प्रदेश भर में सर्वाधिक कार्यवाही
प्रदेश भर में सर्वाधिक कार्यवाही|Shashikant Kushwaha
मध्य प्रदेश

शराब पीकर वाहन चलाने वालों पर प्रदेश भर में सर्वाधिक कार्यवाही

सिंगरौली, मध्यप्रदेश : शहर की यातायात पुलिस ने शराब पीकर वाहन चलाने वाले व्यक्तियों पर विगत 06 माह में प्रदेश भर में सर्वाधिक कार्यवाही की।

Shashikant Kushwaha

राज एक्सप्रेस। जिले में बढ़ रहे हादसों पर नियंत्रण करने के उद्देश्य से सिंगरौली पुलिस ने विशेष अभियान छेड़ा था। पुलिस के इस अभियान के तहत शराब पीकर वाहन चलाने वालों के खिलाफ शिकंजा कसना शुरू किया जा चुका है। सिंगरौली पुलिस अधीक्षक श्री अभिजीत रंजन के निर्देशन में सिंगरौली यातायात पुलिस ने शराब पीकर वाहन चलाने वाले व्यक्तियों पर विगत 06 माह में प्रदेश भर में सर्वाधिक कार्यवाही की ।

अल्प अवधि में कई कार्यवाही :

हमारे देश भारत में यातायात नियम बनाये तो हर व्यक्ति के लिए गये हैं लेकिन इनका पालन बहुत कम लोग ही करते हैं। ऐसे में यदि सावधानी के साथ इन नियमों का पालन करते हुए लोग सड़कों में यात्रा करें तो अपने साथ कई लोगों का जीवन सुगम बना सकते हैं। पुलिस अधीक्षक श्री अभिजीत रंजन के प्रभावी निर्देशन में यातायात पुलिस ने गतवर्ष 2019 में माह जुलाई से दिसंबर के बीच 06 महीने के अल्प अन्तराल में शराब पीकर वाहन चलाने वाले चालकों के विरुद्ध लगातार विशेष अभियान चलाया।

सर्वाधिक चालकों पर कार्यवाही :

नशे में चूर इन वाहन चालकों के विरुद्ध यातायात पुलिस सिंगरौली ने प्रदेश भर मे सर्वाधिक वाहनों पर कार्यवाही की, जिसमें कुल 612 प्रकरण तैयार कर माननीय न्यायालय सिंगरौली के समक्ष पेश किये गए।

लाइसेंस जप्त की कार्यवाही :

माननीय उच्चतम न्यायालय के निर्देशानुसार इस समयावधि में यातायात पुलिस ने लाईसेंस निलंबन हेतु नशे में चलने वाले वाहन चालकों के ड्राईविंग लाईसेंस भी जप्त किए। बताते चलें कि आए दिन होने वाले हादसों का मुख्य कारण शराब पीकर वाहन चलाना माना जाता है अधिकतर हुई दुर्घटनाओं में जो बात निकल कर सामने आती है उसमें प्रमुख कारक शराब पीकर वाहन चलाना ही होता है ऐसे में सिंगरौली पुलिस के द्वारा की जा रही कार्यवाही को उचित कहना गलत नहीं होगा।

लाइसेंस हुए निरस्त :

कुल 311 ड्राईवरों के लाईसेंस ट्रेफ़िक पुलिस ने जिला परिवहन कार्यालय द्वारा निरस्त कराये, शेष चालकगण जो बिना लाईसेंस गाड़ी चलाते मिले थे उनके विरुद्ध मोटरयान अधिनियम के तहत माननीय कोर्ट द्वारा जुर्माना अधिरोपित किया गया। चूंकि नशे की हालत में वाहन और वाहन की गति दोनों पर नियन्त्रण करना कठिन हो जाता है जो सड़क दुर्घटनाओं का एक प्रमुख वजह बन जाती है सिंगरौली एस पी के निर्देशन में यातायात पुलिस द्वारा की गई लगातार कार्यवाही से 06 माह में सड़क दुर्घटनाओं की संख्या में कमी आई है।

वाहन चालकों के विरुद्ध अभियान जारी :

वर्तमान में भी शराब पीकर गाड़ी चलाने वाले चालकों के विरुद्ध यह अभियान चलाया जा रहा है, ट्रेफ़िक प्रभारी अजयप्रताप सिंह व उनकी टीम दिन के साथ-साथ रात्रि 10 बजे से 2 बजे के बीच बस, ऑटोरिक्शा, प्राइवेट कार, लोडिंग वाहन, मालवाहक ट्रकों/ट्रेलर्स के ड्राईवरों को ब्रेथ एनालाईजर्स से चेक कर पॉजिटिव पाए जाने पर कार्यवाही कर रही है।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Raj Express
www.rajexpress.co