शहडोल की जनता करे पुकार, आरजू को न्याय दे सरकार
शहडोल की जनता करे पुकार, आरजू को न्याय दे सरकारRaj Express

शहडोल की जनता करे पुकार, आरजू को न्याय दे सरकार

शहडोल, मध्य प्रदेश : आरजू हत्याकांड पुलिस के लिए पेचीदा साबित हो रहा है। केस अब हाईप्रोफाइल हो चुका है और पुलिस हर बिंदु पर जांच कर रही है।

शहडोल, मध्य प्रदेश। मुख्यालय के प्रतिष्ठित व्यवासायी नीरज कटारे की 26 वर्षीय पुत्री आरजू कटारे की मौत के बाद स्थानीय लोगों ने न्याय यात्रा निकाली, न्याय यात्रा जैन मंदिर चौक से होते हुए कलेक्ट्रेट पहुंची, स्थानीय लोगों ने पुलिस अधीक्षक के माध्यम उत्तरप्रदेश के मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन सौंपते हुए मांग रखी कि नगर की बेटी आरजू की हत्या के आरोपी ससुर आर.सी.गुप्ता, अमनदीप गुप्ता, ननद, सास एवं रिश्तेदार श्वेता कटारे को शीघ्र गिरफ्तार किया जाये, जिससे वह जांच को प्रभावित न कर सकें। ज्ञापन में कहा गया है कि आरजू की हत्या का केस फास्टट्रैक कोर्ट में चलाया जाये, जिससे जल्द से जल्द आरोपियों को सजा मिल सके।

न्याय यात्रा
न्याय यात्राRaj Express

मिले कठोरतम सजा :

आरजू की मौत के मामले में भारतीय जनता पार्टी, कांग्रेस सहित अन्य स्थानीय नेताओं के साथ स्थानीय लोगों ने मांग रखी कि दहेज लोभियों के विरूद्ध शासन की मंशानुरूप कठोरतम सजा दिलाई जाए, ताकि भविष्य में किसी की भी बहन बेटियों को दहेज लोभियों का शिकार न होना पड़े, साथ ही बेटियों के साथ इस तरह का निर्ममतापूर्ण व्यवहार करने से पहले लोगों को कानून का भय बना रहे। नगवासियों ने उक्त में हत्या में दोषी पाए जाने वालों को फांसी की सजा की मांग करते हुए कहा कि निष्पक्ष जांच की जाये, जिससे बेटियां सुरिक्षत रह सकें।

हाईप्रोफाइल हुआ मामला :

26 वर्षीय आरजू कटारे का विवाह 8 दिसम्बर को कानपुर के नौबस्ता केशवनगर निवासी अमनदीप गुप्ता के साथ हुआ था, जिसके लगभग 15 दिन बाद 25 दिसम्बर को आरजू की ससुराल में संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई। ससुराल पक्ष आरजू की मौत का अलग-अलग कारण बता रहा है। वहीं पीएम रिपोर्ट में दम घुटने से मौत होने की पुष्टि हुई है। आरजू हत्याकांड पुलिस के लिए पेचीदा साबित हो रहा है। केस अब हाईप्रोफाइल हो चुका है और पुलिस हर बिंदु पर जांच कर रही है।

यह है परिजनों के आरोप :

मां अर्चना कटारे ने आरजू के ससुराल वालों पर आरोप लगाते हुए बताया कि शादी के कुछ दिन बाद से ही मेरी बेटी परेशान थी, वह कुछ बताना चाहती थी, लेकिन उसके आस-पास कोई रहने की वजह से नहीं बता पाई। घटना के दो-तीन दिन पहले उसने बताया था कि ससुराल वाले ताना देते हैं। आरजू की मां का कहना है कि उसकी बेटी को न्याय मिले, दोषियों पर सख्त से सख्त कार्यवाही हो, यदि शादी के कुछ दिन बाद ही बेटियों की हत्या होती रही तो, बेटियां शादी करने से डरने लगेंगी।

नहीं मिला पुलिस को सुराग :

नीरज कटारे की इकलौती इंजीनियर बेटी आरजू की मौत के मामले में पोस्टमार्टम रिपोर्ट में मुंह दबाकर हत्या किए जाने की पुष्टि हुई थी। घटना के चार दिन बाद फोरेंसिक टीम घटनास्थल पर पहुंची और साक्ष्य जुटाए, टीम को कमरे से एक अंगूठी मिली। बेंजाडीन टेस्ट से उसमें मानव रक्त होने की पुष्टि हुई। टीम को बाथगाउन, दरवाजे के हैंडल, बाथरूम की फर्श में भी खून के छींटे मिले। टीम को एक टूटी हुई चूड़ी का टुकड़ा भी मिला। इसके बाद फोरेंसिक टीम ने तकिए से मुंह दबाकर हत्या किए जाने की आशंका पर छानबीन की, लेकिन कुछ नहीं मिला। फारेंसिक एक्सपर्ट का कहना था कि अगर तकिए से मुंह दबाकर हत्या की गई होती तो, खून और लार आदि मिलता। साक्ष्य जुटाने के बाद फोरेंसिक टीम नौबस्ता थाने पहुंची। यहांं अमनदीप के हाथ, पैर आदि का बेंजाडीन टेस्ट किया, लेकिन कोई सुराग नहीं मिला।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

Raj Express
www.rajexpress.co