कलेक्टर केवीएस चौधरी की अध्यक्षता में बैठक आयोजित
कलेक्टर केवीएस चौधरी की अध्यक्षता में बैठक आयोजित|Shashikant Kushwaha
मध्य प्रदेश

चल रहे निर्माण कार्यो को समय और गुणवत्ता के साथ कराए पूर्ण:कलेक्टर

सिंगरौली, मध्यप्रदेश :कलेक्टर ने योजनाओं के संबंध में जानकारी देने के साथ ही बैठक में अनुपस्थित हाउसिंग बोर्ड के कार्यपालन यंत्री के विरूद्ध कार्यवाही करने के दिए निर्देश।

Shashikant Kushwaha

राज एक्सप्रेस। मध्यप्रदेश के सिंगरौली जिले में कराये जा रहे विभिन्न निर्माण कार्यो को समय सीमा में गुणवत्ता के साथ पूर्ण करने का निर्देश कलेक्टर केवीएस चौधरी द्वारा कलेक्ट्रेट सभागार में आयोजित बैठक में दिए गए। बैठक के दौरान कलेक्टर चौधरी ने संबंधित विभागों के कार्यपालन यंत्रियों को संबंधित निर्देश दिए। साथ ही बैठक में अनुपस्थित हाउसिंग बोर्ड के कार्यपालन यंत्री के विरूद्ध कार्यवाही करने हेतु प्रस्ताव तैयार करने के निर्देश जारी किए।

स्वीकृत कार्यो की समीक्षा :

कलेक्टर चौधरी के द्वारा डीएमएफ मद से स्वीकृत कार्यो की समीक्षा की गई तथा निर्देश दिये गये कि, जिन पंचायतों में अभी तक पीडीएस गोदामों के निर्माण पूर्ण नहीं कराये गये हैं, शीघ्र ही गोदाम का निर्माण कार्य पूर्ण कराया जाये। साथ ही आदिवासी छात्रावासों, आंगनवाड़ी भवनों के निर्माण कार्यो को भी शीघ्र पूर्ण कराये जाने का निर्देश दिया गया।

बोर्ड परीक्षा के संबंध में कहा :

कलेक्टर ने बताया कि बोर्ड परीक्षा की तिथियाँ घोषित हो चुकी हैं उन्होनें जिला शिक्षा अधिकारी को निर्देश दिए कि बोर्ड की परीक्षा में शामिल होने वाले छात्रों से एक बार फिर से निर्धारित किये गये मॉडल प्रश्न पत्रों को हल कराये। जो छात्र प्रश्नों को सही से हल नहीं कर पा रहे हैं उनकी अलग से तैयारी करायें। ताकि जिले का परीक्षा परिणाम सार्थक प्राप्त हो सके।

लंबित शिकायतों की समीक्षा :

बैठक के दौरान कलेक्टर ने सौ दिवस, दो सौ दिवस के साथ ही पांच सौ दिवस से लंबित शिकायतों की समीक्षा करते हुये समस्त राजस्व अधिकारियों को निर्देश दिये कि लंबित शिकायतों का एक सप्ताह के अंदर निराकरण करें। उन्होंने नगर निगम के उपस्थित अधिकारियों से प्लास्टिक भण्डारण एवं सड़कों के निर्माण में प्लास्टिक का अधिक से अधिक प्रयोग करने का निर्देश दिया। साथ निर्देश दिए कि जिन वार्डो में सड़क, पार्क, नाली निर्माण कराने हेतु स्थल चिन्हित कर लिये गये हैं उनका प्रस्ताव तैयार कर प्रस्तुत करें।

शिकायतों के निराकरण के संबंध में निर्देश :

कलेक्टर ने सीएम हेल्प लाईन, आपकी सरकार आपके द्वार के साथ ही जन सुनवाई में प्राप्त होने वाले आवेदन पत्रों की समीक्षा करते हुये निर्देश दिए कि, जिन अधिकारियों के द्वारा प्राप्त आवेदन पत्रों का समय पर निराकण नहीं किया गया वे तीन दिवस के अंदर निराकरण करें।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Raj Express
www.rajexpress.co