सिंगरौली : एसडीएम ने 19 विक्रेताओं के प्रतिभूति राशि को किया राजसात
एसडीएम ने 19 विक्रेताओं के प्रतिभूति राशि को किया राजसातSyed Dabeer Hussain - RE

सिंगरौली : एसडीएम ने 19 विक्रेताओं के प्रतिभूति राशि को किया राजसात

सिंगरौली, मध्यप्रदेश : स्टाक होने के बावजूद 3 से लेकर 14 जुलाई तक 19 उचित मूल्य दुकानों के विक्रेताओं ने नहीं किया था खाद्यान्न वितरण।

सिंगरौली, मध्यप्रदेश। सिंगरौली 3 से 14 जुलाई तक हितग्राहियों को राशन न वितरण व दुकान न खोलने के कारण कलेक्टर राजीव रंजन मीना के निर्देश पर व क्षेत्रीय कनिष्ट आपूर्ति अधिकारी चितरंगी के प्रतिवेदन के आधार पर उपखण्ड अधिकारी नीलेश शर्मा ने 19 उचित मूल्य दुकान के विक्रेताओं की जमा 5-5 हजार रूपये प्रतिभूति राशि को राजसात कर तीन दिवस के अंदर जमा पावती कार्यालय में प्रस्तुत करने के लिए निर्देशित किया है।

एसडीएम के इस कार्रवाई से सरकारी उचित मूल्य दुकान के विक्रताओं में हड़कम्प मचा हुआ है। चितरंगी उपखण्ड अधिकारी ने बताया कि 14 जुलाई तक 19 विक्रेताओं ने राशन का वितरण नहीं किया। जबकि सभी दुकानों में माह जुलाई 2021 का नियमित खाद्यान का अग्रिम भण्डारण किया जा चुका था। हितग्राहियों से शिकायत मिली खाद्य निरीक्षक ने जांच किया तो आरोप सही पाया गया। जिस पर विक्रेताओं की जमा प्रतिभूति राशि 5-5 हजार राजसात की कार्रवाई की गयी।

इन विक्रेताओं की प्रतिभूति राशि हुई राजसात :

चितरंगी एसडीएम नीलेश शर्मा के अनुसार 14 जुलाई तक खाद्यान्न वितरण की प्रगति शून्य होने पर सरकारी उचित मूल्य दुकान खिरवा के विक्रेता भगवानदास बैस, कसर निर्दोष कुमार साहू, बरवाडीह नवीन रमेश सिंह, चिनगो व पतेरी मुलायम सिंह, सेमुआर बसंत कुमार, सुलखान कला राजेश कुमार बैस, झरकटिया पुष्पराज सिंह, डाला राजेन्द्र प्रसाद तिवारी, देवगांव संग्राम सिंह, करैला हरिकृष्ण बैस, खरकटा नारायण दास विश्वकर्मा, गीर परशुराम बैस, गेरूई प्रमिला सिंह, बरगवां महेन्द्र प्रताप सिंह, कुड़ैनिया राजकुमार सिंह, ठटरा रण प्रताप सिंह, गोपला झलेन्द्र प्रताप सिंह, क्योंटली-ए धर्मेन्द्र कुमार सिंह की 5-5 हजार रूपये प्रतिभूति राशि को राजसात कर दिया गया है।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

No stories found.
Top Hindi News Bhopal,Trending, Latest viral news,Breaking News - Raj Express
www.rajexpress.co