CM ने सोनिया गांधी को लिखा पत्र, मांग में कहा- नाथ को सभी पदों से हटाया जाए

भोपाल, मध्यप्रदेश : कमल नाथ द्वारा दिए गए अभद्र बयान के विरोध में मुख्यमंत्री ने सोनिया गांधी को पत्र लिखकर कार्रवाई करने की रखी मांग।
CM ने सोनिया गांधी को लिखा पत्र, मांग में कहा- नाथ को सभी पदों से हटाया जाए
CM ने सोनिया गांधी को लिखा पत्रPriyanka Yadav-RE

भोपाल, मध्यप्रदेश। कांग्रेस नेता और पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ द्वारा भारतीय जनता पार्टी की प्रत्याशी इमरती देवी को लेकर दिए बयान पर बवाल मचा हुआ है, कमल नाथ द्वारा दिए गए अभद्र बयान पर शिवराज ने कहा कि इन दिनों नवरात्र भी चल रहे हैं, जिसमें हम स्त्रियों की शक्ति के रूप में आराधना करते हैं। लेकिन इसी दौरान कमलनाथ ने हमारी उस बहन का सार्वजनिक मंच से अपमान किया है, जो गरीब श्रमिक परिवार में जन्मीं और अपनी मेहनत की बदौलत राजनीति में आगे बढ़कर विधायक और फिर मंत्री के पद तक पहुंची।

बता दें कि कमलनाथ ने चुनावी सभा के दौरान एक नहीं दो-दो बार उनके संबंध में अमर्यादित टिप्पणी की। इस तरह अनुसूचित जाति की महिला मंत्री के मान और सम्मान की धज्जियां उड़ायी गयीं। मुख्यमंत्री ने कहा कि वे इन सब बातों से बेहद व्यथित हैं और इसलिए उन्होंने प्रायश्चित स्वरूप दो घंटे का मौन उपवास महात्मा गांधी की प्रतिमा के समक्ष किया। चौहान ने उम्मीद जाहिर की कि कांग्रेस का नेतृत्व इस संबंध में उचित कार्रवाई करेगा।

सीएम शिवराज की सोनिया गांधी से मांग

कमल नाथ द्वारा दिए गए अभद्र बयान पर आज भाजपा के कई नेता मध्य प्रदेश के अलग-अलग स्थानों पर कांग्रेस के खिलाफ प्रदर्शन भी कर रही है, वहीं मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने इमरती देवी के समर्थन में मौन धारणा देते हुए कांग्रेस पार्टी की अध्यक्ष सोनिया गांधी को पत्र तक लिखा है, भाजपा प्रत्याशी इमरती देवी को लेकर पूर्व सीएम और प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमल नाथ द्वारा दिए गए अभद्र बयान पर सीएम शिवराज ने सोनिया गांधी से मांग की है कि महिला के प्रति अपमानजनक शब्द कहने वाले कमल नाथ को वे कांग्रेस के सभी पदों से तुरंत हटाएं।

शिवराज ने सोनिया गांधी को पत्र लिखा
शिवराज ने सोनिया गांधी को पत्र लिखाSocial Media

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने सोनिया गांधी से इस मामले पर संज्ञान लेने का आग्रह किया है, साथ ही कमलनाथ के टिप्पणी की निंदा भी की है, मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने अपने पत्र में कहा है- मुझे लगा था कि स्वयं एक महिला होने के नाते आप इस खबर का संज्ञान लेंगी तथा संवैधानिक पद पर आसीन एक दलित महिला के अपमान का प्रतिकार करते हुए अपनी पार्टी के नेता की टिप्पणी की निंदा करते हुए उनके खिलाफ कड़ी कार्रवाई करेंगी।

मध्य प्रदेश की 28 विधानसभा सीटों के लिए हो रहे उपचुनाव में नेताओं की तीखी बयानबाजी रोज सुर्खियां बन रही है, इसी क्रम में कांग्रेस नेता कमलनाथ बयान पर शिवराज ने हमला बोलते हुए कहा जब कल हमने उनके कृत्य पर ध्यान दिलाया तो, उन्होंने निर्लज्जता की सारी हदें पार करते हुए ‘आइटम’शब्द का अर्थ समझाने का प्रयास किया। कमलनाथ कहते हैं ‘मैं भी आइटम और तुम भी आइटम‘। चौहान ने कहा कि ध्यान दिलाने पर भी उन्हें कोई अफसोस नहीं है।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

Raj Express
www.rajexpress.co