इंदौर : संजय शुक्ला होंगे कांग्रेस के महापौर पद के प्रत्याशी
संजय शुक्ला होंगे कांग्रेस के महापौर पद के प्रत्याशीSocial Media

इंदौर : संजय शुक्ला होंगे कांग्रेस के महापौर पद के प्रत्याशी

इंदौर, मध्य प्रदेश : बीजेपी से बाजी मारते हुए कांग्रेस ने महापौर प्रत्याशी का ऐलान भी कर दिया है। विधायक संजय शुक्ला कांग्रेस के महापौर पद के प्रत्याशी होंगे।

इंदौर, मध्य प्रदेश। नगरीय निकाय चुनाव को लेकर कांग्रेस ने तैयारी शुरू कर दी है। कार्यकर्ता सम्मेलनों के जरिए पार्टी के वरिष्ठ नेता व पदाधिकारी, कार्यकर्ताओं में जोश भरने की कवायद में जुटे हैं। यही नहीं बीजेपी से बाजी मारते हुए कांग्रेस ने महापौर प्रत्याशी का ऐलान भी कर दिया है। विधायक संजय शुक्ला कांग्रेस के महापौर पद के प्रत्याशी होंगे। गुरुवार को रिंग रोड स्थित एक गार्डन में शहर कांग्रेस कमेटी द्वारा आयोजित कार्यकर्ता सम्मेलन में इंदौर नगर निगम चुनाव को लेकर कांग्रेस की प्रभारी बनाई गई विजयालक्ष्मी साधौ और सह प्रभारी विभा पटेल ने संजय शुक्ला का नाम महापौर पद के प्रत्याशी के बतौर घोषित किया। पूर्व मंत्री सज्जन सिंह वर्मा, जीतू पटवारी, विधायक विशाल पटेल, प्रदेश कांग्रेस के महासचिव मीडिया के के मिश्रा सहित कांग्रेस के अन्य नेता और बड़ी संख्या में कार्यकर्ता इस दौरान उपस्थित थे।

पूर्व केबिनेट मंत्री ने चुनांव लड़ने की दी चुनौती :

कार्यकर्ता सम्मेलन को संबोधित करते हुए पूर्व मंत्री सज्जन सिंह वर्मा ने बीजेपी के राष्ट्रीय महासचिव और पूर्व महापौर कैलाश विजयवर्गीय को तंज कसते हुए उन्हें संजय शुक्ला के खिलाफ महापौर पद का चुनाव लड़ने की चुनौती दे डाली। उन्होंने कहा कि संजय शुक्ला के सामने लड़ाने के लिए बीजेपी के पास कोई उम्मीदवार नहीं है। वह घबरा रही है। यदि सभी कांग्रेसजन एकजुट होकर संजय शुक्ला के पीछे खड़े हो जाएं तो कांग्रेस का महापौर इंदौर को मिल सकता है।

युवाओं को सौंपी जाए नेतृत्व की कमान :

सज्जन सिंह वर्मा ने कहा कांग्रेस में युवा नेतृत्व को आगे लाने की जरूरत है। कांग्रेस को मजबूती देने के लिए जरूरी है कि 70 से 80 फीसदी टिकट युवाओं को दिए जाएं। उन्होंने कहा कि टिकट मिले या न मिलें हमें मजबूती के साथ नगर निगम चुनाव में मुकाबला कर कांग्रेस की विजय पताका फहराना है।

कांग्रेस के विकास कार्यों का श्रेय बीजेपी ले लेती है :

पूर्व मंत्री सज्जन वर्मा ने बीजेपी को आड़े हाथों लेते हुए कहा कि एलिवेटेड ब्रिज की योजना को उन्होंने पीडब्ल्यूडी मंत्री रहते मंजूरी दिलाकर टेंडर भी करवा दिए थे। बीजेपी नए सिरे से कवायद कर उसका श्रेय खुद लेना चाहती है। कांग्रेसजनों को इस हकीकत से जनता को अवगत कराना चाहिए।

किसान आंदोलन को बदनाम करने की साजिश बीजेपी ने की :

सज्जन वर्मा ने आरोप लगाया कि नए कृषि कानून अडानी, अम्बानी जैसे उद्योगपतियों को लाभ पहुंचाने के लिए बनाए गए हैं। उन्होंने आरोप लगाया कि लाल किले में सैकड़ों ट्रेक्टर ले जाकर तिरंगे का अपमान करने वाला दीप संधू बीजेपी सांसद सन्नी देओल का प्रतिनिधि था। किसान आंदोलन को बदनाम करने के लिए यह साजिश रची गई थी।

कांग्रेसजनों को दिलाया संकल्प :

सज्जन सिंह वर्मा ने सम्मेलन में उपस्थित तमाम कांग्रेसजनों को दोनों हाथ उठाकर संकल्प दिलाया कि वे नगर निगम चुनाव में लामबंद होकर बीजेपी का मुकाबला करेंगे और कांग्रेस का महापौर व निगम परिषद बनाने में पूरा योगदान देंगे। वर्मा ने माना कि कांग्रेस के लिए यह संक्रमण काल है। ऐसे में एकजुट होकर ही हम पार्टी को पुन: ऊंचाई पर ले जा सकते हैं।

फरवरी में निगम का कार्यकाल खत्म हुआ था :

नगर निगम महापौर मालिनी गौड़ और 85 पार्षदों का पांच साल का कार्यकाल 2019 में फरवरी में खत्म हो गया था। इसके बाद संभागायुक्त आकाश त्रिपाठी ने निगम प्रशासक का प्रभार संभाला था। उनके पद संभालते ही इंदौर निगम में 26 साल बाद ऐसा हुआ था। इससे पहले 1994 तक प्रशासक निगम को चला रहे थे।

कांग्रेस ने सम्मेलन में आए कार्यकर्ताओं का रजिस्ट्रेशन भी किया :

नगरीय निकाय चुनाव को लेकर कांग्रेस बहुच सक्रिय नजर आई, सम्मेलन में पहुंचने वाले कांग्रेस नेता और कार्यकर्ताओं का रजिस्ट्रेशन भी किया गया।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

AD
No stories found.
Raj Express
www.rajexpress.co