शहडोल अजब है, नपा के इंजीनियर गजब हैं
शहडोल अजब है, नपा के इंजीनियर गजब हैंराज एक्सप्रेस, संवाददाता

शहडोल अजब है, नपा के इंजीनियर गजब हैं

शहडोल, मध्यप्रदेश : जिले के नगर पालिका द्वारा बनाया गया रोड व नाली जो पहले वार्ड क्रमांक 23 और वर्तमान में 18 में स्थित है, अपने आप में अनोखा बना हुआ है।

शहडोल, मध्यप्रदेश। जिले के नगर पालिका द्वारा बनाया गया रोड व नाली जो पहले वार्ड क्रमांक 23 और वर्तमान में 18 में स्थित है, अपने आप में अनोखा बना हुआ है। हम आपको बताते हैं यह गली है मनोज टीवीएस से अंदर जाने वाली रोड जिस पर अगर एक फोर व्हीलर गाड़ी अंदर चली जाए तो पीछे करने के लायक जगह नहीं है, वही अगल-बगल रहने वाले लोग भी बनाए गए नाली से भारी परेशान है और अचरज की बात तो यह है कि आए दिन यहां निवास करने वाले लोग कभी गंदगी का अंबार तो कभी नाली में पनपने वाले कीड़े का सामना करते रहते हैं। खासतौर पर जब बारिश का समय होता है तो, पूरी नाली का पानी समिति खंभे में कचरा फंस जाने के कारण लोगों के निकासी के लिए निकाले गए पाइप लाइन के द्वारा ही उल्टा पूरे घर में भर जाता है, अभी बीते दिवस ही जरा सा मौसम खराब होते ही अफरा-तफरी का माहौल निर्मित हो गया और नाली का गंदा पानी घर के अंदर घुस गया जहां पर रहने वाले लोग रात को अपने घर से निकलने पर मजबूर होने लगे।

पार्षद-इंजीनियर का कारनामा :

शासन के द्वारा विकास कार्यों को सही दिशा से उन्नति के शिखर पर ले जाने के लिए किसी भी निर्माण कार्य के लिए इंजीनियर की महत्वपूर्ण भूमिका होती है और किसी भी निर्माण कार्य को तकनीकी स्वीकृति तभी प्रदान की जाती है, जब मौका स्थल पर जाकर उचित रूप से नाप करते हुए कार्य को सही दिशा नहीं मिल जाती तब तक उसे तकनीकी स्वीकृति प्रदान नहीं की जाती और इस काम में बखूबी रूप से एसडीओ और इंजीनियर की प्रमुख भूमिका मानी जाती है।

अनोखा है विकास :

शहडोल नगर पालिका के तत्कालीन इंजीनियर महान कारनामा करते हुए 20 साल से 25 साल पुराने मध्य प्रदेश विद्युत मंडल के द्वारा लगाए गए विद्युत खंभे के बगल से डायवर्सन या अन्य प्रकार की प्रक्रिया नहीं अपनाते हुए नाली की साइज भी पोल के बराबर की रखी और नाली निर्माण की स्वीकृति प्रदान कर दी, मजे की बात तो यह है कि अपने वार्ड के विकास को ध्यान में रखकर जिस पार्षद महोदय के देखरेख में यह कार्य किया गया था, उन्हें भी लगता है कमीशन की मोटी चादर ने ढक कर रख दिया था, तभी तो आज नाली और खंभे की अनोखी मिसाल देखने को मिल रही है। बहराल जरा सी बरसात और पानी की तेज धार में निवास करने वाले व्यक्ति के घर में उल्टा नाली का पानी घुस रहा है, जिससे बीमारियों के खतरे के साथ-साथ आधी रात को घर छोड़ने की नौबत तक बनी रहती है।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.
Top Hindi News Bhopal,Trending, Latest viral news,Breaking News - Raj Express
www.rajexpress.co