सिंगरौली : तीन दिन की वर्षा से बिगड़ गई जलाशय की सेहत
तीन दिन की वर्षा से बिगड़ गई जलाशय की सेहतPrem N Gupta

सिंगरौली : तीन दिन की वर्षा से बिगड़ गई जलाशय की सेहत

सिंगरौली, मध्यप्रदेश : तीन दिन पहले वर्षा ने अहिलो लघु जलाशय को नुकसान पहुंचाया। वहां निर्मित पानी उठाने वाले पंप का निर्माण टूट गया।

हाइलाइट्स :

  • अहिलो तालाब का मामला।

  • वर्षा से क्षतिग्रस्त हुआ पक्का निर्माण।

  • तकनीकी टीम ने शुरू की मरम्मत।

सिंगरौली, मध्यप्रदेश। हालिया बारिश व तेज हवा ने जिले की सिंचाई व्यवस्था को भी चोट पहुंचाई है। रविवार व शनिवार को लगातार दो दिन वर्षा व तेज हवा के कारण जिले में अहिलो जलाशय क्षतिग्रस्त हो गया। बिगड़े मौसम के कारण अहिलो जलाशय के पानी निकासी पंप का पक्का निर्माण ढह गया। अब जल संसाधन विभाग को इस जलाशय की व्यवस्था बनाने के लिए विशेष तकनीकी टीम बुलाकर पंप की मरम्मत करवानी पड़ रही है।

विभाग के विशेष तकनीकी खंड की यहां पहुंची टीम ने बुधवार से मरम्मत कार्य शुरू किया। इस काम को मुकम्मल होने में लगभग एक सप्ताह लगने का अनुमान है। बताया गया कि तीन दिन पहले वर्षा ने अहिलो लघु जलाशय को नुकसान पहुंचाया। वहां निर्मित पानी उठाने वाले पंप का निर्माण टूट गया।

इस जलाशय से गांव अहिलो व इसके आसपास की 229 हेक्टेयर भूमि में सिंचाई होती है। जल संसाधन विभाग की ओर से इस जलाशय का पानी नहर के माध्यम से किसानों के खेत तक पहुंचाने की व्यवस्था है। विभाग ने इस लघु जलाशय का निर्माण वर्ष 2001 में करवाया था। इसके बाद से अहिलो व इसके निकट के किसानों को सिंचाई का लाभ मिल रहा है।

हाल ही में जलाशय की व्यवस्था बिगड़ने पर जल संसाधन विभाग के स्थानीय कार्यालय से इसकी जल्द मरम्मत के लिए विभाग के तकनीकी व अनुरक्षण खंड को सूचित किया गया ताकि मानसून पूर्व काम पूरा हो सके और मानसून में वहां जल संचय कर भविष्य में किसानों को सिंचाई का लाभ दिया जा सके।

जल संसाधन विभाग के स्थानीय कार्यपालन यंत्री राम अवतार कौशिक ने बताया कि मरम्मत कार्य के लिए टीम बुधवार सुबह मौके पर पहुंची। इसके साथ ही जलाशय में सुधार का काम शुरू करवाया गया। बुधवार को ढह गए मलबे को हटाने का काम चला। इस काम में जेसीबी मशीन का उपयोग किया जा रहा है। इसके साथ ही कुछ स्थानीय श्रमिकों की मदद भी ली गई है। सुधार कार्य के दौरान कार्यपालन यंत्री कौशिक ने मौके पर मौजूद रहकर तकनीकी टीम के कार्मिकों को आवश्यक निर्देश दिए। उनके साथ कनिष्ठ अभियंता आरपी शाह व अन्य स्थानीय अधिकारी भी वहां मौजूद रहे। कार्यपालन यंत्री राम अवतार कौशिक ने बताया कि जलाशय में सम्बंधित पंप का पुनर्निर्माण कराया जाएगा। इस काम की गुणवत्ता को लेकर अधीनस्थ अभियंता व तकनीकी टीम के कार्मिकों को विशेष रूप से पाबंद किया गया है। उन्होंने बताया कि जलाशय के क्षतिग्रस्त हिस्से का निर्माण शीघ्र पूरा कराया जाएगा ताकि मानसून में व इसके बाद जल वितरण व्यवस्था सुचारू चलाई जा सके।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

No stories found.
Top Hindi News Bhopal,Trending, Latest viral news,Breaking News - Raj Express
www.rajexpress.co