Shahdol : जिला चिकित्सालय में नहीं मिल रही नि:शुल्क दवाई
जनसुनवाई में अपनी समस्या बताते लोगराज एक्सप्रेस, संवाददाता

Shahdol : जिला चिकित्सालय में नहीं मिल रही नि:शुल्क दवाई

शहडोल, मध्यप्रदेश : जनसुनवाई में दूर-दराज क्षेत्रों से आए लोगों की शिकायतें एवं समस्याएं सुनी गईं तथा समस्याओं के निराकरण के आदेश संबंधित अधिकारियों को दिए गए।

शहडोल, मध्यप्रदेश। कमिश्नर कार्यालय में जनसुनवाई कार्यक्रम आयोजित हुई। जनसुनवाई में दूर-दराज क्षेत्रों से आए लोगों की शिकायतें एवं समस्याएं सुनी गईं तथा समस्याओं के निराकरण के आदेश संबंधित अधिकारियों को दिए गए। जनसुनवाई कार्यक्रम में उमरिया जिले के करकेली जनपद पचायत क्षेत्र के ग्राम रहठा के गेंदलाल ने आवेदन करते हुए बताया कि उसे पीएम आवास स्वीकृत हुआ था जो पूर्ण हो चुका है, किन्तु पीएम आवास के सामने गांव के कुछ लोगों द्वारा दीवार खड़ी कर दी गई हैं। उन्होंने बताया कि दीवार हटाने के लिए तहसीलदार को आवेदन दिया था किन्तु दीवार नही हटाई गई है। गेंदलाल की शिकायत पर उपायुक्त राजस्व श्रीमती मनीषा पाण्डेय ने तहसीलदार करकेली से शिकायत की जांच कर तत्काल कार्यवाही करने के निर्देश दिए।

दिये कार्यवाही के निर्देश :

जनसुनवाई में शहडोल नगर के सेवानिवृत्त कर्मचारी सुरेन्द्र त्रिपाठी ने आवेदन देते हुए बताया कि उसे जिला चिकित्सालय द्वारा नि:शुल्क दवाईया मुहैया नहीं कराई जा रही है, उनका कहना था कि शासन द्वारा सेवानिवृत्त कर्मचारियों को नि:शुल्क दवाइयां दिया जाता है तथा इसका लाभ मुहैया कराया जाए। जिस पर उपायुक्त राजस्व ने सीएमएचओ को निर्देश दिए हैं कि नियमानुसार कार्यवाही सुनिश्चित करें।

नॉमिनी को नहीं मिल रहा लाभ :

अनूपपुर जिले के पुष्पराजगढ़ विकासखण्ड के बीजापुरी-01 के निवासी लम्मूलाल धुर्वे ने आवेदन करते हुए बताया कि उसे बड़े पिताजी ने गोद लिया था, उसकी बड़ी मां की अभी हाल ही में मृत्यु हुई है, बड़ी मां ने सेंट्रल बैंक तुलरा में उसे नॉमिनी बनाया था। उन्होंने बताया कि बैंक द्वारा उसकी बड़ी मां भगवानियाबाई के नाम से जमा राशि उसे नही दी जा रही है। विगत 6 महीनों से उसे परेशान किया जा रहा है। लम्मूलाल धुर्वें ने बैंक में जमा राशि मुहैया कराने की मांग की। जिस पर उपायुक्त राजस्व ने प्रकरण की जांच कर उसका निराकरण करने के निर्देश दिए हैं।

ग्राम पंचायत में हो रही अनियमितताएं :

जनपद पंचायत गोहपारू के ग्राम देवरी-2 के निवासी बिरन बैगा ने आवेदन करते हुए बताया कि ग्राम पंचायत में सरपंच एवं सचिव द्वारा निर्माण कार्यों में गंभीर अनियमितताएं की गई हैं, इसकी जांच कराई जाए। शिकायत पर उपायुक्त राजस्व श्रीमती मनीषा पाण्डेय ने शिकायत की जांच करने के निर्देश दिए।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.
Top Hindi News Bhopal,Trending, Latest viral news,Breaking News - Raj Express
www.rajexpress.co