ग्वालियर : मतगणना के लिए हर कक्ष में लगाई जाएगी सात-सात टेबल

ग्वालियर, मध्य प्रदेश : ईवीएम में वोटों की गिनती के लिए विशेषज्ञों ने दिया कर्मचारियों का प्रशिक्षण। भारतीय पर्यटन एवं यात्रा प्रबंधन संस्थान में प्रथम चरण का प्रशिक्षण सम्पन्न।
ग्वालियर : मतगणना के लिए हर कक्ष में लगाई जाएगी सात-सात टेबल
मतगणना के लिए हर कक्ष में लगाई जाएगी सात-सात टेबलसांकेतिक चित्र

ग्वालियर, मध्य प्रदेश। भारतीय पर्यटन एवं यात्रा प्रबंधन संस्थान में गुरूवार को कार्यशाला का आयोजन किया गया। इस कार्यशाला में विशेषज्ञों ने कर्मचारियों को ईवीएम में वोटों की गिनती करने का प्रशिक्षण दिया। इस दौरान वीवीपेट की पर्चियां गिरने व उनका महत्व भी मतणना अमले को बताया गया। प्रशिक्षण के समय मतगणना व्यवस्था के प्रभारी एवं जिला पंचायत सीईओ शिवम वर्मा उपस्थित थे।

प्रथम चरण के प्रशिक्षण में गणना पर्यवेक्षक व गणना सहायकों को इलेक्ट्रोनिक वोटिंग मशीन से मतगणना करने की बारीकियां सिखाई गईं। प्रथम चरण के प्रशिक्षण में लगभग 225 अधिकारियों व कर्मचारियों को प्रशिक्षित किया गया। प्रत्येक विधानसभा क्षेत्र के लिये 75 गणना पर्यवेक्षक, 80 गणना सहायक व 75 माइक्रो ऑब्जर्वर प्रशिक्षित किए गए हैं। प्रशिक्षण में बताया गया कि हर गणना टेबल पर एक - एक गणना पर्यवेक्षक, गणना सहायक व माइक्रो ऑब्जर्वर तैनात रहेंगे। इस प्रकार एक टेबल पर तीन अधिकारी तैनात किए जायेंगे। गणना पर्यवेक्षक सीधे निर्वाचन प्रेक्षक को अपनी रिपोर्ट देंगे। जिले के हर विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र की गिनती दो - दो कक्षों में होगी। हर कक्ष में सात - सात टेबल लगाई जायेंगीं। इस प्रकार एक राउण्ड में 14 टेबलों पर मतगणना होगी। इसके अलावा हर विधानसभा क्षेत्र के एक कक्ष में डाक मत पत्रों की गिनती के लिये डाक मत पत्रों की संख्या के आधार पर अलग से टेबल लगाई जायेंगीं। हर कक्ष में सहायक रिटर्निंग अधिकारी की टेबल अलग से लगेगी।

मतगणना के दौरान कोरोना गाईड लाईन का करें पालन :

मतगणना प्रभारी एवं जिला पंचायत सीईओ शिवम वर्मा ने मतगणना के लिये तैनात अधिकारियों व कर्मचारियों को हिदायत दी कि मतगणना के दौरान स्वयं कोरोना गाइडलाइन का पालन करें और मतगणना अभिकर्ताओं से भी इसका पालन कराए। उन्होंने कहा मतों की गिनती का काम पूरी तरह मुस्तैद होकर व सावधानी के साथ करें। मतों की गिनती के दौरान भारत निर्वाचन आयोग द्वारा निर्धारित दिशा-निर्देशों का भी कड़ाई से पालन किया जाए।

प्रत्याशियों को अवश्य दिखाएं कन्ट्रोल यूनिट की डिस्पले :

गणना पर्यवेक्षक एवं गणना सहायकों को बताया गया कि मतगणना का काम पूरी पारदर्शिता एवं भारत निर्वाचन आयोग के दिशा-निर्देशों का पालन करते हुए करें। प्रत्याशियों के गणना अभिकर्ताओं को भी कंट्रोल यूनिट की डिस्प्ले दिखाकर प्रत्याशीवार डाले गए मतों की जानकारी अवश्य बताएं। प्रशिक्षण के दौरान विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र ग्वालियर के रिटर्निंग अधिकारी प्रदीप तोमर, ग्वालियर पूर्व के रिटर्निंग अधिकारी एचबी शर्मा व विधानसभा क्षेत्र डबरा के रिटर्निंग अधिकारी प्रदीप कुमार शर्मा व मतगणना व्यवस्था से जुड़े जिला पंचायत के अतिरिक्त मुख्य कार्यपालन अधिकारी डॉ. विजय दुबे सहित तीनों विधानसभा क्षेत्रों के सहायक रिटर्निंग अधिकारी मौजूद थे। मास्टर ट्रेनर्स एसबी ओझा, डॉ. आर के श्रीवास्तव व डॉ. अमरकांत चतुर्वेदी ने मतगणना अमले को प्रशिक्षित किया।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

Raj Express
www.rajexpress.co