Raj Express
www.rajexpress.co
माननखेड़ा में ग्रामीणो से मिले शिवराज सिंह चौहान
माननखेड़ा में ग्रामीणो से मिले शिवराज सिंह चौहान|Nilesh Dhariwal
मध्य प्रदेश

माननखेड़ा में ग्रामीणों से मिले शिवराज, किसानों ने दिखाए बिजली बिल

जावरा, ढोढर, रतलाम: पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने मंदसौर से लौटने के दौरान माननखेड़ा चौराहे पर अतिवृष्टि से प्रभावित जावरा विधानसभा क्षेत्र के ग्रामीणो से मूलाकात की।

Nilesh Dhariwal

हाइलाइट्स :

  • माननखेड़ा में पूर्व CM शिवराज सिंह चौहान किसानों से हुए रूबरू

  • सरकार पीड़ितों को पक्का मकान बनाने की राशी करे स्वीकृत

  • मांगे नहींं मानी तो 21 सितंबर को मंदसौर में करेगे किसान आंदोलन

  • किसानों ने पूर्व CM को दिखाए भारी भरकम बिजली बिल

राज एक्‍सप्रेस। अतिवृष्टि से जीन किसानों के मकान गिर गए ओर जो जर्जर खड़े है, वो कब गिर जाए कोई ठिकाना नही। उन्हे पक्का मकान देने की राशी शासन शीघ्र स्वीकृत करे। यह बात पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने मंदसौर से लौटने के दौरान माननखेड़ा चौराहे पर अतिवृष्टि से प्रभावित जावरा विधानसभा क्षेत्र के ग्रामीणो से मूलाकात के दौरान संबोधन में कहींं।

ग्रामीणों के घरों में खाने का अनाज नहींं :

शिवराज सिंह बोले बारिश के कहर से ग्रामीणों के घरों में खाने का अनाज नहींं है, उनको 25 हजार रूपये सहायता राशी तथा 50 किलो गेंंहु ओर 5 लीटर तेल की व्यवस्था सरकार को करनी चाहिए। वे बोले फसल ऐसी खराब हुई है कि, सर्वे की तो आवश्यकता ही नही, प्रत्येक किसान को 40 हजार रूपये प्रति हैक्टयेर के हिसाब से मुआवजा दिया जाना चाहिए। पूर्व सीएम ने कहा आगामी रबी की फसल के लिए सरकार को खाद्य ओर बीज 0% ब्याज पर कर्जा लेकर व्यवस्था करे। इससे पूर्व घरों में बिजली बिल अधिक आने पर बिल को जलाकर विरोध प्रकट भी सीएम ने किया, साथ में सांसद सुधीर गुप्ता, विधायक डॉ. राजेन्द्र पाण्डेय भी थे।

भारी भरकम बिजली बिल जलाए:

शिवराज ने कांग्रेस सरकार पर हमला करते हुए कहा कि, चुनाव के दौरान किए कांग्रेस ने बिजली बिल हाफ का नारा दिया था, लेकिन बड़े-बड़े बिल किसानों ओर लोगों को थमाए जा रहे है। इस बीच कुछ किसानों ने भारी भरकम बिजली बिल दिखाए, तो शिवराज ने मंच पर ही उन बिलों की होली जलाकर विरोध प्रकट किया ओर बोले की ऋण, कर्जा माफी के साथ बाढ पीड़ितों को समय पर मुआवजा नही मिलता है, तो 21 सितंबर को मंदसौर में आंदोलन करेगे, जिसमें जावरा विधानसभा क्षेत्र के किसान भी शामिल होगे।

तिराहे पर कार्यकर्ताओं ने किया स्वागत
तिराहे पर कार्यकर्ताओं ने किया स्वागत
Nilesh Dhariwal

तिराहे पर कार्यकर्ताओं ने किया स्वागत :

माननखेड़ा चौराहे पर किसानों से मुलाकात के बाद CM शिवराजके वाहन में सांसद-विधायक रहे ओर भूतेड़ा टोलनाके तक उन्हे छोड़ने पहुंचे। इस बीच जोयो होटल तिराहे पर भाजपा कार्यकर्ताओं ने सीएम का स्वागत किया। इस दौरान सीएम ने चाय की चुस्की भी ली। स्वागत के दौरान महेश सोनी, राहुल उपमन्यु, सौरभ पगारिया, विरेन्द्रसिंह चौहान, मोड़ीराम धाकड़, अनिल सेठ, बंटी टुकडिय़ा, शंकर चतवाणी आदि मौजूद रहे।

पूर्व सीएम को दिया ज्ञापन :

पूर्व मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान को नरेन्द्र सिंह चंद्रावत कॉलोनीवासियों ने माननखेड़ा पर ज्ञापन दिया। फोरलेन कंपनी द्वारा छोटी पुलिया बनाए जाने का विरोध दर्ज कराते हुए यहां बड़ी पुलिया बनाने की मांग की। पूर्व सीएम को बताया की छोटी पुलिया होने के चलते इससे लगी कॉलोनियों में पानी जमा हो गया। बाढ़ जैसे हालात हो गए, बाद में पुलिया का अवलोकन भी करवाया गया तथा बड़ी पुलिया बनाने की मांग कॉलोनीवासियों ने की।

PM मोदी को संगठन ने लिखा पत्र -

इधर वैष्णव बैरागी ग्रामीण युवा शक्ति संगठन ने PM नरेन्द्र मोदी को पत्र लिख कर क्षेत्र में हुई भारी बारिश को आपदा घोषित करने की मांग की। बताया कि, क्षेत्र में हुई भारी बारिश ने कई घरों को तबाह कर दिया। खरीफ की फसले चौपट हो गई, जिससे ग्रामीणों का जनजीवन अस्त-व्यस्त हो गया। अतिवृष्टि के कारण अनेक कच्चे मकान गिर गए ओर पालतु जानवर भी पानी में बह गए। ग्रामीणों ने राहत शिविरों में शरण ले रखी है। ऐसे में राष्ट्रीय आपदा घोषित की जाए तथा समुचित सहायता ग्रामीणों को प्रदान करने की मांग की।