बीज निगम अध्यक्ष ने 100 करोड़ के अधिक के काम बताएं, निगमायुक्त ने कहा शासन से पैसा भी दिलाए
पूर्व विधानसभा के विकास को लेकर बैठकRaj Express

बीज निगम अध्यक्ष ने 100 करोड़ के अधिक के काम बताएं, निगमायुक्त ने कहा शासन से पैसा भी दिलाए

ग्वालियर, मध्यप्रदेश : मप्र बीज निगम के अध्यक्ष मुन्नालाल गोयल से 25 से अधिक बिंदुओं पर विस्तार से चर्चा करते हुए 100 करोड़ से अधिक के विकास कार्यों को कराने के लिए कहा।

ग्वालियर, मध्यप्रदेश। बाल भवन में बुधवार शाम 6 बजे से रात 8.30 बजे तक पूर्व विधानसभा के विकास को लेकर बैठक की गई। मप्र बीज निगम के अध्यक्ष मुन्नालाल गोयल से 25 से अधिक बिंदुओं पर विस्तार से चर्चा करते हुए 100 करोड़ से अधिक के विकास कार्यों को कराने के लिए कहा। इस चर्चा के दौरान निगमायुक्त किशोर कन्याल ने कहा कि आप शासन से जितना पैसा स्वीकृत करा देंगे उतने काम हम प्राथमिकता से कराएंगे।

बालभवन में आयोजित बैठक में ग्वालियर पूर्व विधानसभा क्षेत्र में विशेष निधि के स्वीकृत नलकूप खनन एवं हैंडपम्प को तत्काल कराने को लेकर चर्चा की। जिस पर संबंधित अधिकारियों द्वारा बताया कि टेन्डर की प्रक्रिया प्रारंभ हो चुकी है टेन्डर खुलते ही लगभग 1 माह में नलकूप करा दिए जाएंगे। इसके साथ ही अभी हो चुके नलकूप व हैन्डपंम्प में मोटर आदि डालकर उन्हें प्रारंभ करने के निर्देश दिए गए। इसके साथ ही नगर निगम ग्वालियर द्वारा स्थानीय तकनीकि नदी विशेषज्ञों से मार्गदर्शन लेकर वर्ष 2020 में हुरावली से काल्पी ब्रिज तक मुरार नदी ( 68 करोड़) की डीपीआर तैयार कर शासन को भेजी गयी थी, जिसे मध्य प्रदेश शासन द्वारा स्वीकृती प्रदान की गई थी। वर्तमान में नगर निगम ग्वालियर को पुरानी डीपीआर के तथ्यों को ध्यान में रखकर रमौआ डैम से जडेरुआ डैम तक (12.5 किलोमीटर लंबाई) की नई डीपीआर तैयार करके केन्द्र सरकार के नमामि गंगे प्रोजेक्ट को भेजा जाना। इस कार्य हेतु नदी विशेषज्ञो एवं नगर निगम की तकनीकी टीम को जिम्मेदारी देकर शीघ्र नई डीपीआर तैयार करायी जाये, जिससे संपूर्ण नदी के विकास हेतु शासन से धनराशि आवंटित करायी जा सकें। वहीं मुरार नदी दोनों तरफ हुरावली से काल्पी ब्रिज होते हुए जडेरुआ बांध तक रिंग रोड बनाने हेतु डीपीआर तैयार कर मध्य प्रदेश शासन को प्रस्ताव भेजे जाने पर चर्चा। मुरार नदी के दोनो तरफ की सड़क को निगम एक्ट की धारा 330 के तहत सार्वजनिक रास्ता घोषित किये जाने के संबंध में चर्चा कर आवश्यक निर्देश दिए गए। बैठक में अपर आयुक्त आरके श्रीवास्तव, अतेन्द्र सिंह गुर्जर, अधीक्षण यंत्री आरएलएस मौर्य, जेपी पारा सहित अन्य सभी संबंधित अधिकारी उपस्थित रहे।

यह निर्देश भी दिए :

  • मुरार में बाल शमशान की भूमि को भू-माफियाओं से बचाने के लिए जीर्ण-शीर्ण बाउंड्री की रिपेयरिंग करें।

  • इन्द्रमणी नगर पीताम्बर स्टेट के पीछे नाला सफाई में प्रयोग में आने वाली जेसीबी आदि गाड़ियों के आवागमन के लिए रिक्त पड़ी शासकीय भूमि सर्वे कमांक 2187, 2188, 2189 सार्वजनिक रास्ता घोषित किये जाने के लिए डीएम को पत्र लिखें।

  • पूर्व विधानसभा के ठेला व्यवसायियों को हटाने से पहले 13 नीवन हॉकर जोन का निर्माण कराएं।

  • महाराजपुरा हवाई अड्डे से आलू अनुसंसाधन केंद्र के लिए स्वीकृत 5 करोड़ की राशि से अन्य सड़कों का निर्माण कराएं।

  • मुरार के सीपी कॉलोनी की लेदर फैक्ट्री कॉलोनी में चौपाटी निर्माण स्मार्ट सिटी के तहत कराएं।

  • थाटीपुर स्थित बसंत टॉकिज की शासकीय भूमि, चेतकपुरी चौराहे (विवेकान्नद प्रतिमा से) सांइस कॉलेज चौराह शराब कलारी दुकान तक अतिक्रमण हटाकर चाट बाजार निर्माण को लेकर चर्चा की गई।

  • जिला चिकित्सालय मुरार प्रसूति गृह में नवनिर्मित पानी की टंकी को भरने हेतू नलकूप खनन कराये जाना एवं जिला चिकित्सालय में पानी की टंकी से लाईन का मिलान कि जाने के संबंध में चर्चा कर निर्देश दिए गए।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.