Raj Express
www.rajexpress.co
पूर्व मुख्यमंत्री का बयान
पूर्व मुख्यमंत्री का बयान|Social Media
मध्य प्रदेश

चरण वंदना मामले में शिवराज का तंज, कर्तव्यनिष्ठा पर उठाये सवाल

भोपाल, मध्यप्रदेश : बीते दिनों हुए मंत्रियों के चरण वंदना मामले ने अलग ही तूल पकड़ लिया है जिस पर विपक्ष नेता कर रहे हैं बयानबाजी।

Deepika Pal

राज एक्सप्रेस। मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल में मंत्रियों की चरण वंदना मामले ने प्रदेश की सियासत में हलचल मचा दी है हाल ही में देवास में एक कार्यक्रम में महिला अफसर द्वारा कैबिनेट मंत्री की चरण वंदना करने और इससे पहले ग्वालियर में कैबिनेट मंत्री द्वारा कांग्रेस महासचिव सिंधिया को दण्डवत प्रणाम करने का मामला घटित हुआ था, जिसका सोशल मीडिया पर वीडियो वायरल हो गया था।

विपक्ष नेताओं ने प्रोटोकॉल उल्लंघन का दिया हवालाः

इस मामले पर सरकार पर हमला बोलते हुए विपक्ष के नेताओं ने प्रोटोकॉल का उल्लंघन करने और पद की गरिमा पर सवाल खड़े किए। वहीं इस मामले ने सियासत में हंगामा खड़ा कर दिया है जिस पर कई विपक्ष नेता बयानबाजी कर रहे हैं।

पूर्व सीएम का सियासी तंजः

इस मामले पर पूर्व मंत्री नरोत्तम मिश्रा के बयान के बाद पूर्व सीएम शिवराज सिंह ने भी बयान देते हुए कहा है कि,

'सरकार में रेट तय है उसके बाद भी पैर छूने पड़ रहे हैं, वही नौकरशाही की अपनी मर्यादा है, ऐसा नतमस्तक होना उनकी छवि और कर्तव्यनिष्ठा पर सवाल खड़ा करता है।

वहीं अन्य मामले दिग्विजय सिंह के भाई व चाचौड़ा के विधायक लक्ष्मण सिंह के कमलनाथ सरकार के विरुद्ध बयान कमलनाथ सरकार को मजबूर नहीं मजबूत सीएम बनने की सलाह का समर्थन किया। कहा कि, लक्ष्मण सिंह सही कहते हैं कि, जमाना मान रहा है कि, सरकार काम नहीं कर रही, पैसे की लूट हो रही है प्रदेश बरबाद हो रहा है कमलनाथ सरकार को जागने की आवश्यकता है।

पहले से तैयार होना था एक्शन प्लानः

प्रदेश में राजधानी समेत कई जिलों में बढ़ते डेंगू के कहर को देखते हुए कहा कि, सरकार को पहले से एक्शन प्लान तैयार करना चाहिए था, हम मजबूत एक्शन प्लान तैयार करते थे वही इस मामले पर स्वास्थ्य विभाग ने भी स्वीकारा है कि, स्वास्थ्य विभाग डेंगू के प्रभाव को कम करने में असफल हुआ है।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।