सोन नदी के श्यामडीह घाट को छलनी कर रहे थे माफिया, पुलिस की दबिश

मध्यप्रदेश के शहडोल जिले में रेत माफियाओं की धरपकड़ करते हुए पुलिस ने की बड़ी कार्यवाही, 1 करोड़ 60 लाख का मशरूका बरामद।
सोन नदी के श्यामडीह घाट को छलनी कर रहे थे माफिया, पुलिस की दबिश
रेत माफियाओं की धरपकड़ करते हुए पुलिस ने की बड़ी कार्यवाहीShubham Tiwari

हाइलाइट्स :

  • सोन नदी के श्यामडीह घाट को छलनी कर रहे थे माफिया

  • रात 2 बजे पुलिस की दबिश, 21 वाहन जब्त

  • 1 करोड़ 60 लाख का मशरूका बरामद

  • पुलिस की कार्यवाही के बाद कटघरे में खनिज अमला

राज एक्सप्रेस। मध्यप्रदेश में शहडोल जिले में सोहागपुर थाना क्षेत्र के अंतर्गत आने वाले श्यामडीह में सोन नदी के घाट में रेत माफियाओं ने अपनी सल्तनत लंबे अर्से से जमा रखी थी, इस बात की शिकायत लगातार पुलिस अधीक्षक सतेन्द्र कुमार शुक्ला के पास पहुंच रही थी कि श्यामडीह से अवैध रेत का उत्खनन कर रेत की चोरी कर माफियाओं के द्वारा बाजार में रेत को ऊंचे दामों में बेचा जा रहा है। कप्तान ने योजनाबद्ध तरीके से टीम का गठन कर मुखबिर से सूचना मिलने पर बुधवार की रात्रि 2 बजे श्यामडीह में दबिश दिलवाई, जहां पर मौके पर पुलिस टीम ने बड़ी कार्यवाही करते हुए 21 वाहनों को जब्त किया है। उक्त कार्यवाही के बाद रेत माफियाओं में हड़कंप व्याप्त है।

अंधेरे में मारा छापा

योजना बद्ध तरीके से पुलिस टीम ने श्यामडीह में दबिश दी, जहां रेत माफियाओं ने सोन नदी को छलनी करने के लिए बड़ी संख्या में वाहन उतार रखे थे, मुख्यालय के पुलिस अधिकारी और बल के साथ ही सोहागपुर पुलिस की टीम भी मौजूद रही, रात्रि 2 बजे से शुरू हुई कार्यवाही गुरूवार की सुबह तक जारी रही।

21 वाहन हुए जब्त

पुलिस टीम ने मौके से 21 वाहन जब्त किये हैं, जिनमें 11 डग्गी और 10 ट्रैक्टर ट्राली शामिल हैं, की गई कार्यवाही में 1 करोड़ 60 लाख रूपये का मशरूका पुलिस टीम के द्वारा जब्त किया गया है, पुलिस ने इस मामले में वाहन चालक और वाहन स्वामियों के विरूद्ध मध्यप्रदेश रेत (खनन, परिवहन, भण्डारण एवं व्यापार) नियम 2019 का उल्लंघन करने का प्रकरण कायम किया है।

एनजीटी का प्रकरण भी हुआ दर्ज

पुलिस अधीक्षक ने इस मामले को गंभीरता से लेते हुए एनजीटी की मुख्य पीठ के द्वारा याचिका क्रमांक 606/2018 आदेश दिनांक 15 अप्रैल 2018 में दिये गये निर्देश के अनुपालन में सोन नदी से अवैध उत्खनन करने पर संलिप्त वाहनों से वाहन के शोरूम की कीमत का 50 प्रतिशत का जुर्माना और राजसात की कार्यवाही भी इस मामले में प्रस्तावित की गई है।

बर्दाश्त नहीं होगा अवैध उत्खनन

कमान संभालते ही कप्तान ने इशारा कर दिया था कि अवैध उत्खनन किसी भी तरीके से बर्दाश्त नहीं किया जायेगा, श्यामडीह में हुई बड़ी कार्यवाही, यह उसी ओर इशारा कर रही है, जिसके तहत 21 प्रकरण कठोर कार्यवाही के लिए तैयार किये गये हैं, कप्तान ने अधीनस्थ कर्मचारियों को सख्त निर्देश दिये हैं कि अवैध उत्खनन से सोन नदी की भौगोलिक स्थिति न बिगड़े और पर्यावरण को क्षति न पहुंचे, इसलिए रणनीति बनाकर सख्त कार्यवाही की जाये।

इन वाहनों से होती थी तस्करी

पुलिस के द्वारा जब्त किये गये 21 वाहनों में 5 वाहन स्वामियों के नाम अभी सामने नहीं आये हैं, जिनके नाम सामने आये हैं, उनमें एमपी 18 जीए 4452 रहमान खान शहडोल, एमपी 18 जीए 5013 राशिफ खान निवासी मैकी, एमपी 18 जीए 5117 बिजेन्द्र जायसवाल निवासी कोटमा, ट्रैक्टर डीआई मैशी विजय यादव करहाई, एमपी 21 सी 1485 उबैश टिकुरी टोला कोटमा, एमपी 18 जीए 4421 शुभम शुक्ला सोहागपुर, एमपी 18 जीए 4514 समीर स्वामी शहडोल, बिना क्रमांक का ट्रैक्टर अजहर भाई कोटमा, एमपी 18 एबी 3717 न्याज खान पाली रोड, एमपी 18 8162 शंकर महराज भर्री, चुम्मन महराज का बिना क्रमांक का ट्रैक्टर, एमपी 18 एए 5676 ओबेश खान कोटमा, ट्रैक्टर यूगो जेशु नायक पटासी, 2 ट्रैक्टर आयशर धेना नायक पटासी, ट्रैक्टर आयशर ओबेश खान टिकुरी टोला, मैशी ट्रैक्टर विजय यादव करकराही शामिल थे।

कटघरे में खनिज अमला

पुलिस के द्वारा श्यामडीह में बड़ी कार्यवाही करने से खनिज विभाग में तैनात निरीक्षकों की कार्यप्रणाली पर सवाल खड़े हो रहे हैं, इतना ही नहीं राजस्व महकमें के साथ ही वन विभाग के भी अधिकारियों और कर्मचारियों पर सवाल उठना लाजमी है, क्योंकि श्यामडीह में राजस्व और वन विभाग का भी क्षेत्र लगता है। खनिज विभाग के निरीक्षक महज कोरमपूर्ति की कार्यवाहियों तक ही श्यामडीह में सीमित रहे हैं, रहमान और चुम्मन जैसे माफिया अर्से से इस क्षेत्र में अपनी जड़े जमाये हुए बैठे हैं।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

Raj Express
www.rajexpress.co