सोन नदी में अवैध उत्खनन करते धराये 5 वाहन
सोन नदी में अवैध उत्खनन करते धराये 5 वाहन|Social Media
मध्य प्रदेश

सोन नदी में अवैध उत्खनन करते धराये 5 वाहन

शहडोल जिले में देवलोंद थाना क्षेत्र अंतर्गत ग्राम गोपालपुर सोन नदी घाट पर अवैध उत्खनन परिवहन करते पुलिस ने 5 वाहनों को जब्त किया गया।

Shubham Tiwari

राज एक्सप्रेस। मध्यप्रदेश के शहडोल जिले में देवलोंद थाना क्षेत्र अंतर्गत ग्राम गोपालपुर सोन नदी घाट पर अवैध उत्खनन परिवहन करते पुलिस ने 5 वाहनों को जब्त किया है, पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार 25 मार्च को मुखबिर से सूचना मिली थी कि थाना क्षेत्र अंतर्गत गोपालपुर सोन नदी घाट पर अवैध उत्खनन किया जा रहा है, अनुविभागीय अधिकारी पुलिस भविष्य भास्कर के नेतृत्व में टीम का गठन कर घाट पर दबिश दी गई, कुछ समय पश्चात नायब तहसीलदार अमित मिश्रा एवं खनिज विभाग की टीम मौके पहुंच गई।

ट्रैक्टर छोड़ भागे

नदी के अंदर खड़े 5 ट्रैक्टर जिसमें मजदूरों के द्वारा रेत से लोड किया जा रहा था, पुलिस को देखकर ट्रैक्टर चालक मौके से ट्रैक्टर लेकर भागने का प्रयास करने लगे, जिस कारण एक ट्रैक्टर ट्राली नदी में ही पलट गई व अन्य ट्रैक्टरों की घेराबंदी कर पकड़ने का प्रयास किया गया, लेकिन ट्रैक्टर चालक व मजदूर मौके पर ट्रैक्टर छोड़कर भाग गये।

इन वाहनों पर हुई कार्यवाही

पुलिस ने मौके से 5 ट्रैक्टर जिनमें से चार ट्रैक्टर मय ट्राली एवं एक ट्रैक्टर जिसकी ट्राली नदी में ही पलटकर क्षतिग्रस्त हो गई। मौके पर मिले एक नीले रंग का सोनालिका ट्रैक्टर जिसका इंजन नंबर 3100एफएलयू83एक्स 755416एफ18, दूसरा चेचिस नंबर जेवाईएएसजी 76464753 रेत से भरा पाया गया, नीले सफेद रंग का स्वराज ट्रैक्टर जिसका चेचिस नंबर एमबीएनएजे48 एएफएलटीबी 33955 कुछ रेत भरी थी, इसके साथ ही आईसर टे्रक्टर जिसका चेचिस नंबर 919815176236 जिसकी ट्राली नदी में पलटकर क्षतिग्रस्त हो गई, लाल रंग का महिन्द्रा ट्रैक्टर जिसका इंजन नंबर एनकेएफ5एचएई0096 की ट्राली में कुछ रेत भरी थी, वही एक सोनालिका ट्रैक्टर चेचिस नंबर डीजेडक्यूएसव्ही 370877एसएम की ट्राली रेत से भरी हुई थी।

अभ्यारण पर हुई कार्यवाही

उक्त सभी वाहनों के विरूद्ध मध्यप्रदेश रेत नियम 2019 का नियम 20 एवं एनजीटी के प्रकरण के तहत 15/04/19 उल्लंघन एवं घटना स्थल सोन नदी, सोन घड़ियाल अभ्यारण के अंतर्गत आता है। खनिज विभाग ने सोन घड़ियाल अभ्यारण हेतु अलग से कार्यवाही की है।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Raj Express
www.rajexpress.co