अवैध अतिक्रमण को नगर निगम अमले ने हटाया
अवैध अतिक्रमण को नगर निगम अमले ने हटाया|Shashikant Kushwaha
मध्य प्रदेश

अवैध अतिक्रमण पर चला नगर निगम का बुलडोजर

सिंगरौली, मध्यप्रदेश : अवैध अतिक्रमण को नगर निगम अमले ने हटाया, कुछ व्यक्तियों के द्वारा अवैध रूप से अतिक्रमण कर आवास बनाकर कब्जा किया गया था।

Shashikant Kushwaha

राज एक्सप्रेस। वार्ड क्रमांक 41 गनियारी मे निर्मित प्रधानमंत्री आवास के समीप शासकीय भूमि पर कुछ व्यक्तियों के द्वारा अवैध रूप से अतिक्रमण कर आवास बनाकर कब्जा किया गया था। जिसे आज नगर निगम अमले के द्वारा सहायक कलेक्टर संघप्रिय के अगुवाई में तथा नगर निगम के उपायुक्त एवं अतिक्रमण प्रभारी इन्द्रदेव सिंह चौहान के उपस्थिति में अतिक्रमण को हटाकर शासकीय भूमि को अतिक्रमण मुक्त कराया गया ।

अतिक्रमण हटाने हेतु 1 सप्ताह का मोहलत

वही बताते हैं कि इसके पूर्व में हल्का पटवारी व नगर निगम के अधिकारी-कर्मचारी द्वारा कई बार समझाईश और सूचना दी गयी थी जो आज शासकीय भूमि पर अवैध बने घर वगैरह को नगर पालिक निगम सिंगरौली द्वारा बड़ी मशक्कत और हो हल्ला के बीच अतिक्रमण हटाया गया और वहीं कुछ लोगों को स्वयं अतिक्रमण हटाने हेतु 1 सप्ताह की मोहलत दी गयी ।

लोगों ने लगाया भेदभाव का आरोप

वहीं लोगों का कहना है कि नगर निगम केवल गरीबों के आशियाने पर बुलडोजर चलवा रहा है वहीं कचनी के चंद्रमा टोला के पास नाला के किनारे विध्यनगर के सौरा नाला के किनारे नगर निगम के अधिकारियों की मिलीभगत से बड़े भू-माफियाओं द्वारा लगातार कब्जा किया जा रहा है और पहले से अतिक्रमण फैला हुआ है वहीं नगर-निगम प्रशासन को वहां पर दिखाई नहीं पड़ता है ।

सत्या होटल पर मेहरबान नगर निगम

नगर निगम क्षेत्र में प्रतिष्ठित होटल सत्या के संचालक के ऊपर आरोप लगाते हुए लोगों ने कहा कि, व्यवसाय के द्वारा काफी लंबे समय से सरकारी जमीन पर अतिक्रमण कर रखा है जिस पर नगर निगम के अधिकारियों की नजर नहीं पड़ती नगर निगम के अधिकारी सिर्फ गरीबों का आशियाना उजाड़ने में लगे हुए हैं पर निगमायुक्त व संबंधित अधिकारियों ने आजतक किसी भी प्रकार की कार्यवाही नहीं की है।

निगमायुक्त ने कड़े शब्दों में दी थी हिदायत

सिंगरौली नगर निगम के आयुक्त श्री शिवेंद्र सिंह ने पूर्व में बयान जारी कर कहा था कि नगर निगम क्षेत्र में अवैध अतिक्रमण कतई भी बर्दाश्त नहीं किया जाएगा बावजूद इसके सत्या होटल संचालक के द्वारा निगमायुक्त के आदेशों को ठेंगा दिखाते हुए नजर आ रहे हैं अब देखने वाली बात यह होगी कि, आखिर कब तक अवैध अतिक्रमण को लेकर होटल संचालक पर कार्रवाई होगी।

निगम की इस बड़ी कार्यवाही को देखकर अन्य जगहों में जिन लोगों के द्वारा अतिक्रमण किया गया है उनमें दहशत है। वहीं निगम के अतिक्रमण प्रभारी श्री चौहान ने बताया कि, इन अतिक्रमणकारियों को पूर्व मे नियमानुसार राजस्व एवं नगर निगम के कर्मचारियों के द्वारा समझाईश भी दी गई थी। इसके बावजूद भी अतिक्रमण करने वालों के द्वारा अपने अतिक्रमण को नहीं हटाया गया। जिसके परिणाम स्वरूप निगम अमले, पुलिस प्रशासन एवं राजस्व अमले के द्वारा यह कार्यवाही की गई।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Raj Express
www.rajexpress.co