कमलनाथ सरकार के वक्त हुए पंचायत के परिसीमन को शिवराज सरकार ने किया निरस्त
पंचायतों का परिसीमन हुआ निरस्तSyed Dabeer Hussain - RE

कमलनाथ सरकार के वक्त हुए पंचायत के परिसीमन को शिवराज सरकार ने किया निरस्त

भोपाल, मध्यप्रदेश। MP सरकार ने कमलनाथ सरकार के वक्त हुए पंचायत के परिसीमन को निरस्त कर दिया है, सरकार ने परिसीमन निरस्ती का गजट नोटिफिकेशन जारी किया है।

भोपाल, मध्यप्रदेश। एमपी में पंचायत चुनाव (MP Panchayat Election 2021) की तैयारियों के बीच शिवराज सरकार ने कमलनाथ सरकार के वक्त हुए पंचायत के परिसीमन को निरस्त कर दिया है। बता दें कि कमल नाथ सरकार ने परिसीमन में 102 पंचायतों को समाप्त कर 1200 नई पंचायतों को बनाया था। वहीं, अब शिवराज सरकार ने कमल नाथ सरकार द्वारा कराए गए परिसीमन को रद्द किया।

पंचायतों का परिसीमन हुआ निरस्त :

शिवराज सरकार ने परिसीमन निरस्ती का गजट नोटिफिकेशन जारी किया है। इसमें नगरीय निकायों में शामिल हुए एरिया यथावत रहेगा। इस आदेश के बाद अब पंचायतों का पुराना परिसीमन ही प्रभावी रहेगा। हालांकि अभी ये स्पष्ट नहीं हुआ है कि पंचायतों का नए सिरे से परिसीमन होगा या नहीं।

कांग्रेस प्रवक्ता ने सरकार के फैसले पर उठाये सवाल :

वहीं, इस आदेश के बाद कांग्रेस प्रवक्ता ने सरकार के फैसले पर सवाल उठाये हैं। कांग्रेस प्रवक्ता ने ट्वीट कर कहा- क्या मध्य प्रदेश की भाजपा सरकार ने पंचायत चुनाव को आगे बढ़ा दिया है, क्या मध्य प्रदेश की भाजपा सरकार ने पूर्व में ग्राम पंचायतों के किए गए परिसीमन को निरस्त कर दिया है, क्या भाजपा सरकार पंचायत चुनाव से डर रही है।

बताते चलें कि, मध्य प्रदेश में दो साल पहले पंचायत चुनाव होना थे लेकिन तत्कालीन कमल नाथ सरकार ने नया परिसीमन किया था। इसी बीच उनकी सरकार गिर गई और कोरोना महामारी की वजह से चुनाव टलते रहे। वहीं, राज्य सरकार इन चुनावों के लिए राज्य निर्वाचन आयोग को बजट का आवंटन भी करती रही।

आपको बताते चलें कि, कमलनाथ सरकार ने सिंतबर 2019 में प्रदेश में जिले से लेकर ग्राम पंचायतों तक नया परिसीमन लागू किया था, जिसके बाद करीब 1200 नई पंचायतें बनी थीं और 102 ग्राम पंचायतों को समाप्त कर दिया था, इसके साथ ही 1950 की सीमा में बदलाव किए गए थे। अब मध्य प्रदेश में पंचायत चुनाव को लेकर राज्य की शिवराज सरकार के पूर्व की कमलनाथ सरकार के परिसीमन को निरस्त दिया है जिसके बाद चुनाव पर संशय की स्थिति और ज्यादा बढ़ गई है।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.
Top Hindi News Bhopal,Trending, Latest viral news,Breaking News - Raj Express
www.rajexpress.co