Singrauli : धिरौली कोल ब्लॉक के लिए भूमि अधिग्रहण हेतु जनसुनवाई का दूसरा दिन
धिरौली कोल ब्लॉक के लिए भूमि अधिग्रहण हेतु जनसुनवाई का दूसरा दिनPrem Gupta

Singrauli : धिरौली कोल ब्लॉक के लिए भूमि अधिग्रहण हेतु जनसुनवाई का दूसरा दिन

सिंगरौली, मध्यप्रदेश : लोक सुनवाई के दौरान सैकड़ों ग्रामीणों तथा जनप्रतिनिधियों ने अपनी उपस्थिति दर्ज कराई। कुछ ग्रामीणों ने इस परियोजना के लिए अपने विचार और सुझाव व्यक्त किए।

सिंगरौली, मध्यप्रदेश। राज्य सरकार की तरफ से धिरौली कोल ब्लॉक के लिए निजी जमीनों के अधिग्रहण के लिए जिला प्रशासन के द्वारा लगातार दुसरे दिन की जनसुनवाई का आयोजन शुक्रवार को शासकीय पूर्व माध्यमिक विद्यालय झलरी में किया गया। जहाँ झलरी और आमडाड गांव के सैकड़ों की संख्यां में ग्रामीण इकठ्ठा हुए। धिरौली कोल ब्लॉक के लिए कुल 554.01 हेक्टेयर निजी भूमि अधिग्रहित की जाएगी जिसमें धिरौली गांव के 195.01 हेक्टेयर भूमि और आमडाड गांव के 25.75 हेक्टेयर भूमि शामिल है। इस मौके पर जिला प्रशासन की तरफ से श्री बी पी पांडे, जॉइन्ट कलेक्टर सिंगरौली, श्री विकास सिंह, जॉइन्ट कलेक्टर और भूअर्जन अधिकारी सिंगरौली और कई वरिष्ठ अधिकारी मौजूद थे। जिला प्रशासन की तरफ से मंच का संचालन जॉइन्ट कलेक्टर श्री बी. पी. पांडे ने किया जहां से उन्होंने प्रस्तावित परियोजना के फायदों के बारे में ग्रामीणों को अवगत कराया साथ हीं ग्रामीणों के हित के लिए उनके सुझाव भी मांगे। जनप्रतिनिधि के तौर पर झलरी पंचायत की सरपंच श्रीमती सुनीता प्रजापति मौजूद थीं। कोयला मंत्रालय, भारत सरकार के द्वारा धिरौली कोल ब्लॉक का आवंटन अदाणी समूह की स्ट्रेटाटेक मिनरल्स रिसोर्सेस को किया गया है। धिरौली कोल ब्लॉक निजी और सरकारी जमीन मिलाकर कुल 2672 हेक्टेयर क्षेत्र में फैला है।

लोक सुनवाई के दौरान सैकड़ों ग्रामीणों तथा जनप्रतिनिधियों ने अपनी उपस्थिति दर्ज कराई। कुछ ग्रामीणों ने इस परियोजना के लिए अपने विचार और सुझाव व्यक्त किए। 12 बजे से 4 बजे तक चले इस लोकसुनवाई में काफी संख्यां में स्थानीय लोगों ने अपने विचार व्यक्त किये और परियोजना के लिए भू अर्जन के पक्ष में अपना समर्थन दिया। जनप्रतिनिधियों ने माना कि खदान के शुरू होने से सैकड़ों स्थानीय लोगों को रोजगार का नया अवसर मिलेगा और इस क्षेत्र का आर्थिक विकास होगा। जिला प्रशासन के तरफ से अधिकारियों ने जनसुनवाई में उपस्थित स्थानीय लोगों को सम्बोधित करते हुए कहा कि खदान के शुरू होने से इस क्षेत्र का सर्वांगिण विकास होगा और सकारात्मक प्रभाव पड़ेगा। खदान के शुरू होने से शिक्षा और स्वास्थ्य के क्षेत्र में उन्नति होगी और सामाजिक विकास को गति मिलेगी।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.
Top Hindi News Bhopal,Trending, Latest viral news,Breaking News - Raj Express
www.rajexpress.co