Singrauli : कम्पनी की मनमानी पर रोष, जेपी कम्पनी से राहत के लिए ज्ञापन
कम्पनी की मनमानी पर रोष, जेपी कम्पनी से राहत के लिए ज्ञापनPrem Gupta

Singrauli : कम्पनी की मनमानी पर रोष, जेपी कम्पनी से राहत के लिए ज्ञापन

सिंगरौली, मध्यप्रदेश। जेपी पावर प्लांट कम्पनी की ओर से जमीन अधिग्रहण के बाद नियमों की पालना में मनमानी से प्रभावित लोगों में रोष है।

सिंगरौली, मध्यप्रदेश। जेपी पावर प्लांट कम्पनी की ओर से जमीन अधिग्रहण के बाद नियमों की पालना में मनमानी से प्रभावित लोगों में रोष है। इस सम्बंध में प्रभावित लोगों को राहत दिलाने के लिए मजदूर संघ इंटक के खाद्य आपूर्ति विभाग की ओर से एसडीएम देवसर को ज्ञापन दिया गया है। इसमें प्रशासन से कम्पनी की मनमानी पर अंकुश लगाने सहित प्रभावित लोगों को राहत दिलाने की मांग की गई है। मजदूर संघ के जिलाध्यक्ष सिद्धनाथ साहू के नेतृत्व में ज्ञापन देने वाले लोगों ने कार्रवाई नहीं होने पर आंदोलन की चेतावनी भी दी है।

क्या कहा ज्ञापन में :

ज्ञापन में कहा गया है कि किसानों की भूमि अधिग्रहण के समय हर परिवार के एक सदस्य को नौकरी देने का अनुबंध किया गया था मगर कम्पनी ने ऐसा नहीं किया। अधिकतर लोगों को अस्थायी काम पर रखा गया तथा कुछ दिन पहले ही 125 लोगों को कम से हटा दिया गया। इस प्रकार भूमि अधिग्रहण के बाद सैकड़ों प्रभावित लोग आज तक काम का इंतजार कर रहे हैं तथा कुछ को कम से हटाकर बेरोजगार कर दिया गया है। इससे जीवन यापन मुश्किल हो गया। आरोप है कि कम्पनी ने रेलवे लाइन व बैराज के डूब क्षेत्र के प्रभावित लोगों को भी रोजगार नहीं दिया जबकि इसका कांटेक्ट था। निगरी की विस्थापित कालोनी में स्कूल, हॉस्पिटल, खेल मैदान व बिजली की सुविधा भी नहीं दी गई। इसलिए वहां बसाए गए लोग परेशान हैं। मजदूर संघ ने इन समस्याओं के निपटारे की मांग की है। इसके साथ ही निगरी, कटई, निवास व हरदी में रेलवे लाइन के लिए जमीन अधिग्रहण से प्रभावित परिवारों के सदस्य को नौकरी देने की मांग की गई है। संघ ने मांगों पर कार्रवाई नहीं किए जाने पर एक महीने बाद हड़ताल व धरना प्रदर्शन करने की चेतावनी दी है।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.