणेश चतुर्थी के अगले ही दिन पड़ता है, इस वर्ष ऋषि पंचमी आज 1 सितंबर को है, ऋषि पंचमी को गुरु पंचमी, भाई पंचमी के नाम से भी जाना जाता है, ऋषि पंचमी पर सप्तऋषियों की विशेष पूजा-अर्चना की जाती है।

सीएम शिवराज ने ट्वीट कर किया नमन :

मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने ट्वीट कर लिखा है कि, कश्यपोत्रिर्भरद्वाजो विश्वामित्रोथ गौतमः जमदग्निर्वसिष्ठश्च सप्तैते ऋषयः स्मृताः॥ भारतीय संस्कृति के संवाहक, महान ऋषियों के आदर्शों, मूल्यों के प्रेरणा पर्व ऋषि_पंचमी की हार्दिक बधाई! सप्तऋषियों के आशीर्वाद से विश्व में प्रेम,शांति,सौहार्द और सद्भाव बढ़े, यही कामना करता हूं।

भारत की समृद्ध ऋषि परंपरा को नमन करते हुए सभी देश व प्रदेशवासियों को ऋषि पंचमी के पावन पर्व पर हार्दिक बधाई एवं शुभकामनाएं। आप सभी पर समस्त ऋषि-मुनियों का आशीर्वाद एवं अनुपम कृपा दृष्टि सदैव बनी रहे है।

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान

गृहमंत्री ने भी किया ट्वीट :

मध्यप्रदेश के गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा ने ट्वीट कर लिखा- समस्त देशवासियों को ऋषि पंचमी की हार्दिक बधाई एवं शुभकामनाएं। सनातन परंपरा के आदर्शों को जीवन में आत्मसात करने वाले इस प्रेरणा-पर्व पर हमारी संस्कृति व मूल्यों के संवाहक ऋषि-मुनियों को सादर नमन करता हूं।

भाद्रपद मास के शुक्ल पक्ष की पंचमी तिथि को मनाई जाती ऋषि पंचमी :

हिंदू पंचांग के अनुसार, भाद्रपद मास में शुक्ल पक्ष की पंचमी तिथि को ऋषि पंचमी का पर्व मनाया जाता है, यह गणेश चतुर्थी के अगले ही दिन पड़ता है। इस वर्ष ऋषि पंचमी आज 1 सितंबर को है, ऋषि पंचमी को गुरु पंचमी, भाई पंचमी के नाम से भी जाना जाता है। इस दिन गंगा स्नान करके ऋषियों की पूजा की जाती है। ऐसी मान्यता है कि, इस व्रत को करने से सभी प्रकार के पाप दूर हो जाते हैं, इस व्रत को विशेष रूप से महिलाएं रजस्वला काल के दौरान हुई गलतियों की क्षमा मांगने के लिए करती है।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.
| Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co