Raj Express
www.rajexpress.co
एसडीएम ने जब्त किया अवैध रेत का भंडार
एसडीएम ने जब्त किया अवैध रेत का भंडार|Ganesh Dunge
मध्य प्रदेश

राज एक्सप्रेस की खबर के बाद, एसडीएम ने जब्त किया अवैध रेत का भंडार

धुलकोट, बुरहानपुर: बुरहानपुर से 35 कि.मी. दूर धुलकोट क्षेत्र में हो रहे अवैध रेत उत्खनन को लेकर राज एक्सप्रेस समाचार पत्र द्वारा 22 अगस्त को खबर प्रकाशित की थी। इसके बाद जिला प्रशासन ने कार्यवाही की।

Ganesh Dunge

Ganesh Dunge

राज एक्सप्रेस। जिला मुख्यालय बुरहानपुर से 35 कि.मी. दूर धुलकोट क्षेत्र में अवैध रेत उत्खनन और रेत के भंडारण का कारोबार काफी लंबे समय से चल रहा था। इन रेत माफीयाओं के खिलाफ किसी प्रकार की कोई कार्यवाही नहीं हो रही थी। जिससे की राजस्व को लाखों रूपये का चूना लग रहा था। रेत के अवैध उत्खनन एवं परिवहन को लेकर राज एक्सप्रेस समाचार पत्र द्वारा 22 अगस्त को प्रमुखता से खबर प्रकाशित की थी। राज एक्सप्रेस की खबर के बाद जिला प्रशासन हरकत में आया और मंगलवार के दिन नेपानगर राजस्व अनुविभागीय अधिकारी विशा वाधवानी धुलकोट पहुंची और रेत माफियाओं के खिलाफ कार्यवाही की नेपानगर राजस्व अनुविभागीय अधिकारी की अवैध रेत खनन पर कार्यवाही के बाद रेत माफियाओं में हडकंप मच गया और रेत से भरे ट्रेक्टर ट्राली रास्ते में ही खाली कर भागते नजर आये।

250 ट्राली रेत का अवै भंडारण मिला:

धुलकोट क्षेत्र में रघु डेवलपर्स कन्सट्राक्षन कंपनी द्वारा 58 करोड की लागत से सडक मार्गका निर्माण करवाया जा रहा है। कंपनी के प्लांट में रेत के बडे बडे ढेर लगे हुए। यहां पर लगभग 250 ट्रेक्टर ट्राली रेत का अवैध भंडारण किया हुआ था। अनुविभागीय अधिकारी ने जब कंपनी के मैनेजर से रेत के अवैध भंडारण की अनुमती पूछी तो मैनेजर गोल मोल जवाब दे रहा था। इस पर अनुविभागीय अधिकारी ने 250 ट्राली रेत का पंचनामा बनाया और कार्यवाही जारी की। सड़क मार्ग बनाने वाली कंपनी ने अभी तक क्षेत्र के नदी नालो से हजारों ट्रेक्टर ट्राली रेत की खपत की है। जिससे की राजस्व को लाखों रूपयेका चूना लग चुका है।

कार्यवाही से रेत माफियाओं में हडकंप :

धुलकोट क्षेत्र में लंबे समय से चल रहे रेत के अवैध उत्खनन और परिवहन पर जिला प्रशासन द्वारा पहली बार बडी कार्यवाही की जिसमें नेपानगर राजस्व अनुविभागीय अधिकारी द्वारा सडक मार्ग निर्माण करने वाली कंपनी के प्लांट पर छापामार कार्यवाही करते हुए 250 ट्रेक्टर ट्राली रेत के अवैध भंडारण पर कार्यवाही की अनुविभागीय अधिकारी की रेत के अवैध उत्खनन की कार्यवाही से क्षेत्र के रेत माफियाओं में हडकंप मच गया। काफी लंबे समय धुलकोट क्षेत्र के नदी नालों पर रेत का अवैध उत्खनन चल रहा था। जिससे की नदी नाले प्रतिदिन छलनी होते जा रहे थे और इसका असर पर्यावरण पर भी पड रहा था लेकिन एसडीएम की कार्यवाहील के बाद रेत से भरे ट्रेक्टर ट्रालीयों के पहिए थम गए। रेत के अवैध उत्खनन की बडी कार्यवाहील के बाद रेत खनन माफीया सकते में आ गए और कार्यवाही का असर कब तक रहेगा यह तो आने वाला समय ही बतायेगा।

दिया गया नोटिस:

रेत के अवैध भंडारण की सूचना पर मौके पर पहुचकर रेत को जप्त किया गया है, भंडारणकर्ता के पास यदि उचित दस्तावेज हो तो उसे नोटिस देकर दस्तावेज प्रस्तुत करने हेतु कहा गया है, अन्याथा नियमानुसार कार्रवाई की जायेगी।