सीधी हादसा: लापता 3 लोगों की खोज में जुटी टीम, मुख्य नहरों में जारी रेस्क्यू
सीधी हादसा: लापता 3 लोगों की खोज में जुटी टीमPriyanka Yadav-RE

सीधी हादसा: लापता 3 लोगों की खोज में जुटी टीम, मुख्य नहरों में जारी रेस्क्यू

सीधी, मध्यप्रदेश : प्रदेश के सीधी बस हादसे में लापता तीन लोगों की तलाश में सुबह से सेना की टीम जुटी हुई है, सीधी से रीवा तक मुख्य नहरों में रेस्क्यू चल रहा।

सीधी, मध्यप्रदेश। प्रदेश के सीधी में 16 फरवरी को बस पलटने से बड़ा हादसा हुआ, बता दें कि मंगलवार को रामपुरनैकिन थाना क्षेत्र में सीधी से सतना रवाना हुयी बस बाणसागर परियोजना से जुड़ी नहर में गिर गयी थी, इस वजह से 51 यात्रियों की मृत्यु हुयी है। बस में सवार अधिकांश यात्री रेलवे और नर्सिंग संबंधी परीक्षा देने के लिए सतना जा रहे थे, हादसे के बाद लगभग सात लोगों को बचा लिया गया था।

हादसे में लापता 3 लोगों को खोजने में जुटी सेना की टीम :

मिली जानकारी के मुताबिक मध्यप्रदेश के सीधी बस हादसे में तीन लोग लापता बताए गए हैं, गुरुवार सुबह से तलाश में लगी सेना की टीम नहर में करीब 20 किमी से ज्यादा तलाश की गई है, वही ऑक्सीजन सिलेंडर के साथ सुरंग में उतरें जवान, बता दें कि सीधी से रीवा तक मुख्य नहरों में रेस्क्यू चल रहा है, इस बीच इस बात की आशंका भी है कि वे लापता तीन लोग नहर में बनी सुरंग में फंसे हो सकते हैं।

लंबी सुरंग में लापता युवकों की तलाश जारी :

बता दें कि सीधी बस हादसे में लापता तीन लोग की तलाश बघवार से 10 किमी दूर नहर की 4 किमी लंबी सुरंग में की जा रही है। मिली जानकारी के मुताबिक लापता 3 लोगों की खोज के लिए जबलपुर से सेना भी बुलाई गई है, सेना के जवान लापता युवकों को छुहिया पहाड़ी में बनी नहर की करीब 4 किलोमीटर लंबी सुरंग में तलाश कर रहे है। मिली जानकारी के मुताबिक लापता युवकों में एक को सतना से पकड़नी थी ट्रेन, दूसरा बैंक के काम से तो तीसरा युवक बुआ की बेटी को परीक्षा दिलाने ले जा रहा था।

जानिए कैसे हुआ था हादसा

मध्यप्रदेश के सीधी जिले के रामपुर नैकिन थाना क्षेत्र में यात्रियों से भरी एक बस के बाणसागर नहर में गिरने के कारण बड़ा हादसा हुआ था, ये बस सीधी से सतना जा रही थी, साइड लेते वक्‍त वह पुलिया से सीधे नहर में जा गिरी।

नीचे दी गई लिंक पर क्लिक कर पढ़ें पूरी खबरें-

सीधी बस हादसा : चार और शव मिले, मृतकों की संख्या बढ़कर 51 हुई

बस पीड़ितों के परिजनों से मिले मुख्यमंत्री, कई अफसरों पर गिरी गाज

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

AD
No stories found.
Raj Express
www.rajexpress.co