जनता दरबार में भावुक हुए सिंधिया
जनता दरबार में भावुक हुए सिंधिया|Social Media
मध्य प्रदेश

जनता दरबार में भावुक हुए सिंधिया, बयान से लग रहीं अटकलें

मध्यप्रदेश कांग्रेस के दिग्गज नेता और पूर्व महासचिव ज्योतिरादित्य सिंधिया शिवपुरी पहुंचे।

Priyanka Yadav

Priyanka Yadav

राज एक्सप्रेस। मध्यप्रदेश कांग्रेस के दिग्गज नेता और पूर्व महासचिव ज्योतिरादित्य सिंधिया गुरुवार को शिवपुरी पहुंचे, जनता ने पूर्व महासचिव ज्योतिरादित्य सिंधिया का जोरदार स्वागत किया। इस दौरान ज्योतिरादित्य सिंधिया ने सर्किट हाउस में जनता दरबार लगाकर लोगों की एक-एक करके समस्याएं सुनी हैं। आप को बता दें कि सिंधिया ने सर्किट हाऊस में वन टू वन लोगों की समस्याएं सुनीं और उनके समाधान की बात भी कही है।

मीडिया के सामने सिंधिया का दर्द

आपको बताते चलें कि, कांग्रेस महासचिव ज्योतिरादित्य सिंधिया लोकसभा चुनाव में मिली हार के बाद पहली बार शिवपुरी में जनता के बीच पहुंचे, हार को लेकर एक बार फिर सिंधिया का दर्द मीडिया के सामने छलका, कांग्रेस महासचिव ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कहा- "वे अब एक सामान्य व्यक्ति हैं सांसद होते तो जनता के काम आसानी से करवा देते।"

सिंधिया का यह बयान ऐसे समय पर आया है, जब सियासी गलियारों में उनकी पीसीसी चीफ बनने और राज्यसभा में जाने की अटकलें तेज हैं, सिंधिया के इस बयान से कई प्रकार के मतलब निकलना शुरू हो गए हैं।

विकास एवं योजनाओं से जुड़े सवाल

जनता से बात करते हुए ज्योतिरादित्य सिंधिया बेहद भावुक हो गए और बोले कि क्षेत्र की जनता ने मुझे बाहर कर दिया। अब मैं एक सामान्य नागरिक हूं, जब उनसे पूछा गया आप कैसे सामान्य व्यक्ति हो सकते हैं? आधी कैबिनेट तो आपकी है तो सिंधिया बोले कैबिनेट में मेरा कुछ नहीं है, व्यक्ति को अपना स्थान समझना चाहिए, मैं अब एक सामान्य नागरिक हूं और इस नाते सिर्फ योजनाओं के लिए गुहार लगा सकता हूं।

सांसद होता तो खुद बैठकर कराता काम

कांग्रेस के राष्ट्रीय महासचिव ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कहा कि, यदि मैं सांसद होता तो खुद बैठकर योजनाओं को पूरा करा था, लेकिन शिवपुरी की जनता ने मुझे दूर रखने का निर्णय पहले ही ले लिया था।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Raj Express
www.rajexpress.co