Shahdol : साहब पट्टा बनाने राजस्व निरीक्षक व पटवारी ने मांगे 1 लाख रुपये
साहब पट्टा बनाने राजस्व निरीक्षक व पटवारी ने मांगे 1 लाख रुपयेराज एक्सप्रेस, संवाददाता

Shahdol : साहब पट्टा बनाने राजस्व निरीक्षक व पटवारी ने मांगे 1 लाख रुपये

शहडोल, मध्यप्रदेश : कमिश्नर राजीव शर्मा ने मंगलवार को कमिश्नर कार्यालय के सभागार में जन सुनवाई कार्यक्रम के तहत दूर-दराज से आए लोंगों की समस्याएं सुनीं।

शहडोल, मध्यप्रदेश। कमिश्नर राजीव शर्मा ने मंगलवार को कमिश्नर कार्यालय के सभागार में जन सुनवाई कार्यक्रम के तहत दूर-दराज से आए लोंगों की समस्याएं सुनीं। जन सुनवाई में शहडोल जिले के तहसील सोहागपुर के ग्राम पंचायत पोंगरी के लाल सिंह ने कमिश्नर को आवेदन करते हुए बताया कि ग्राम पोंगरी में शासकीय भूमि जो मुख्य मार्ग से लगा हुआ है जिसमें 16 से 17 एकड़ भूमि का पट्टा बना दिया गया है, शेष भूमि शासकीय भूमि है जिसमें मैं कच्चा घर बनाकर निवासरत हूं। उन्होंने बताया कि ग्राम के कुछ लोगों द्वारा शासकीय भूमि का पट्टा बनाकर जमीन की बिक्री की जा रही है। राजस्व निरीक्षक एवं पटवारी द्वारा मुझसे 01 लाख रूपये की मांग की और कहा कि जमीन चाहिए तो 01 लाख रूपये दो, तभी पट्टा मिलेगा। लाल सिंह ने कमिश्नर को बताया कि पटवारी ने मुझसे पैसे लिए और नाम मात्र की राशि की जुर्माना की रसीद दी। उन्होंने बताया कि गांव के दंबग लोंगों द्वारा शासकीय भूमि में कब्जा कर पटवारी और आरआई से पट्टा बना लिया है। उन्होंने कमिश्नर से मांग की किए शासकीय भूमि की इस घोंटालें की उच्च स्तरीय जांच कराई जाए तथा शासकीय भूमि से अवैध कब्जा करने वालों के विरूद्व कार्यवाही की जाएं। इस शिकायत के संबंध में कमिश्नर ने कलेक्टर को निर्देश दिए हैं कि शिकायत की विस्तृत जांच कर कार्यवाही करें।

मैंनेजर करता है अमानवीय व्यवहार :

जन सुनवाई में जिले के धनपुरी के शिक्षक रामाश्रय माझी ने कमिश्नर को आवेदन करते हुए बताया किए उन्होंने 15 वर्षों से सहारा कम्पनी में निवेश किया था, 18 मार्च में सुफर व्हीडी प्लांन की मैच्युरिटी हो चुकी है। उन्होंने बताया कि मेरे द्वारा कई बार मैच्युरिटी के लिए सहारा कम्पनी के मेनेजर से निवेदन किया गया किन्तु सहारा कम्पनी के मेनेजर द्वारा मेरे साथ अमानवीय व्यवहार करके बार-बार वापस कर दिया जाता है। मेरी जमा राशि लगभग 30 लाख रूपये है सहारा कम्पनी द्वारा भुगतान नहीं किये जाने पर मेरा मानसिक संतुलन ठीक नही है। रामाश्रय माझी ने कमिश्नर से सहारा इंडिया कम्पनी अनूपपुर से जमा राशि का भुगतान कराने की मांग की। जिस पर कमिश्नर ने कलेक्टर अनूपपुर को निर्देश दिए है कि शिकायत की जांच कर शीघ्र कार्यवाही सुनिश्चित करें।

प्रबंधक एवं ऑपरेटर की हुई शिकायत :

ग्रामीणों ने सेवा सहकारी समिति कोठरी के प्रबंधक एवं ऑपरेटर के भ्रष्टाचार की शिकायत करते हुए अवगत कराया गया है कि किसान खर्च माफी योजना के अन्तर्गत ऐसे लोगों के नाम बताकर राशि निकाली गई है जिसकी पूर्व में ही मृत्यु हो गई है। ग्रामीण ने बताया कि मोहन पटेल, चिरूकुटिया बाई पटेल, लालमन पटेल सहित अन्य लोंगो के नाम किसान खर्च माफी के तहत पूर्व में ही खर्च बनाकर राशि गबन कर ली गई है। मृत्यु व्यक्तियों का खर्च माफ कर दिया गया है। इसी तरह धान खरीदी में गड़बडी की गई। ग्रामीणों का कहना था कि सेवा सहकारी समिति कोठरी द्वारा की अनियमितताएं की विस्तृत जांच की जाएं तथा प्रबंधक व ऑपरेटर के विरूद्व सख्त कार्यवाही की जाए। इस शिकायत के संबंध में कमिश्नर ने उपायुक्त सहकारिता से वस्तु स्थिति की जानकारी ली गई तथा शिकायत की जांच कर कार्यवाही करने के निर्देश दिए गए। जन सुनवाई में कमिश्नर द्वारा लगभग 40 आवेदनों की सुनवाई की गई।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.
Top Hindi News Bhopal,Trending, Latest viral news,Breaking News - Raj Express
www.rajexpress.co