Raj Express
www.rajexpress.co
बन्दूक की नोक पर न्यायाधीश के घर से काटे चन्दन के पेड़
बन्दूक की नोक पर न्यायाधीश के घर से काटे चन्दन के पेड़|Social Media
मध्य प्रदेश

रीवा: बन्दूक की नोक पर न्यायाधीश के घर से काटे चन्दन के पेड़

रीवा, मध्यप्रदेश: जिले में उस वक्त हड़कंप मच गया जब न्यायिक मजिस्ट्रेट के बंगले से चंदन का पेड़ चोरी होने की वारदात सामने आई।

Sudha Choubey

Sudha Choubey

राज एक्सप्रेस। मध्यप्रदेश के रीवा जिले में उस वक्त हड़कंप मच गया जब न्यायिक मजिस्ट्रेट के बंगले से चंदन का पेड़ चोरी होने की वारदात सामने आई। बता दें कि, मध्य प्रदेश के रीवा जिले में जिला अदालत के न्यायाधीश के घर पर पांच चोरों के एक गिरोह ने धावा बोला और चार चंदन के पेड़ काट दिए।

बंदूक की नोक पर बदमाशों ने दिया घटना को अंजाम :

बदमाशों ने गुरुवार और शुक्रवार की रात के दौरान इस घटना को अंजाम दिया। जानकारी मिलते ही सैनिक ने बदमाशों को पकड़ने का प्रयास किया, तो उन्होंने नगर सैनिक पर कट्टा अड़ा दिया। मामले लेकर पुलिस ने बताया कि, चोरों ने बंदूक की नोक पर न्यायाधीश के पुलिस गार्ड को धमकी देने के बाद पेड़ों को काट दिया।

पुलिस में शिकायत दर्ज :

शहर के पुलिस अधीक्षक शिवेंद्र सिंह ने पीटीआई को बताया कि, गार्ड बुद्धी लाल कोल ने इस संबंध में पुलिस में शिकायत दर्ज कराई।"शिकायत के अनुसार, चोरों में से एक ने 14 और 15 नवंबर की रात को सिविल लाइंस इलाके में जिला और सत्र अदालत के न्यायाधीश अरुण कुमार सिंह के बंगले में प्रवेश किया। उन्होंने कोल को पिस्तौल के साथ धमकी दी। जल्द ही, चार अन्य साथी आए उनके साथ शामिल हुए और गार्ड को बंदी बना लिया।

10 मिनट के भीतर, आरोपियों ने चंदन के पेड़ों को काट दिया और लॉग के साथ भाग गए। जब घटना हुई उस दौरान कुल चार गार्ड, जिनमें कोल भी शामिल थे, बंगले में अलग-अलग स्थानों पर तैनात थे। हालांकि, चोरों ने किसी को नुकसान नहीं पहुंचाया।

पुलिस ने कहा :

पुलिस ने कहा कि, जब घटना हुई थी तब न्यायाधीश और उनके परिवार के सदस्य सो रहे थे। सिंह के अनुसार, पुलिस को संदेह है कि आरोपी उत्तर प्रदेश के कन्नौज के थे, जो अगरबत्ती और इत्र की कई विनिर्माण इकाइयों का घर है। सीएसपी ने बताया कि, "पिछले दिनों, रीवा पुलिस ने कन्नौज से कुछ लोगों को शहर से चंदन के पेड़ काटने और चोरी करने के आरोप में गिरफ्तार किया था।"

चोरी हुए पेड़ों की कीमत लगभग 3 से 5 लाख :

उन्होंने कहा, "चंदन का इस्तेमाल अगरबत्ती और इत्र बनाने में किया जाता है। जज के घर से चोरी हुए पेड़ों की कीमत लगभग 3 से 5 लाख रुपये हो सकती है।" न्यायाधीश सिंह ने कहा कि, पुलिस ने इस सिलसिले में एक मामला दर्ज किया है और आरोपियों को पकड़ने के लिए एक खोज शुरू की है।

पहले भी हो चुकी है वारदात :

आपको बता दें कि, यह पहली बार नहीं है जहां जज के घर में चोरों ने धावा बोला हो इससे पहले भी ऐसे कई मामले सामने आ चुके हैं। पहले भी मध्यप्रदेश के राज्यों में जज के घर में घुसकर बंदूक की नोक पर चोरी कर चुके हैं।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर ।