Raj Express
www.rajexpress.co
दो शावकों के साथ बाघिन
दो शावकों के साथ बाघिन|Social Media
मध्य प्रदेश

शहडोल: बुढ़ार क्षेत्र में दो शावकों के साथ बाघिन कर रही विचरण

मध्यप्रदेश के शहडोल जिले में शुक्रवार की बीती रात वनपरिक्षेत्र बुढ़ार के धनपुरी, बरतरा विक्रमपुर, ईरानी मोहल्ला के पीछे ग्रीन सीटी के आसपास बाघिन अपने दो शावको के साथ घूमते देखी गयी है

Shubham Tiwari

राज एक्सप्रेस। मध्यप्रदेश के शहडोल जिले में शुक्रवार की बीती रात वनपरिक्षेत्र बुढ़ार के धनपुरी, बरतरा विक्रमपुर, ईरानी मोहल्ला के पीछे ग्रीन सीटी के आसपास बाघिन अपने दो शावको के साथ घूमते देखी गयी है और इस बात की जानकारी वन विभाग को नहीं है। इसके पूर्व भी बुढ़ार ब्लाक के दो ग्रामों में दो महिलाओं का शिकार बाघिन कर चुकी है, जबकि वन विभाग के द्वारा ग्रामीण क्षेत्रों को सावधान किया गया था। इन दिनों चीता और तेंदुए को लेकर विभाग चौकन्ना है।

कुछ रेंज में तेंदुआ तो कुछ में घूमते हुये शेरों ने वन कर्मियों के लिये परेशानी बढ़ा दी है। जंगल में वन प्राणियों के कदमों के निशान की सर्चिंग विभागीय अधिकारी मैदानी स्तर पर कर रहे हैं। वन प्राणी को कोई खतरा ना हो इसलिये जंगलों में वन विभाग ने गश्ती बढ़ा दी है। पिछले दो दिनों से वन क्षेत्र बुढ़ार के खोह, बमुरा, पटना, घिरौल में नर मादा के शावक को वन कर्मियों ने खदेड़ कर भगा दिया था, उसके बाद अब बाघिन दो शावकों के साथ बरतरा, धनपुरा, सिंहपुर मार्ग के जंगली इलाके में देखी गयी है जिनकी विभाग द्वारा सर्चिंग की जा रहीं है।

गोहपारू थाना क्षेत्र के खन्नौधी से लगभग 4 किलोमीटर दूर उदयपुर गांव में एक बैल शिकार हो गया। खन्नौधी के उदयपुर ग्रामीण क्षेत्र में दहशत का माहौल बना हुआ है। बीती रात के बाद सुबह से बैल के शव के पास ग्रामीणों का हुजूम लगना शुरू हो गया साथ ही तरह-तरह की बातें भी होने लगी। बताया जा रहा है कि, जब तेंदुए ने बैल को पकड़ा था तभी कुछ गांव वालों ने देखा था संतोष सिंह राजमणि और राजेंद्र यादव द्वारा देखने की जानकारी प्राप्त हो रही है, ग्रामीणों द्वारा बताया गया कि, पूर्व में भी कुदरा गांव में तेंदुए के आने की सुगबुगाहट रही।

"कुछ दिन पहले खोह के जंगली क्षेत्र में नर-मादा को देखा गया था और वे खोह के बार्डर जंगल की ओर भाग गए थे। बाघिन और शावकों की जानकारी नहीं मिली है फिर भी सर्चिंग की जा रही है"

एन.के. शर्मा वन परिक्षेत्र अधिकारी बुढ़ार

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।