खनिज विभाग और माफियाओं में चूही बिल्ली का खेल
खनिज विभाग और माफियाओं में चूही बिल्ली का खेल|Shubham Tiwari
मध्य प्रदेश

खनिज और माफिया में चूहा-बिल्ली खेल, अधिकारियों की अँधेरे में रैकी

शहडोल, मध्यप्रदेश : खनिज विभाग पुरानी फाइलों को निपटाने के साथ ही इन दिनों माफिया के द्वारा कराई जा रही मुखबिरी से खासा परेशान है।

Shubham Tiwari

राज एक्सप्रेस। शहडोल में खनिज विभाग पुरानी फाइलों को निपटाने के साथ ही इन दिनों माफिया के द्वारा कराई जा रही मुखबिरी से खासा परेशान है, गुरुवार और शुक्रवार के 48 घंटों में खनिज विभाग ने अलग-अलग क्षेत्रों से अवैध खनिज से लदे आठ वाहन जप्त किए। बुढार के बटली घाट की जांच के लिए निकले खनिज अमले की रैकी रात 3:00 बजे से करने के लिए माफिया के गुर्गे तैनात दिखे, हालांकि खनिज अधिकारी व इंस्पेक्टर ने मिलकर बटली घाट से तीन वाहनों और बटली खदान से दो और पकरिया क्षेत्र से दो अन्य वाहन जब जप्त किए हैं।

छापामार की कार्यवाही

अवैध खनिज के खिलाफ कार्यवाही करने के लिए तैयार खनिज विभाग के लिए सबसे बड़ी परेशानी खड़ी माफिया द्वारा फैलाया गया मुखबिर तंत्र है, जो खनिज अधिकारी और खनिज इस्पेक्टर की पल-पल की सूचना माफिया तक पहुंचा रहा है, बुधवार वह गुरुवार की दरमियानी रात खनिज विभाग द्वारा लगभग 3:00 बजे के आस-पास टीम तैयार कर बुढ़ार के बटली घाट व इस मार्ग के अन्य घाटों पर छापामार कार्यवाही व जांच के लिए तैयारी की गई थी, बकौल खनिज अधिकारी कहती है कि रात 3:00 बजे से उनकी रैकी की जा रही थी, शहडोल से बुढार बटलीघाट पहुंचने तक 3:00 से 4:00 वाहन उनके आगे पीछे रैकी करते हुए नजर आए।

अवैध खनिज
अवैध खनिज
Shubham Tiwari

मुखबिरी तंत्र हावी

शहडोल से बुढार पहुंचने तक के दौरान खनिज विभाग की टीम को तीन वाहन सिर्फ इसलिए बदलने पड़े कि उनके घाट तक पहुंचने की सूचना माफिया को न लगे, खनिज विभाग को शासन द्वारा प्रदत्त वाहन को खनिज अधिकारी ने पहले अन्य लोगों को बैठाकर रवाना कर दिया, इस बात का पूरा ख्याल किया गया कि जगह-जगह रैकी के लिए लगे मुखबिर इस वाहन के पीछे लग जाए, लेकिन चूहे बिल्ली के खेल में कभी खनिज अमला तो कभी माफिया का मुखबिर तंत्र एक दूसरे के ऊपर हावी होता रहा, मजे की बात तो यह है कि खनिज माफिया द्वारा रैकी के लिए एक-दो नहीं बल्कि दर्जनों लोगों को तैनात किए जाने की खबर है, जो खनिज अधिकारी सुश्री फरहत जहां के अलावा तीनों खनिज निरीक्षकों के घर के बाहर रैकी करते रहते हैं।

रेत माफिया
रेत माफिया
Shubham Tiwari

तीन वाहन किये जब्त

जब कभी खनिज महकमे के अधिकारी घर से बाहर निकलते हैं तो आसपास रखी के लिए तैनात माफिया के गुर्गे उनकी सूचना सेल फोन पर चारों तरफ फैला देते हैं, जिस कारण जब तक खनिज महकमा निर्धारित स्थान पर पहुंचता है, उससे पहले ही सूचना पहुंच जाने के कारण वहां से माफिया अपने वाहनों को बाहर निकाल लेता है, लेकिन बुधवार और गुरुवार की दरमियानी रात 3:00 बजे के आस-पास खनिज अधिकारी सुश्री फरहत जहां के अलावा सुरेश कुलस्ते व निरीक्षक प्रभात कुमार पट्टा आदि घाट के लिए निकले और सुबह होते-होते उन्होंने बटली घाट पहुंचकर अवैध रेत से लदे तीन वाहन भी जप्त कर लिए हैं।

खनिज अधिकारियों का पीछा

खनिज अधिकारी ने बताया कि, इसमें से दो वाहनों को सुरक्षा की दृष्टि से जनपद अध्यक्ष बुढार अनु सिंह रानी के क्रेशर पर रखवा दिया गया था, एक अन्य वाहन को गुहार थाने भेजा गया, तीन बाइक सवार आधी रात को रैकी कर रहे थे, बटली घाट पहुंचने से पहले खनिज विभाग की गाड़ी जिसमें अधिकारियों के अलावा अन्य को बैठाया गया था, माफिया के गुर्गे उसके पीछे चले गए, लेकिन दूसरी तरफ से निजी वाहन में आ रहे खनिज अधिकारी और निरीक्षक की भनक भी माफिया को लग गई और बाइक पर सवार तीन युवक खनिज अधिकारी के वाहन के आगे पीछे रैकी करने लगे, हालांकि खनिज निरीक्षक अधिकारी द्वारा स्वयं वाहन से बाहर आने के बाद रैकी कर रहे युवक मौके से फरार हो गए।

यहां की गई कार्यवाही

गुरुवार के बाद शुक्रवार को भी खनिज विभाग द्वारा तीन अलग-अलग टीमें बनाकर धरपकड़ की कार्यवाही की गई, जिसमें सर्वेयर समय लाल गुप्ता को ब्यौहारी के खामडांड क्षेत्र में भेजा गया था, खबर है कि वहां से दो वाहन जप्त किए गए, वहीं एक वाहन सोहागपुर थाना क्षेत्र से भी जप्त किया गया है, जिसे सुरक्षा की दृष्टि से सोहागपुर थाने में ही खड़ा कराया गया है, वहीं दूसरी टीम में श्री कुलस्ते के द्वारा पटासी क्षेत्र में भ्रमण किया गया, इस दौरान उनके द्वारा अवैध रेत से लदे दो वाहन जप्त किए गए दोनों ही वाहनों को ग्राम पकरिया में अनु रानी सिंह के क्रेशर पर सुरक्षा की दृष्टि से खड़ा कराया गया है।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Raj Express
www.rajexpress.co