Shahdol : दिव्यांग महिला ने जनसुनवाई में कलेक्टर को सुनाई व्यथा
मैडम मेरे मकान व दुकान में दबंगों ने किया कब्जाराज एक्सप्रेस, संवाददाता

Shahdol : दिव्यांग महिला ने जनसुनवाई में कलेक्टर को सुनाई व्यथा

जनसुनवाई कार्यक्रम में कलेक्टर ने दूर दराज एवं जिले के अन्य स्थानों से आए हुए ग्रामीणों की समस्याएं सुनी तथा समस्याओं के त्वरित निराकरण के निर्देश संबंधित विभाग के विभागीय अधिकारियों को दिए।

शहडोल, मध्यप्रदेश। कलेक्ट्रेट कार्यालय के सोन सभा कक्ष में मंगलवार को जनसुनवाई कार्यक्रम आयोजित की गई। जनसुनवाई कार्यक्रम में कलेक्टर श्रीमती वंदना वैद्य ने दूर दराज एवं जिले के अन्य स्थानों से आए हुए ग्रामीणों की समस्याएं सुनी तथा समस्याओं के त्वरित निराकरण के निर्देश संबंधित विभाग के विभागीय अधिकारियों को दिए। जनसुनवाई कार्यक्रम में श्रीमती झूला बाई ग्राम मोहतरा ने कलेक्टर को आवेदन देकर बताया कि दिव्यांग हैं और उन्हें 2002-2003 में इंदिरा आवास योजना से लाभ प्राप्त कर मकान बनाया था, जिस पर गांव के निवासी सलीम शाह एवं गोलू सलीम शाह ने जबरन कब्जा कर मकान का दरवाजा तोड़कर चूड़ी की दुकान भी जबरदस्ती अपने कब्जे में कर लिया। इस पर कलेक्टर ने तहसीलदार गोहपारू प्रकरण की जांच कर तत्काल कार्यवाही करने के निर्देश दिए।

4 महीनों से नहीं हुआ मजदूरी भुगतान :

कलेक्टर को जनपद पंचायत ब्यौहारी के ग्राम पंचायत बोचरों के ग्रामीणों ने आवेदन देकर बताया कि ग्राम पंचायत बोचरों के मनरेगा कार्यों में 4 सप्ताह तक लगातार उनके द्वारा कार्य किया गया लेकिन उन्हें मजदूरी भुगतान नहीं की जा रही है। इस पर कलेक्टर ने मुख्य कार्यपालन अधिकारी जनपद पंचायत ब्योहारी को तत्काल आवेदन प्रेषित कर निर्देशित किया कि प्रकरण की जांच कर तत्काल मनरेगा मजदूरों के मजदूरी का भुगतान कराना सुनिश्चित करें। वार्ड नंबर-16 धनपुरी निवासी शेख सफीक अली ने कलेक्टर को आवेदन देकर बताया कि कैंसर पीडि़त होने के बाद मेरा बीपीएल कार्ड 2019 में जारी किया गया था जिससे मुझे अगस्त 2021 तक राशन प्राप्त हुआ और माह सितंबर 2021 से मेरा राशन बंद कर दिया गया। इस पर कलेक्टर ने जिला कनिष्ठ आपूर्ति को निर्देशित किया कि प्रकरण की जांच कर संबंधित को राशन पुन: देना सुनिश्चित करें।

आर्थिक सहायक दिलाने की अपील :

कार्यक्रम में कलेक्टर को श्रीमती जानकी रजक निवासी सोहागपुर ने आवेदन देकर बताया कि वार्ड नंबर 5 की निवासी हूं मेरे पति निलेश रजक को जिला चिकित्सालय में तबीयत खराब होने पर एडमिट कर आई हूं तथा जांच के बाद डॉक्टर ने किडनी की खराबी और लीवर में खराबी तथा शुगर के मरीज बताया है। उन्होंने कलेक्टर से आर्थिक सहायता राशि की मांग की जिस पर कलेक्टर ने सिविल सर्जन को आवेदन भेज कर प्रकरण की जांच कर आवश्यक कार्यवाही कर आर्थिक सहायता राशि उपलब्ध कराने के निर्देश दिए। जनसुनवाई कार्यक्रम में इसी प्रकार लगभग 40 समस्याओं की आवेदन कलेक्टर के समक्ष प्रस्तुत किए कलेक्टर ने तत्काल संबंधित अधिकारियों को प्रकरण की जांच कर आवश्यक कार्यवाही करने के निर्देश दिए।

ये रहे मौजूद :

कार्यक्रम में संयुक्त कलेक्टर दिलीप कुमार पांडेय, सहायक आयुक्त जन जातीय कार्य विभाग रणमत सिंह, जिला शिक्षा अधिकारी रणजीत सिंह, कार्यपालन यंत्री एमपीईबी आर.सी. पटेल, डीएम नान एस.सी. मांझी, डीपीसी डॉ. मदन त्रिपाठी, जिला कोषालय अधिकारी आर.एन. सिंह सहित अन्य अधिकारी उपस्थित थे।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.