Singrauli:NCL के नेहरू शताब्दी चिकित्सालय में सुना गया माननीय प्रधानमंत्री का उद्बोधन
एनसीएल के नेहरू शताब्दी चिकित्सालय प्रधानमंत्री का उद्बोधन सुनते हुएPrem Gupta

Singrauli:NCL के नेहरू शताब्दी चिकित्सालय में सुना गया माननीय प्रधानमंत्री का उद्बोधन

सिंगरौली, मध्यप्रदेश : भारत सरकार की मिनीरत्न कंपनी नॉर्दर्न कोलफील्ड्स लिमिटेड (एनसीएल) के नेहरू शताब्दी चिकित्सालय में गुरुवार को प्रधानमंत्री, भारत सरकार के उद्बोधन को सुना गया।

सिंगरौली, मध्यप्रदेश। भारत सरकार की मिनीरत्न कंपनी नॉर्दर्न कोलफील्ड्स लिमिटेड (एनसीएल) के नेहरू शताब्दी चिकित्सालय में गुरुवार को प्रधानमंत्री, भारत सरकार के उद्बोधन को सुना गया। एम्स ऋषिकेश, उत्तराखंड में आयोजित कार्यक्रम के माध्यम से प्रधानमंत्री जी, विभिन्न राज्यों/ केन्द्रशासित प्रदेशों के लिए पीएसए (प्रेसर स्विंग एब्ज़ोर्बशन) आक्सीजन प्लांट राष्ट्र को समर्पित करने के अवसर पर बोल रहे थे। एनएससी चिकित्सालय परिसर सभागार मे आयोजित इस कार्यक्रम के दौरान सिंगरौली के विधायक श्री राम लल्लू वैश्य बतौर मुख्य अतिथि उपस्थित रहे। साथ ही इस दौरान एनएससी के चिकित्सक एवं पैरामेडिकल स्टाफ भी उपस्थित रहे।

एनएससी में लगे आक्सीजन प्लांट को देखा :

कार्यक्रम के उपरांत विधायक महोदय व अन्य लोगों ने परिसर मे नवनिर्मित पीएसए आक्सीजन प्लांट का भी जायजा लिया। इस दौरान चिकित्सा प्रमुख, एनसीएल डॉक्टर एस के भुवाल एवं मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. विवेक खरे, एनएससी ने सभी को ऑक्सीजन प्लांट से जुड़ी बारीकियों के बारे मे विस्तार से बताया। विधायक, सिंगरौली राम लल्लू वैश्य ने आक्सीजन प्लांट लगाने के लिए एनसीएल प्रबंधन की सराहना की और विश्वास जताया कि इससे आस पास के नागरिकों को बेहतर चिकित्सीय सुविधा उपलब्ध कराने में मदद मिलेगी।

विधायक महोदय व अन्य लोगों ने एनएससी में लगे आक्सीजन प्लांट को देखा
विधायक महोदय व अन्य लोगों ने एनएससी में लगे आक्सीजन प्लांट को देखाPrem Gupta

मध्य प्रदेश के 05 व एम्स भोपाल में एक ऑक्सीजन प्लांट के लिए एनसीएल ने दिये हैं 11.75 करोड़ :

एनसीएल ने निगमित सामाजिक दायित्व (सीएसआर) के तहत मध्य प्रदेश सरकार के लोक स्वास्थ्य और परिवार कल्याण विभाग को 10 करोड़ की धनराशि प्रदान की थी जिससे भोपाल, इंदौर, रीवा, जबलपुर और सागर में संचालित मेडिकल कॉलेजों में 1500 एलपीएम क्षमता के पाँचपीएसए ऑक्सीजन प्लांट स्थापित किए जाएंगे। साथ ही कम्पनी ने अपने सीएसआर मद से एम्स, भोपाल में भी एक ऑक्सीजन जेनरेटिंग प्लांट की स्थापना हेतु 1.75 करोड़ की सहायता राशि दी है।

नेहरू शताब्दी चिकित्सालय में संचालित हैं, 2 ऑक्सीज़न प्लांट :

कम्पनी ने अपने कर्मियों, उनके परिजनो सहित आस-पास के निवासियों के लिए नेहरू शताब्दी चिकित्सालय में सिंगरौली क्षेत्र के सबसे बड़े चिकित्सीय ऑक्सीज़न संयंत्र की स्थापना की है।इसका लोकार्पण महात्मा गांधी की जयंती के शुभ अवसर पर सीएमडी एनसीएल प्रभात कुमार सिन्हा ने किया था। 2.53 करोड़ की लागत से तैयार इस संयंत्र की कुल क्षमता 1200(प्रत्येक की 600 एलपीएम ) एलपीएम है। इस संयंत्र की मदद से नेहरू चिकित्सालय में 150 बिस्तरों तक पाइप के माध्यम से ऑक्सीज़न पहुंचाई जा सकेगी। एनसीएल की इस पहल से राज्य की कोविड के खिलाफ मुहिम को मजबूती मिलेगी।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.